UP lockdown Extension News Hindi Update: राज्य में 32 हजार से भी अधिक कोरोना के मरीज सामने आ चुके हैं और 862 लोगों की जानें भी गईं हैं। बढ़ते केसों को मद्देनजर रखते हुए सरकार ने फिर से लॉकडाउन की घोषणा की है ।

मुख्य बिंदु

  • उत्तर प्रदेश में बढ़ते कोरोना केसों को मद्देनजर रखते हुए लॉकडाउन की घोषणा की।
  • रात 10 बजे से 55 घण्टे तक पूरा लॉकडाउन होगा।
  • मेडिकल स्टोर व स्वास्थ्य सेवाओं के साथ पेट्रोल पंप व हाइवे पर स्थित ढाबे खुलेंगे।
  • सब्जी मण्डी, सभी दफ्तर, बाजार और कारोबारी संस्थान बंद रहेंगे।
  • आवश्यकता पड़ने पर बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन पर इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं।

10 बजे से लगेगा UP में लॉकडाउन

UP lockdown Extension News Hindi: बढ़ते कोरोना के केसों के कारण उत्तर प्रदेश अनलॉक-2 के दौरान ही आज रात से 13 जुलाई तक लॉकडाउन की घोषणा की है। हालांकि चिकित्सकीय सेवाएं यथावत रहेंगी और कुछ अन्य आवश्यक सेवाएं जैसे डोरस्टेप डिलेवरी आदि भी चलती रहेंगी। रोडवेज की केवल इतनी व्यवस्था होगी कि यात्री रेलवे स्टेशन तक पहुँच जाएं।

माल वाहकों पर प्रतिबंध नहीं

माल ढोने वाले वाहनों पर कोई प्रतिबंध नहीं है। तथा राष्ट्रीय व राजकीय मार्गो पर आवाजाही पर प्रतिबंध नहीं है। पेट्रोल पंप व ढाबे भी खुले रहेंगे। घरेलू व राष्ट्रीय हवाई सेवाएं व रेलवे सेवाएं भी यथावत रहेंगी। आवश्यक सेवाओं से जुड़े व्यक्तियों, कोरोना वारियर, स्वच्छता कर्मी, डोर स्टेप डिलीवरी से जुड़े व्यक्तियों पर कोई प्रतिबंध नहीं होगा।

सब्जी मंडी व बाजार रहेंगे बंद

सभी शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों की सब्जी मण्डियां, बाजार, कारोबारी कम्पनियां, उद्योग एवं दफ्तर बंद रहेंगे। कोरोना के फैलाव पता करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। सरकार ने इनके लिए गाइड लाइन्स भी जारी कर दी हैं।

सरकारी कार्य नहीं रुके इसलिए 10 बजे से लिया निर्णय

सरकारी कामकाज को प्रभावित न करते हुए शुक्रवार रात 10 बजे से लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है। द्वितीय शनिवार और रविवार सरकारी अवकाश रहना ही है। सोमवार को 5 बजे सुबह तक रोक रहेगी उसके बाद गतिविधियां सामान्य कर दी जाएंगी। इसी बीच स्वच्छता अभियान भी पूरा कर लिया जाएगा।

यह भी पढें: आठ पुलिस वालों का हत्यारा विकास दुबे ढेर

10, 11 व 12 जुलाई को होगा वृहत अभियान

प्रदेश में स्वच्छता और सेनेटाइजेशन को लेकर मुख्य निर्देश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही जारी कर चुके हैं। इसके माध्यम से साफ सफाई और जल आदि व्यवस्थाओं को ठीक प्रकार सुचारू किया जाएगा। इस अभियान को लेकर सरकार गम्भीर है और प्रत्येक जिले में नोडल अधिकारियों को भेजा जा रहा है जो 12 जुलाई तक भ्रमण करके निरीक्षण करेंगे व वहीं रहेंगे।

सावधानी की पूरी है कोशिश पर क्या है हल

कोविड -19 से निपटने के लिए सरकार से लेकर आम आदमी तक सावधानी बरत रहा है। इस बीमारी से पूरी तरह नहीं बचा जा सकता क्योंकि यह तो हमारे बीच ही है । ऐसी महामारियों से छुटकारा सतभक्ति से मिल सकता है। नहीं, वह भक्ति नहीं जो मंदिर जाकर या जागरण में होती है बल्कि वह भक्ति जो वेदों में पूर्ण तत्वदर्शी सन्त के मार्गदर्शन में वर्णित है। वर्तमान में पूर्ण तत्वदर्शी सन्त रामपाल जी महाराज हैं जिन पर शास्त्रों के सभी प्रमाण सही उतरते हैं यहां तक कि अनेको प्रसिद्ध भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणी भी सही उतरती है कि भारत को विश्वगुरु वे ही बनाएंगे।

वास्तव में शास्त्रों को खोलकर उसका अर्थ समझाने वाले पहले सन्त हैं सन्त रामपाल जी महाराज जिनके तत्वज्ञान ने अनेकों सामाजिक सुधार भी कर दिए हैं। वेदों के अनुसार पूर्ण परमात्मा साधक के सभी पापों का नाश करके उसे 100 वर्ष का जीवन प्रदान करता है। पूर्ण परमात्मा की भक्ति तभी होगी जब पूर्ण तत्वदर्शी सन्त से नामदीक्षा ली हो। जानकारी के लिए बता दें कि तत्वदर्शी सन्त एक समय में एक ही होता है। सन्त रामपाल जी महाराज के सत्संग प्रतिदिन विभिन्न टीवी चैनलों पर प्रसारित होते हैं। वहां देखिए और मुफ्त पुस्तक ज्ञान गंगा ऑर्डर करें और अनमोल ज्ञान समझें तथा सन्त रामपाल जी से नामदीक्षा लेकर अपना कल्याण करवाएं क्योंकि ये महामारी, भुखमरी, अपराध, रुदन और क्रंदन से केवल सन्त रामपाल जी महाराज द्वारा दी गई सतभक्ति बचा सकती है।