Vienna Terror Attack: यूरोपीय देश ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना शहर के रेस्तरां, कैफे और सिनानॉग अर्थात यहूदी उपासना गृह सहित कुल 6 जगहों पर हथियारबंद लोगों ने भीषण गोलीबारी को अंजाम दिया। यह घटना सोमवार को स्थानीय समयानुसार रात्रि 8 बजे की बताई जा रही है।

Contents hide

Vienna Terror Attack के मुख्य बिंदु

  • आतंकी हमले के कारण वियना शहर के महत्वपूर्ण इलाकों की सुरक्षा बड़ाई गई
  • वियना पुलिस ने एक हमलावर को ढेर किया
  • ऑस्ट्रिया पर ये आतंकी हमला लॉकडाउन लगने से पहले हुआ
  • सम्भावित तौर पर यह एक यहूदी विरोधी हमला था “चांसलर सेवेस्टियन क़ुर्ज़”
  • वियना आतंकी हमले में 1 हमलावर सहित 7 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है
  • बंदूकधारी हमलावरों ने बरसाईं अंधाधुंध गोलियां
  • वियना में हुए आतंकी हमले पर भारत, अमेरिका, फ्रांस सहित अन्य देशों के प्रमुखों ने दुःख प्रकट किया
  • सद्भक्ति से ही पुनः शांति (कलयुग में सतयुग जैसे माहौल) की स्थापना होगी पवित्र शास्त्र भी यही प्रमाणित करते हैं

Vienna Terror Attack में 7 लोगों की मृत्यु और कई घायल

ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हथियारबंद नकाबपोश हमलावरों द्वारा किये गए इस हमले में 6 देशवासियों के मरने की खबर आई है तथा 1 हमलावर के मरने की भी पुष्टि वियना पुलिस के द्वारा की गई है। 1 हमलावर को मार गिराने पर चांसलर क़ुर्ज़ द्वारा पुलिस की प्रशंसा भी की गई और उन्होंने कहा कि हम आतंकवाद से डरेंगे नहीं, बल्कि डटकर मुकाबला करेंगे। वियना के मेयर माइकल लुडविग ने कहा कि इस आतंकी हमले में घायल 15 लोगों को चिकित्सालय में भर्ती भी कराया गया है, जिनमें से 7 की हालत गम्भीर बताई जा रही है।

Vienna Terror Attack: हमलावरों ने की अंधाधुंध गोलीबारी

सीसीटीवी कैमरे में कैद एक वीडियो फुटेज में स्पष्ट रूप से देखा गया है कि कैसे हमलावर हाथों में हथियार लिए सड़कों पर खुलेआम घूम रहे थे और लोगों पर सरेआम गोलीबारी कर रहे थे। एक चश्मदीद गवाह ने बताया कि उन्होंने खुद देखा कि बाहर बैठे लोगों पर कैसे हमलावर गोलियां चला रहे थे। हमलावर ने वहां करीब 100 राउंड फायर किए। एक निजी ब्रॉडकास्टर OE 24 द्वारा प्रसारित वीडियो फुटेज में एक नकाबपोश हमलावर को दिखाया गया जिसने कम से कम दो शॉट फायर किए।

भीषण नरसंहार की तैयारी में थे हथियारबंद हमलावर

जिस तरह से हथियारबंद नकाबपोश हमलावर खुलेआम गोलीबारी कर रहे थे तथा चारों तरफ खूनी मंजर दिखाई दे रहा था उससे तो यही लगता है कि हमलावर भीषण नरसंहार की तैयारी में थे। एक न्यूज कॉन्फ्रेंस में देश की जनता को सम्बोधित करते हुए ऑस्ट्रिया के गृहमंत्री कार्ल नेहमर ने कहा कि एक हमलावर भारी मात्रा में हथियारों से लैस था और उसने विस्फोटक बेल्ट (Explosive belt) भी पहना था।

ऑस्ट्रिया में मध्यरात्रि को लगने वाला था लॉकडाउन

वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण देशव्यापी कर्फ्यू लॉकडाउन सोमवार की मध्यरात्रि को लागू होने वाला था। लॉकडाउन लागू होने के पहले स्थानीय समयानुसार रात्रि 8 बजे यह घटना घटी।

इस आतंकी हमले के बाद विशेष सावधानी बरतने की दी सलाह

एक न्यूज कॉन्फ्रेंस में देश को सम्बोधित करते हुए ऑस्ट्रिया के गृहमंत्री कार्ल नेहमर ने ऑस्ट्रिया के देशवासियों से अपील की सभी देशवासी घर के अंदर ही रहें। साथ ही अभिभावकों से कहा कि वह मंगलवार को बच्चों को विद्यालय न भेजें।

वहीं पुलिस ने भी ट्वीट कर वियना के निवासियों से अपील करके हमले के प्रति सावधानी बरतने की सलाह दी और लोगों को सावधानी बरतने के साथ-साथ अफवाहों से दूर रहने को भी कहा पुलिस ने कहा कि “कृपया किसी भी तरह की अटकलों, अफवाहों तथा आरोपों से दूर रहे हैं तथा इन्हें बिल्कुल भी न देखें। अपने घरों के अंदर रहें, सार्वजनिक स्थलों से दूर रहें।

Vienna Terror Attack में इस्लामिक आतंकी संगठन के होने की आशंका

ऑस्ट्रियाई गृहमन्त्री कार्ल नेहमर ने ऑस्ट्रिया में हुए हमलों के पीछे इस्लामिक संगठन के हाथ होने का आरोप लगाया। उन्होंने वियना में हुए हमलों पर दुःख जताते हुए कहा कि इस हमले में इस्लामिक आतंकी शामिल है। इस हमले में शामिल एक हमलावर भारी मात्रा में हथियारों से लैस था और उसने विस्फोटक बेल्ट (Explosive Belt) भी पहना हुआ था वह इस्लामिक आतंकी था।इस भीषण आतंकी हमले के बाद भारत, फ्रांस, अमेरिका समेत अन्य देशों के प्रमुखों के बयान

फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने कहा: हम झुकेंगे नहीं

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हुए आतंकी हमले की कड़ी निंदा की और इस भीषण गोलीबारी में घायल हुए लोगों के लिए दुःख भी जताया तथा उन्होंने कहा कि फ्रांस के बाद, हमारे एक मित्र देश पर हमला हुआ। यह हमारा यूरोप है। हमारे दुश्मनों को पता होना चाहिए कि वे किससे लड़ रहे हैं। हम झुकेंगे नहीं।

भारत ऑस्ट्रिया के साथ खड़ा है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हुए इस आतंकी हमले पर दुःख प्रकट किया और इस हमले की निंदा करते हुए कहा कि भारत ऑस्ट्रिया के साथ खड़ा है। मोदी ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा:

”वियना में कायराना आतंकी हमले से स्तब्ध और दुःखी हूं। इस घड़ी में भारत, ऑस्ट्रिया के साथ खड़ा है। मेरी संवेदनाएं पीड़ितो और उनके परिजनों के साथ हैं।”

11 नबम्बर तक भारत में ऑस्ट्रियाई दूतावासों को बंद करने का आदेश दिया गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प ने इस हमले पर जताया दुःख

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी इस घटना पर दुःख जताया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के हमलों को रोका जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यूएस, ऑस्ट्रिया, फ्रांस और पूरे यूरोप में कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में खड़ा है।

आतंकवाद/हिंसा के खिलाफ एकजुट होना चाहिये: जो बिडेन

अमेरिकी डेमोक्रेटिक प्रेसिडेंशियल उम्मीदवार जो बिडेन ने भी इस हमले पर दुःख जताया है और इस हमले की कड़ी निंदा की तथा कहा कि हम सभी को नफरत और हिंसा के खिलाफ एकजुट होना चाहिए।

सद्भक्ति के अभाव में मानवता पतन की ओर अग्रसर

आज देश-दुनिया कई प्रकार के संकटों से जूझ रही है जैसे कि भूखमरी, आतकंवाद, आये दिन सुनने में आती रहती हैं। बलात्कार की घटनाएं, चोरी, लूट तथा रिश्वतखोरी की घटनाएं भी हो रही हैं। इन घटनाओं को सुनने के बाद तथा देखने के बाद ऐसा लगता है कि मनुष्य योनि में भी इंसानों की बुद्धि पशु तुल्य हो चुकी है और इस प्रकार की सोच पर सद्भक्ति से ही विराम चिन्ह लगाया जा सकता है, तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज द्वारा दी हुई सद्भक्ति में ही वह क्षमता है जिससे पशु तुल्य मानसिकता को मनुष्य तुल्य बनाया जा सकता है।

सतगुरु पशु मानुष करि डारै, सिद्धि देय कर ब्रह्म बिचारैं।

इन सभी घटनाओं का एक ही समाधान है सद्भक्ति। सद्भक्ति करने से ही मानव देव तुल्य हो जाता है तथा फिर वह कभी भी इस प्रकार के घृणित कार्य करने की तथा किसी को हानि पहुंचाने की सोचता भी नहीं है।

“कबीर, बलिहारी गुरु आपना, घड़ी-घड़ी सौ-सौ बार।
मानुष से देवता किया, करत न लाई बार।।”

सद्भक्ति करने से पुनः एक सभ्य समाज का निर्माण होगा, कलयुग में भी सतयुग जैसा वातावरण होगा। सभी मानव जाति के लोग एक-दूसरे को पवित्र तथा समान दृष्टि से देखेंगे।

“सुखी होगा हर इंसान, धरती बनेगी स्वर्ग समान।”

संत रामपाल जी महाराज के अद्वितीय तत्वज्ञान से पुनः सतयुग जैसी शांति स्थापित होगी। संत रामपाल जी महाराज के तत्वज्ञान से कैसे शांति स्थापित होगी? संत रामपाल जी महाराज ही पूरे विश्व में एकमात्र ऐसे संत हैं जो अपने अद्वितीय ज्ञान की विचारधारा से इस भयावह अशांति को खत्म कर सुख-शांति की नींव रखेंगे और एक नई विचारधारा जन्म लेगी। जिसका सभी धर्म/मजहब/पंथ अनुसरण करेंगे।

पूर्ण परमात्मा कविर्देव शांतिदायक और नम्र स्वभाव वाला है सर्व दुःखों/रोगों/पापों का हरण करने वाला वही पूर्ण परमेश्वर है यजुर्वेद अध्याय 5 के मन्त्र 32 से यही प्रमाणित होता है

गरीब, अनन्त कोटि ब्रह्माण्ड का, एक रति नहीं भार।
सतगुरु पुरुष कबीर हैं, कुल के सृजनहार।।

पूर्ण परमात्मा कविर्देव जी अपनी वाणी में बताते हैं कि किसी भी मनुष्य के प्रति शत्रुता का भाव नहीं रखना चाहिए क्योंकि हम सभी जीव एक ही पूर्ण परमात्मा की संतानें तो फिर आपस में बैर भाव किसलिये।

संत रामपाल जी महाराज जी से निःशुल्क नाम दीक्षा प्राप्त करें

मनुष्य जीवन में वास्तविक सद्भक्ति से परिचय हेतु विजिट करें “सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल” तथा संत रामपाल जी महाराज के द्वारा लिखित पुस्तक “ज्ञान गंगा का अवश्य अध्ययन करें। मनुष्य जीवन में सर्व दुःखों से पूर्णतः छुटकारा पाने के लिए तथा मनुष्य जीवन को सफल बनाने के लिए आज ही संत रामपाल जी महाराज जी से निःशुल्क नाम दीक्षा प्राप्त करें।

यह संसार समझंदा नाहीं, कहंदा शाम दोपहरे नूं।
गरीब दास यह वक्त जात है, रोवोगे इस पहरे नूँ।।