Earthquake Today India: जब-जब कुदरत ने कहर बरपाया, तत्वदर्शी संत ने ही मानव को बचाया

spot_img
spot_img

Earthquake Today India: अभी हरियाणा के रोहतक में मंगलवार सायं भूकंप के झटकों के डर से लोग बाहर निकल नहीं पाए थे कि बुधवार की सुबह पूर्वोत्तर के कई इलाकों में भूकंप के तेज झटके आए हैं। सुबह लगभग 8 बजे महसूस किए गए इन झटकों से लोग दहशत में है। तेजपुर के निकट रिक्टर पैमाने पर 6.4 तीव्रता वाला भूकंप है। ये झटके उत्तरी बंगाल, बिहार समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में भी महसूस किए गए। 

Earthquake Rohtak & Tezpur 2021: सम्बंधी कुछ खास बातें

  • असम में बुधवार सुबह लगभग 8 बजे भूकंप के तेज झटके, रिक्टर स्केल पर तीव्रता 6.4
  • असम, उत्तरी बंगाल, बिहार समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में भूकंप के झटके, लोग दहशत है
  • हरियाणा के रोहतक में भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.0 मापी गई है
  • पूर्ण संत रामपाल जी महाराज की शरण ग्रहण कर अपने आप को सुरक्षित महसूस कीजिये
  • पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी के आगे काल भी अपना रुख बदल देता है

Earthquake Today India: असम सहित पूरे पूर्वोत्तर में भूकंप

बुधवार की सुबह असम के कई इलाकों में भूकंप के तेज झटके आए हैं।  सुबह 7:51 बजे महसूस किए गए इन झटकों से लोग दहशत में है। अपने को असुरक्षित समझकर बड़ी संख्या में लोग अपने घरों से बाहर आ गए।  राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (National Center for Seismology) के अनुसार असम के सोनितपुर, तेजपुर के निकट रिक्टर पैमाने पर 6.4 तीव्रता वाला भूकंप आया है। पहला झटका तेजपुर से पश्चिम की ओर 43 किलोमीटर पर केंद्रित था। बाद में छोटे कई झटके महसूस किए गए। इन झटकों का असर उत्तरी बंगाल, बिहार समेत पूर्वोत्तर के कई राज्यों में भी महसूस किया गया। इमारतों और सड़कों में टूट-फूट, दरार और जन मानस को चोटें लगने की खबरें भी  है। असम के मंत्री हिमंत बिस्व सरमा (Himanta Biswa Sarma) ने ट्वीट करके भूकंप को रिक्टर स्केल पर 6.7 बताया है।   

Rohtak Earthquake 2021: रोहतक भूकंप की पूरी जानकारी 

Earthquake Today India: हरियाणा के रोहतक से 14 किलोमीटर दूर किलोई गांव में मंगलवार देर सायं करीब 7 बजकर 10 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए। इस भूकंप में किसी के आहत होने की पुष्टि नहीं हुई। कुछ दिनों पहले भी यहां भूकंप के झटके महसूस किए गए थे जो रिक्टर स्केल पर 2.5 की तीव्रता से भूकंप आया था। रोहतक-झज्जर डिजास्टर मैनेजमेंट के डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट ऑफिसर के अनुसार कम तीव्रता वाले भूकंप के झटके रोहतक में लगे उपकरणों में पकड़े नहीं जा सकते हैं। केवल तीन रिक्टर से ज्यादा तीव्रता वाले झटकों की जानकारी यहाँ मिल पाती है । उनके अनुसार पिछले वर्ष मई-जून महीनों में कई बार भूकंप के झटके रिकॉर्ड किए गए थे। 

Earthquake Today: दिल्ली, राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र, हरियाणा के निकट हैं पांच फॉल्ट लाइन

दिल्ली स्थित भारत सरकार के पृथ्वी मंत्रालय के राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ गौतम के अनुसार रोहतक में बार बार भूकंप आने का एक महत्वपूर्ण कारण आपस में प्लेट के टकराने से फॉल्ट लाइन के जाल पर असर पड़ता है। ऐसे समय में फॉल्ट लाइन की दरारें भी हिलनी शुरू हो जाती हैं। उनका कहना है कि दिल्ली, एनसीआर और हरियाणा के पास पांच फॉल्ट लाइन अर्थात रिज (धरती के अंदर उभरा हुआ क्षेत्र) हैं। जब कभी भी प्लेट बाउंड्री (दो प्लेट का ज्वाइंट) में किसी प्रकार की हलचल होती है उस समय रिज क्षेत्र में अंतर देखने में आता है। हरियाणा के भूकंप के दृष्टिकोण से बारह जनपद संवेदनशील हैं। जॉन-चार के जनपद सबसे ज्यादा संवेदनशील हैं, जॉन-तीन कम और जॉन-दो बहुत कम संभावना वाले हैं।

Also Read: दिल्ली-NCR में फिर भूकंप, 24 घंटे में दूसरी बार महसूस किए गए झटके

Earthquake Today India: भूकंप आने पर क्या है बचाव के उपाय?

  • भूकंप के दौरान लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वो पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह से बचें, ऐसे में स्थिति और बुरी हो सकती है।
  • घर, कार्यालय अथवा किसी भी बिल्डिंग के भीतर से बाहर निकलकर खुले में आ जाएं।
  • भूकंप के समय खुला मैदान सबसे अधिक सुरक्षित होता है ।
  • किसी इमारत के आस-पास न खड़े हों।
  • अगर आप ऐसी बिल्डिंग में हैं, जहां लिफ्ट हो तो लिफ्ट का इस्तेमाल न करें। ऐसी स्थिति में सीढ़ियों का इस्तेमाल ही बेहतर होता है।
  • सभी बिजली के बिंदु बंद कर कर दें, इमारत के दरवाजे और खिड़की को खुला रखें।
  • अगर बिल्डिंग बहुत ऊंची हो और तुरंत उतर पाना मुमकिन न हो तो बिल्डिंग में मौजूद किसी मेज, ऊंची चौकी या बेड के नीचे छिप जाएं।
  • अगर आप भूकंप के दौरान वाहन चला रहे हो तो पुल पार करने की कोशिश न करें।

पूर्ण संत की शरण प्राप्त कर, इस मौत के खेल से बाहर निकलें

सतगुरु शरण में आने से आई टलै बला, 

जै भाग्य में मृत्यु हो कांटे में टल जा। 

जै सतगुरु की संगत करते, सकल कर्म कटि जाईं।

अमर पुरी पर आसन होते, जहां धूप न छाँइ।।

पूर्ण संत की शरण ग्रहण करने से सर्व प्रकार के दुखों तथा रोगों का तत्क्षण ही अंत हो जाता है, शेष जीवन सुखमय व्यतीत होता है।

दयावान पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी सर्व अक्षम्य अपराधों को भी माफ कर देते हैं

वर्तमान युग में मानव जाने-अनजाने में कई ऐसी गलतियां या अपराध कर देता है जो अक्षम्य हैं जिसका परिणाम मनुष्य को वर्तमान समय में भीषण आपदाओं, महामारियों के रूप में उठाना पड़ रहा है, परंतु पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी बहुत ही दयावान हैं वह घोर पापों को भी क्षमा कर देते हैं.

अवगुण मेरे बाप जी, बक्शो गरीब नवाज।

जो मैं पूत-कपूत हूं, तो भी पिता को लाज।।

आइये इस कठिन समय में उस दयालु पुरुष (पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी) के तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी द्वारा दी हुई सतभक्ति कर सर्व प्रकार की आपदाओं से मुक्ति पायें।

समय रहते सद्भक्ति प्राप्त कर सर्व दुखों के निवारण की ओर अग्रसर हों

पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी की सतभक्ति पूर्ण संत से उपदेश लेकर करो नहीं तो यह अवसर फिर हाथ नहीं आएगा।

गरीब, समझा है तो सिर धर पांव, बहुर नहीं रे ऐसा दांव।

भावार्थ है कि यदि आप तत्वज्ञान को समझ गए हैं तो सिर पर पैर रख अर्थात अतिशीघ्रता से तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से उपदेश लेकर अपना कल्याण करवाओ यह अवसर फिर प्राप्त नहीं होगा। यदि यह अवसर बीत गया तो पछताने के अलावा और कुछ शेष नहीं रहेगा। पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी ने कहा है कि

आच्छे दिन पाछै गए, सतगुरु से किया ना हेत।

अब पछतावा क्या करे, जब चिड़िया चुग गई खेत।।

वर्तमान में पूरे विश्व में एकमात्र केवल तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी ही हैं जो वास्तविक तत्वज्ञान करा कर पूर्ण परमात्मा की पूजा आराधना बताते है। तो सत्य को जानें और पहचान कर पूर्ण तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से मंत्र नाम दीक्षा लेकर अपना जीवन कल्याण करवाएं । अधिक जानकारी के हेतु सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल पर सत्संग श्रवण करें ।

जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से मुफ्त नाम दीक्षा लें तथा दुनिया की सबसे अधिक डाउनलोड की जाने वाली सबसे लोकप्रिय आध्यात्मिक बुक जीने की राह आप भी इसे जरूर पढ़ें।

Latest articles

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...

एप्पल ने किया iOS 18 सॉफ्टवेयर लॉन्च

iOS 18: एप्पल ने हाल ही में अपने लेटेस्ट सॉफ्टवेयर iOS 18 को अपने...

Pilgrimage Turns Deadly: Reasi Terror Attack Claimed 10 Lives

Reasi Terror Attack: In a tragic turn of events, a bus carrying devotees from...
spot_img
spot_img

More like this

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...

एप्पल ने किया iOS 18 सॉफ्टवेयर लॉन्च

iOS 18: एप्पल ने हाल ही में अपने लेटेस्ट सॉफ्टवेयर iOS 18 को अपने...