December 6, 2023

China Coronavirus Outbreak Update: चीन संकट में,15 शहरों में बढ़े मामले, कई में लाॅकडाउन

Published on

spot_img

China Coronavirus Outbreak Update: जहां से कोरोना वायरस निकला और पूरी दुनिया के लिए संकट का सबक बन गया, उस चीन में एक बार फिर कोरोना के मामले अचानक बढ़ने लगे हैं। जानकारी के अनुसार नए मामले कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट के हैं, जो पहले भारत में पाया गया था। हम आपको बता दे कि रविवार को चीन में 3400 मरीज मिले है।

China Coronavirus Outbreak Update: मुख्य बिंदु

  • चीन में कोरोना ने किया तगड़ा पलटवार।
  • 2 साल में सबसे बुरे हाल।
  • रविवार को चीन में 3400 मरीज मिले है।
  • बिना लक्षण वाले मरीजों ने चिंता बढ़ा दी।
  • लाखों लोग घरों में हुए कैद, कई जगह लाॅकडाउन।
  • कई बड़े निर्माताओं ने बंद किया निर्माण कार्य

China Coronavirus Outbreak Update: चीन में कोरोना वायरस संकट

चीन में कोरोना वायरस ने फिर से पलटवार किया है। एक दिन में ही कोरोना के केस डबल हो गए हैं। अब बिना लक्षण वाले मरीजों ने सबकी चिंता बढ़ा दी है। दो सालों में पहली बार रविवार में एक दिन में 3400 केस मिले। चीन के 15 शहरों में कोरोना वायरस के मामले अचानक बढ़ने लगे हैं। इन शहरों में राजधानी बीजिंग भी शामिल है। अधिकारियों ने इसे दिसंबर 2019 में वुहान में वायरस के प्रसार के बाद से सबसे व्यापक घरेलू संक्रमण बताया है। ये नए मामले कोरोना वायरस के डेल्टा और ओमिक्रोन वेरिएंट के हैं।

क्या कहना है चीन का बढ़ते कोरोना संक्रमण के बारे में?

ग्लोबल टाइम्स ने एक रिपोर्ट में कहा कि नानजिंग में एक एयरपोर्ट से शुरू हुई कोरोना वायरस की घटना के बाद मामलों में तेजी अब बीजिंग समेत पांच अन्य प्रांतों तक पहुंच गई है। नानजिंग पूर्वी चीन के जियांगसू प्रांत की राजधानी है। रिपोर्ट में कहा गया कि नानजिंग में एक एयरपोर्ट के कई कर्मचारियों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद सभी उड़ानों को रद्द कर दिया गया है। हालांकि, नए मामलों की संख्या अभी कुछ सौ लगभग ही है लेकिन कई प्रांतों में संक्रमण फैलने से प्रशासन की चिंता बढ़ गई है। चिंता का प्रमुख कारण राजधानी बीजिंग में पिछला मामला सामने आने के 175 दिनों के बाद कोरोना मामलों में अचानक वृद्धि होना है। डेल्टा वेरिएंट के ये नए मामले देश के 15 शहरों में सामने आए हैं। 

China Coronavirus Outbreak Update: क्या था पूरा घटनाक्रम?

कुछ दिन पहले ही एक अफ्रीकी देश का एक उच्च स्तरीय अधिकारी जो बीजिंग के एक लग्जरी होटल में रुका था, अपने प्रतिनिधि मंडल के साथ कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था। यह जानकारी सामने आने के बाद अधिकारियों ने होटल को सील कर दिया था। उस वक्त होटल में मौजूद सैकड़ों अतिथियों और कर्मचारियों को 21 दिन के लिए क्वारंटीन में भेज दिया गया था। वहीं इन लोगों के संपर्क में आने वाले हजारों लोगों की पहचान करने का काम भी शुरू किया गया था।

क्या है चीन की वर्तमान स्थिति?

बता दें कि चीन में सबसे पहले कोरोना वायरस संक्रमण का मामला वहां के वुहान शहर के समुद्री भोजन बाजार में सामने आया था। एक आधिकारिक बयान के अनुसार चीन अब तक अपनी लगभग 40 फीसदी आबादी का टीकाकरण कर चुका है।  चीनी अधिकारियों के अनुसार दो हजार नए मामले आए हैं, जिनमें बीजिंग के 20 संक्रमित शामिल हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के अनुसार चीन में शनिवार को कोविड-19 के स्थानीय तौर पर संक्रमण के 1,807 नए मामले आए जबकि 131 मरीज दूसरे देश के हैं। 1,412 मरीज जिलीन प्रांत के हैं जहां 90 लाख आबादी वाली राजधानी चांगचुन में पिछले शुक्रवार को लॉकडाउन लगाया गया था। शंघाई में स्कूलों को बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही कुछ शहरों में पूरी तरह से लॉकडाउन लगाया गया है।

China Coronavirus Outbreak Update: हांगकांग भी अत्यधिक संक्रमित

आधिकारिक तौर पर विशेष प्रशासनिक क्षेत्र और जनवादी गणराज्य चीन सरकार की संप्रभुता का देश हांगकांग एक वैश्विक महानगर और अंतरराष्ट्रीय वित्तीय केंद्र है जहां रविवार को 27,647 नए केस मिले और 87 लोगों की मृत्यु हुई।

China Coronavirus Outbreak Update: चीन ने उठाए सख्त कदम

चीन में कोरोना वायरस के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं। संक्रमण से निपटने के लिए ये देश जीरो टॉलरेंस की नीति अपना रहा है। संक्रमण से निपटने के लिए चीन ने अपनी रणनीति तैयार कर ली है। चीन के कुछ शहरों के कई हिस्सों को धीरे-धीरे बंद किया जा रहा है।

■ यह भी पढ़ें: क्या कोरोना वायरस (Coronavirus) का इलाज सतभक्ति है?

बता दें कि चीन ने अभी तक भारत समेत कई अन्य देशों के लिए हवाई परिवहन सेवा की दोबारा शुरुआत नहीं की है। बीजिंग होकर जाने वाली अधिकतर उड़ानों का मार्ग दूसरे शहरों से होकर किया गया है, जहां से राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश करने से पहले क्वारंटीन रहना अनिवार्य है। 

China Coronavirus Outbreak Update: बड़े निर्माताओं ने बंद किया उत्पादन कार्य

  • चीन के सिलिकॉन वैली कहे जाने वाले शेनझेन शहर में चीन ने सार्वजनिक परिवहन को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है। लोगों से घर से काम करने का आग्रह किया है। 
  • Apple के चीन में निर्माता फॉक्सकॉन और यूनिमाइक्रोन टेक्नोलॉजी कॉर्प दोनों ने सोमवार को शेनझेन में निर्माण कार्य निलंबित कर दिया। फॉक्सकॉन, जिसे औपचारिक रूप से होन होई प्रिसिजन इंडस्ट्री कंपनी के रूप में जाना जाता है, ने कहा कि संचालन को अगली सूचना तक निलंबित कर दिया है।
  • उत्तरपूर्वी शहर चांगचुन में, वर्तमान में लॉकडाउन के तहत, टोयोटा ने चीन के FAW समूह के साथ अपने संयुक्त उद्यम में उत्पादन को निलंबित कर दिया।

ऐसे संकट की घड़ी में कौन करेगा कोरोना से सुरक्षा

कई महापुरुषों ने भारत की धरती पर जन्म लिया है। सभी धर्मों सभी जातियों को मान्यता देने वाले देश में अनेक संत और भगवान अवतार लिया करते हैं। आज के इस संकट की घड़ी में जगत में एक तारणहार का जन्म हो चुका है और भारत में उसका ज्ञान प्रचार शुरू भी हो चुका है। कई महापुरुषों की भविष्यवाणियां उस महापुरुष पर सटीक बैठी है कि वह महापुरुष नए सिरे से अपना विधान लिखेगा और उसके अनुयाई उसके ज्ञान को विश्व तक पहुंचाएंगे। 

उसके वचनों में इतनी शक्ति होगी कि वह भयंकर से भयंकर रोग और भयंकर से भयंकर आपत्तियों का विनाश कर सकता है। सभी लोग उसके ज्ञान को सुनकर सारी बुराइयों को छोड़कर सद्भक्ति ग्रहण करते हैं उस भक्ति के करने मात्र से सभी प्रकार के रोग खत्म हो जाते हैं। इस कोरोना के संकट की घड़ी में अगर सभी देश उस संत का ज्ञान सुनकर इनसे नामदीक्षा ले तो कोरोना जैसी महामारी को खत्म किया जा सकता है। 

आओ जाने कौन है वह जगतगुरु तत्वदर्शी संत

संत रामपाल जी महाराज के बारे में भविष्यवक्ताओं ने सटीक भविष्यवाणी की हैं आध्यात्मिक मार्ग में फैले पाखंडवाद को समाप्त कर सभी प्रमाणित धर्मग्रंथों की तुलनात्मक समीक्षा करके शास्त्रानुकूल भक्ति जन साधारण तक पहुंचाना ही संत जी का मुख्य उद्देश्य है। इसके अलावा उनके उद्देश्य है-

  • विश्व को सतभक्ति देकर मोक्ष प्रदान करना
  • युवाओं में नैतिक और आध्यात्मिक जागृति लाना
  • समस्त धार्मिक ग्रंथों के प्रमाण के आधार पर शास्त्र अनुकूल साधना समाज को देना
  • तत्वज्ञान के साथ किये समाज सुधार के कार्य
  • संत रामपाल जी महाराज ने मानव के सभी पक्षों का विवेचन किया, सही जीवन जीने के आदर्शों को सिखाया। उनमें प्रमुख है।
  • आज लाखों लोग संत रामपाल जी महाराज की शरण में आकर नशा पूरी तरह से छोड़ चुके हैं। 
  • केवल 17 मिनट में बिना दान दहेज और बिना दिखावे के विवाह, सुर्खियों का विषय बनते हैं। लाखों बेटियाँ सुखी वैवाहिक जीवन व्यतीत कर रही हैं। 
  • संत रामपाल जी महाराज की शरण में आने वालों ने  अदभुत लाभ गिनाए हैं, जिनमें एड्स, कैंसर जैसी भयानक बीमारियों के ठीक होने की बात उनके अनुयायी करते हैं। 

स्वास्थ्य लाभ के साथ अद्भुत और अविश्वसनीय लाभ जिनमें आर्थिक और आध्यात्मिक विकास भी सम्मिलित हैं, संत रामपाल जी महाराज की भक्ति विधि ने दिए हैं। संत रामपाल जी महाराज एप्प डाउनलोड करें और सतज्ञान जानें।

Latest articles

World Soil Day 2023: Let’s become Vegetarian and Save the Earth! 

Every year on December 5, World Soil Day is observed to highlight the importance...

Indian Navy Day 2023: Know About the ‘Operation Triumph’ Launched by Indian Navy 50 Years Ago

Last Updated on 3 December 2023 IST: Indian Navy Day 2023: Navy Day is...

International Day of Persons With Disabilities 2023: Know the Ultimate Emphatic Cure of Disabilities

Last Updated on 2 December 2023 IST: World Disability Day 2023: International Day of...
spot_img

More like this

World Soil Day 2023: Let’s become Vegetarian and Save the Earth! 

Every year on December 5, World Soil Day is observed to highlight the importance...

Indian Navy Day 2023: Know About the ‘Operation Triumph’ Launched by Indian Navy 50 Years Ago

Last Updated on 3 December 2023 IST: Indian Navy Day 2023: Navy Day is...