यूपी बोर्ड 10वीं, 12वीं परीक्षा परिणाम 2024 घोषित! (UP Board 10th, 12th Exam Results 2024 Declared!)

spot_img

Last Updated on 20 April 2024 IST: UP board 10th 12th result 2024: बीते दिनों उत्तरप्रदेश में दसवीं एवं बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं समाप्त हुई थीं। जिसका रिजल्ट जल्द ही आने वाला है। आपको बता दें कि कक्षा बारहवीं की परीक्षाएं 22 फरवरी से लेकर 09 मार्च तक आयोजित की गईं थीं। इस बार यूपी बोर्ड की परीक्षा के लिए 55 लाख से अधिक छात्र छात्राओं ने अपना पंजीयन कराया था। 75 जिलों में बोर्ड परीक्षा के लिए परीक्षा केन्द्र बनाए गए थें जिसमें कक्षा बारहवीं की परीक्षाएं 22 फरवरी से लेकर 09 मार्च तक आयोजित की गईं थीं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) ने आज यानी 20 अप्रैल 2024 को 10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए हैं।

  • हाईस्कूल (कक्षा 10वीं) का कुल पास प्रतिशत: 89.55%
  • इंटरमीडिएट (कक्षा 12वीं) का कुल पास प्रतिशत: 82.60%
  • हाईस्कूल में लड़कियों का पास प्रतिशत लड़कों से अधिक रहा।
    • लड़कियों का पास प्रतिशत: 93.40%
    • लड़कों का पास प्रतिशत: 86.05%
  • इंटरमीडिएट में भी लड़कियों का पास प्रतिशत लड़कों से अधिक रहा।
    • लड़कियों का पास प्रतिशत: 88.42%
    • लड़कों का पास प्रतिशत: 77.78%

UP board 10th 12th result 2024: उत्तरप्रदेश बोर्ड का रिजल्ट जल्द ही घोषित होगा जिसकी जानकारी बोर्ड द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के ज़रिए दे दी गई हैं। अधिक संभावना है कि ये रिजल्ट 19 अप्रैल के बाद घोषित किए जाएं। रिजल्ट आने की संभावना 20 अप्रैल को है जो आगे भी बढ़ाई जा सकती है। इसकी सूचना आधिकारिक रूप से नहीं दी गई है। रिजल्ट घोषित होने के तुरंत बाद छात्र स्वयं उत्तरप्रदेश बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना परीक्षा परिणाम देख सकेंगे।

छात्र अपना रिजल्ट यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइटों https://upresults.nic.in/ और https://upmsp.edu.in/ पर देख सकते हैं।

परिणाम देखने के लिए आपको अपना रोल नंबर और अन्य आवश्यक विवरण दर्ज करना होगा।

यदि आपको अभी तक अपना रिजल्ट देखने में कोई परेशानी आ रही है, तो आप थोड़ी देर बाद फिर से प्रयास कर सकते हैं। कभी-कभी भारी ट्रैफिक के कारण वेबसाइट धीमी हो सकती है।

आप यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर किसी भी अपडेट के लिए बने रह सकते हैं।

स्क्रूटिनी:

  • यदि आप किसी विषय में प्राप्त अंकों से संतुष्ट नहीं हैं, तो आप स्क्रूटिनी के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए, आपको निर्धारित शुल्क के साथ आवेदन करना होगा। स्क्रूटिनी में आपकी कॉपी का पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा।स्क्रूटिनी के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 25 मई, 2024 है।स्क्रूटिनी शुल्क प्रति विषय ₹500 है।

कम्पार्टमेंट परीक्षा:

  • जो छात्र 10वीं या 12वीं की परीक्षा में अनुत्तीर्ण हो गए हैं, वे कम्पार्टमेंट परीक्षा में भाग ले सकते हैं। कम्पार्टमेंट परीक्षा की तारीखें जल्द ही घोषित की जाएंगी।

परिणाम में विवरण:

  • छात्र ऑफिशियल वेबसाइट से अपनी मार्कशीट डाउनलोड कर सकते हैं। मार्कशीट में छात्र का नाम, रोल नंबर, माता-पिता का नाम, जिला/स्कूल कोड, समूह कोड, प्रैक्टिकल अंक, थ्योरी अंक, कुल अंक, पूर्णांक, परिणाम और डिवीजन आदि विवरण शामिल हैं।

अतिरिक्त जानकारी:

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि 2024 में, यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं दोनों कक्षाओं के लिए आधिकारिक तौर पर टॉपर सूची जारी नहीं की है। हालांकि, कुछ समाचार स्रोतों ने दावा किया है कि उन्होंने स्वतंत्र रूप से मेरिट सूची तैयार की है।

इन स्रोतों के अनुसार, 10वीं कक्षा में कुछ शीर्ष छात्रों के नाम इस प्रकार हैं:

  • प्राची निगम (सीतापुर): 591 अंकों के साथ (98.50%)
  • दीपिका सोनकर: 590 अंकों के साथ (98.33%)
  • नव्या सिंह, स्वाति सिंह, दीपांशी सिंह सेंगर: 588 अंकों के साथ (98.00%)

12वीं कक्षा में, कुछ शीर्ष छात्रों के नाम इस प्रकार बताए गए हैं:

  • शुभम वर्मा (सीतापुर): 99.50% अंकों के साथ
  • शिवम सिंह: 99.25% अंकों के साथ
  • रोहित राज: 99.00% अंकों के साथ
  • यूपी बोर्ड का परिणाम देखने के लिए छात्रों को यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट upresults.nic.in पर विजिट करना होगा।
  • उसके बाद आप 12th Exam Result पर या 10th Exams Results पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने पर दिए गए स्थान पर अपना अनुक्रमांक (Roll Number) भरें।
  • परीक्षा का परिणाम सामने खुल कर आ जायेगा
  • परीक्षा परिणाम का स्क्रीनशॉट ले लें या प्रिंट करके सुरक्षित रख लें

 UP board 10th 12th result 2024: इस बार कक्षा 10 और 12 में ग्रेडिंग सिस्टम रखा गया है। यह A1 से लेकर E2 तक है। A1 सबसे उत्कृष्ट है और E2 सबसे निचला ग्रेड है। व्यावहारिक विषयों के लिए ग्रेडिंग प्रणाली अलग है (A से E)। ग्रेड प्वाइंट का औसत सीजीपीए (CGPA) कहलाता है। सीजीपीए निकालने के लिए सारे विषयों के ग्रेड प्वाइंट को जोड़कर विषयों की कुल संख्या से विभाजित करना होगा। कितने अंकों में कौन सा ग्रेड मिलेगा यह तालिका नीचे दी जा रही है। किसी भी परीक्षा को उत्तीर्ण करने के लिए छात्रों को समग्र विषयों तथा व्यक्तिगत स्तर पर चुने गए विषयों में कुल 33% अंक आने अनिवार्य हैं। 

अंकग्रेड
91-100A1
81-90A2
71-80B1
61-70B2
51-60C1
41-50C2
33-40D
21-32D1
21 से कमD2

UP board 10th 12th result 2024: उत्तरप्रदेश दसवीं बारहवीं बोर्ड की परीक्षा पास करने के लिए विद्यार्थी को कम से कम 33 फ़ीसदी अंक लाना अनिवार्य है जिसमे प्रत्येक विषय में न्यूनतम 33 अंक प्राप्त करने होंगे तब वे परीक्षा में पास माने जाएंगे। चूंकि किसी भी विषय में 100 में से 33 अंक लाने आवश्यक हैं तो इससे कम अंक लाने पर विद्यार्थी को अनुत्तीर्ण घोषित किया जाएगा। अनुत्तीर्ण होने की स्थिति में विद्यार्थियों को सप्लीमेंट्री/ कंपार्टमेंट परीक्षा में भाग लेना होगा। इसकी सूचना भी परीक्षा परिणाम की घोषणा के साथ ही दी जाएगी। दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों को भी 33 फीसदी अंक अनिवार्य होंगे तथा आंतरिक परीक्षा में उत्तीर्ण होना भी आवश्यक होगा।

■ Also Read: GATE 2024 Admit Card Out | Know How to Download the Admit Card

परीक्षा में अनुत्तीर्ण या उत्तीर्ण होना ही सबकुछ नहीं है। जीवन में केवल दसवीं बारहवीं परीक्षा देना ही सबकुछ नहीं है। लेकिन आवश्यक है कि भविष्य निर्माण के लिए इसे उत्तीर्ण किया जाए। लगातार प्रयास से जीवन में सफलता हासिल की जा सकती है। जीवन में आवश्यक है कि “लक्ष्य तक पहुंचे बिना पथ पर पथिक विश्राम कैसा” की अवधारणा पर कार्य किया जाए। प्रयास करते करते ज्ञान अर्जित किया जा सकता है। 

जीवन की विद्यालयी शिक्षा जीवन के व्यवसाय, व्यापार, धन अर्जन और जीवन के निर्वाह के लिए आवश्यक है। लेकिन विद्यालयी शिक्षा के अतिरिक्त यदि मानव को आरंभ से ही आध्यात्मिक शिक्षा भी प्रदान की जाए तो उसके भौतिक और आध्यात्मिक दोनों प्रकार के लाभ सिद्ध होते हैं। आध्यात्मिक शिक्षा का अर्थ मंदिर जाने और मात्र धर्मग्रंथों के पाठ से नहीं है बल्कि तत्वज्ञान से है। तत्वज्ञान शास्त्रों पर आधारित भक्तिविधि होती है जो विधि का विधान बदल सकती है। समाज में फैले अज्ञानी धर्मगुरु कहते हैं विधि का विधान यानी भाग्य का लिखा नहीं बदल सकता जबकि वेद गवाही देते हैं कि भाग्य का लिखा पूर्ण परमात्मा मिटा सकता है। तत्वज्ञान जब बच्चों को बचपन से ही दिया जाता है तो वे न केवल अपने जीवन में सफल होते हैं बल्कि उनमें बेहतरीन आदतों और चरित्र का निर्माण होता है। 

वे कर्मठ, विद्वान और जिम्मेदार नागरिक बनते हैं। उनका यह लोक तो सुखी होता ही है साथ ही परलोक भी सिद्ध होता है। गीता अध्याय 15 श्लोक 1 से 4 तथा 16,17 में कहा है कि जो संत इस संसार रूपी पीपल के वृक्ष की जड़ों से लेकर तीनों गुणों रूपी शाखाओं तक सर्वांग भिन्न-भिन्न बता देता है। वह संत वेद के तात्पर्य को जानने वाला है अर्थात् वह तत्वदर्शी संत है। वर्तमान में एकमात्र तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज हैं। अधिक जानकारी के लिए विजिट करें संत रामपाल जी महाराज यूट्यूब चैनल

Latest articles

Modernizing India: A Look Back at Rajiv Gandhi’s Legacy on his Death Anniversary

Last Updated on 18 May 2024: Rajiv Gandhi Death Anniversary 2024: On 21st May,...

Rajya Sabha Member Swati Maliwal Assaulted in CM’s Residence

In a shocking development, Swati Maliwal, a Rajya Sabha member and chief of the...

International Museum Day 2024: Museums Are a Means of Cultural Exchange

Updated on 17 May 2024: International Museum Day 2024 | International Museum Day (IMD)...

Sunil Chhetri Announces Retirement: The End of an Era for Indian Football

The Indian sporting fraternity is grappling with a wave of emotions after Sunil Chhetri,...
spot_img

More like this

Modernizing India: A Look Back at Rajiv Gandhi’s Legacy on his Death Anniversary

Last Updated on 18 May 2024: Rajiv Gandhi Death Anniversary 2024: On 21st May,...

Rajya Sabha Member Swati Maliwal Assaulted in CM’s Residence

In a shocking development, Swati Maliwal, a Rajya Sabha member and chief of the...

International Museum Day 2024: Museums Are a Means of Cultural Exchange

Updated on 17 May 2024: International Museum Day 2024 | International Museum Day (IMD)...