MP Board Result 2023: पांचवीं और आठवीं कक्षाओं के परिणाम हुए जारी

spot_img

MP Board Result 2023: बोर्ड परीक्षाएं समाप्त होते ही अभयर्थी अपने परिणाम घोषित होने का इंतजार करने लगते हैं। इस वर्ष भी बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट का इंतजार सभी अभ्यर्थी और परिवारजन कर रहे हैं। एक ओर जहां पांचवी और आठवीं के परिणाम घोषित हो गए हैं वहीं दसवीं और बारहवीं के परीक्षा परिणामों का इंतजार है। आइए जानें परीक्षा परिणाम घोषित होने की तिथि और परिणाम चेक करने का आसान तरीका।

MP Board Result 2023: मुख्य बिंदु

  •  15 मई को मध्यप्रदेश शिक्षा विभाग द्वारा घोषित किया गया 5वीं – 8वीं का परिणाम
  • दोनों परिणामों में बेटियों न पलड़ा भारी
  • 10वीं – 12वीं के परिणाम प्रतीक्षा की कतार में

पांचवीं और आठवीं के परीक्षा परिणाम हुए घोषित

MP Board Result 2023 : मध्यप्रदेश की पांचवीं और आठवीं बोर्ड परीक्षा के परिणाम घोषित हो चुके हैं। मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने साढ़े बारह बजे प्रेस कांफ्रेंस के बाद एक बजे परिणामों को जारी करने की घोषणा की। उन्होंने सभी उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को शुभकामनाएं प्रेषित की हैं। एक बजे के बाद सभी अभ्यर्थी अपना परीक्षा परिणाम आधिकारिक वेबसाइट rskmp.in पर देख सकते थे। कक्षा 5 में 82.27 फीसदी अभ्यर्थी और कक्षा 8 में 76.09 फीसदी अभ्यर्थी पास हुए हैं।

MP Board Result 2023: दोनों परीक्षाओं में बेटियां रहीं अव्वल 

MP Board Result 2023 : जारी हुए पांचवीं और आठवीं के रिजल्ट में बेटियों ने बाजी मारी है। आठवीं के रिजल्ट में छात्रों का पासिंग प्रतिशत 73.46 रहा जबकि छात्राओं का प्रतिशत 78.86 प्रतिशत रहा है। कक्षा 5 के रिजल्ट में छात्रों का प्रतिशत 80.34 रहा जबकि छात्राओं का प्रतिशत 84.32 रहा। शिक्षा मंत्री ने बताया कि ग्रामीण छात्र भी पीछे नहीं रहे और उन्होंने भी अच्छा परिणाम दिया है। पांचवीं के रिजल्ट में 5 जिले जिनका रिजल्ट सबसे अच्छा रहा है वे क्रमशः शहडोल (90.2), जबलपुर (82.9), इंदौर (89), चंबल (87.8), नर्मदापुरम (84) प्रतिशत के साथ हैं। वहीं 8वीं में टॉप 5 जिले हैं डिंडोरी (95.87), नरसिंहपुर (95.40), अलीराजपुर (95.34), अनूपपुर(93.74), सीहोर(92.38)।

परिणाम चेक करने का आसान तरीका

  • सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट mpresults.nic.in या mpbse.nic.in पर जाएं
  • वेबसाइट पर MPBSE class 5 result या  MPBSE class 8 result पर क्लिक करें।
  • लॉग इन में वांछित जानकारी भरें।
  • रिजल्ट आपके सामने होगा इसे सेव करके रख लें।

जून में सप्लीमेंट्री परीक्षा की घोषणा

MP Board Result 2023 [Hindi]: मध्यप्रदेश के शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने सभी सफल बच्चों को बधाई दी और मध्यप्रदेश को एक ऐसा राज्य बताया जिसके पास परीक्षा परिणामों के आकलन का सबसे ज्यादा डाटा है। एमपी बोर्ड की परीक्षा में जो भी अभ्यर्थी उत्तीर्ण नहीं हो सके हैं उनके लिए शिक्षा मंत्री ने कहा कि वे निराश न हों क्योंकि जून में सप्लीमेंट्री परीक्षा आयोजित की जायेगी जिसके तहत उन्हें परीक्षा में बैठने और प्रयास करने का एक और मौका प्राप्त होगा।

■ Also Read: CUET UG 2023: Stepwise Guide to Download the CUET 2023 Exam City Slip

10वीं और 12वीं के रिजल्ट जल्द होंगे घोषित

MP Board Result 2023: अब सभी को दसवीं और बारहवीं के परीक्षा परिणामों की घोषणा का इंतजार है। एक बार घोषित होने के बाद उन्हें अधिकारिक वेबसाइट mpresults.nic.in या mpbse.nic.in पर देखा जा सकेगा। बताया जा रहा है कि मई माह में रिजल्ट घोषित हो सकते हैं।

MP Board Result 2023: परीक्षा परिणाम नहीं होते अंतिम

MP Board Result 2023 : विद्यार्थी जीवन में परीक्षाओं का परिणाम अच्छा आ गया है तब तो ठीक है किंतु किसी कारणवश यदि परिणाम अच्छा नहीं आया है तो इसके लिए अभिभावकों को और विद्यार्थियों को हतोत्साहित होने की अवश्यकता नहीं है। पहली बात तो यह कि ये परिणाम अंतिम नहीं हैं और दूसरी बात यह कि फिर से उठकर पुनः प्रयास करना डटे रहने का सूचक है न कि हार का। सफलता प्रति व्यक्ति अलग अलग समय पर और अलग अलग मेहनत और अलग अलग रुचि के हिसाब से तय होती है।

बच्चों में बोएं अध्यात्म के बीज

शिक्षा जीवन के लिए अत्यंत आवश्यक है और उतना ही आवश्यक है अध्यात्म ज्ञान। बच्चों में कच्ची मिट्टी की फितरत होती है। भविष्य के लिए इनकी दिशा निर्धारण का अभी सही समय है। आज के बच्चों को समझना चाहिए कि बेहतर भविष्य भक्ति में जुड़ने से है। भक्ति से अर्थ पाखंड कतई नहीं है और ना ही बिना तर्कों वाले अंधविश्वास से है। यहां इसका अर्थ शास्त्रों के अनुसार जीवन जी कर मोक्ष प्राप्त करने से है। 

ताकि भविष्य में आने वाली समस्याएं स्वतः ही नष्ट हो सके। भक्ति की कोई उम्र नहीं होती। 3 वर्ष से अधिक आयु का बालक भक्ति करने योग्य है। यहां इस बात पर बल दिया जा रहा है कि शिक्षा के साथ ही भक्ति को भी बच्चों के जीवन का हिस्सा बनाएं। संत रामपाल जी महाराज द्वारा लिखी पुस्तकें अपने बच्चों को दें। इन पुस्तकों की खासियत है कि ये हर आयु वर्ग के लोगों के लिए हैं और इनमें शास्त्रों को सरल भाषा में प्रभावी ढंग से समझाया गया है। अधिक जानकारी के लिए संत रामपाल जी महाराज एप डाउनलोड करें।

Latest articles

Kisan Andolan 2024 [Hindi] | किसान आंदोलन का ‘दिल्ली चलो’ मोर्चा हुआ आरम्भ 

Kisan Andolan 2024 | किसानों और सरकार के मध्य सोमवार को हुई बैठक में...

Saraswati Puja 2024 [Hindi]: क्या है ज्ञान और बुद्धि प्राप्त करने की सही भक्ति विधि?

Last Updated on 14 February 2024 IST | हिंदू पंचाग के अनुसार माघ माह...

Ascertain the Importance of True Spiritual knowledge on Basant Panchami 2024

Last Updated on 14 February 2024 IST: Basant Panchami 2024 (Vasant Panchami): Everyone celebrates...
spot_img

More like this

Kisan Andolan 2024 [Hindi] | किसान आंदोलन का ‘दिल्ली चलो’ मोर्चा हुआ आरम्भ 

Kisan Andolan 2024 | किसानों और सरकार के मध्य सोमवार को हुई बैठक में...

Saraswati Puja 2024 [Hindi]: क्या है ज्ञान और बुद्धि प्राप्त करने की सही भक्ति विधि?

Last Updated on 14 February 2024 IST | हिंदू पंचाग के अनुसार माघ माह...