Subscribe Now

* You will receive the latest news and updates on your favorite celebrities!

Trending News

Latest posts

Biggest cause of impatience among Youth
Blogs

फिल्मो की देन युवा हुए बैचेन 

कागभुसंड – विष्णुजी के वाहन गरुड़ की तरह एक जीव जिसके ऊपर का शरीर काग का है। कागभुसंड बनने से पहले वह आत्मा मनुष्य शरीर में थी और तब उनके प्रदेश में अकाल पड़ गया था। जवान होने के कारण कागभुसंड तो बच गए पर…

Will God save women from social evil like he saved Draupadi?
Blogs

क्या आज भी भगवान बहन बेटियों को द्रौपदी की तरह बचा सकता है? 

बलात्कार की घातक वारदातें दिनों-दिन फैल रही हैं जिन्हें रोक पाने में सरकार और समाज दोनों निष्फल दिख रहे हैं । दुष्कर्मी लोग बलात्कार के बाद अपना गुनाह छिपाने के लिए पीड़िता को जान से मार देते हैं। मनुष्य के भीतर छुपकर बैठी हैवानियत कब…

true worship
Blogs

Recognize the True Worship! 

All living being wants to have the best food, beautiful clothes & peaceful place to live without doing any work, the most civilised human being always in search of the above but all these things are not possible without true worship. Kabir Saheb is the…

spiritual leader sant rampal ji ,spiritual leader,spiritual teacher
Blogs

All Gurus are not the same! 

During break time Some people were sitting on the table near me and talking among themselves and sharing their thoughts on various topics from films to filmstars, politics, politicians,GST,GDP and Indian Saints. Nobody seemed happy with the saints of India. One guy said insidious words…

Plan for your good future
Blogs

Plan For Your Good Future 

When you are planning to go out for vacations you plan many things such as a good place you would like to visit, the distance,the means of mode, the weather and many other things. You make sure everything should be smoothly planned .You apply for…

सन्त रामपाल जी महाराज के जेल जाने का कारण
Blogs

संत रामपाल जी महाराज के जेल जाने के पीछे का कारण 

    “जेल” शब्द अगर किसी मनुष्य के चरित्र से जुड़ जाता है तो उसकी गरिमा पर सवाल उठने लगते है, और बदनामी का दाग लग ही जाता है! किसी व्यक्ति के जेल जाने के बाद उसे घृणा या संदेह कि निगाह से देखा जाना…