अमर ग्रंथ साहेब के रचयिता संत गरीबदास जी महाराज जी के बोध दिवस के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय समागम हुआ सम्पन्न

spot_img

15 मार्च 2022, हिन्दू कैलेंडर के अनुसार विक्रम संवत 2078 फाल्गुन मास शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को संत गरीब दास जी महाराज जी का बोध दिवस था। जिसके उपलक्ष्य में संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में तीन दिवसीय समागम (13-15 मार्च तक) का आयोजन किया गया था जिसमें देश-दुनिया के कोने कोने से आये लोगों का सैलाब देखने को मिला। आइये जानते हैं विस्तार कि यह समागम क्यों चर्चा में है?

तीन दिवसीय समागम सम्बंधित मुख्य बिंदु

  • संत गरीब दास जी महाराज जी के बोध के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय समागम हुआ सम्पन्न।
  • संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में इस विशाल समागम को आयोजित किया गया था।
  • देश-दुनिया के हर कोने से आये लोगों का उमड़ा था जनसैलाब।
  • अव्यवस्था न हो इसके लिए भाईयों व माताओं-बहनों के किये अलग-अलग पांडाल की व्यवस्था थी।
  • इस समागम में तीन दिन तक चला चौबीसों घण्टे विशाल भंडारा।
  • गरीब दास जी महाराज जी के अमर ग्रन्थ का तीन दिन तक चला अखण्ड पाठ।

संत गरीब दास जी महाराज बोध दिवस: तीन दिवसीय इस विशेष उत्सव का 15 मार्च को हुआ समापन

संत गरीब दास जी महाराज जी के बोध दिवस के उपलक्ष्य में तीन दिवसीय विशाल समागम में समस्त विश्व की परमात्मा प्रिय पुण्यात्माओं को आमन्त्रित किया गया था। इसी आमंत्रण की खबर पाकर लाखों की संख्या में श्रद्धालु एकत्रित होना शुरू हो गए, श्रद्धालुओं की भीड़ के कारण अव्यवस्था न हो, इस कारण संत रामपाल जी महाराज जी की अध्यक्षता में संचालित विभिन्न आश्रमों में इन श्रद्धालुओं के रुकने व भोजन भंडारे की व्यवस्था की गई थी। 

इन आश्रमों में क्रमशः सतलोक आश्रम सिंहपुरा रोहतक (हरियाणा), सतलोक आश्रम भिवानी (हरियाणा), सतलोक आश्रम कुरुक्षेत्र (हरियाणा), सतलोक आश्रम मुंडका (दिल्ली), सतलोक आश्रम शामली (उत्तरप्रदेश) और सतलोक आश्रम धुरी (पंजाब) में बंदी छोड़ गरीबदास जी महाराज के बोध दिवस पर 13 मार्च से 15 मार्च, 2022 को अमर ग्रन्थ का अखंड पाठ प्रकाश एवं विशाल भंडारे का आयोजन किया गया था।

संत रामपाल जी महाराज के सानिध्य में इन आश्रमों में एक साथ मना यह विशेष समागम

सतलोक आश्रम शामली (उत्तरप्रदेश)

संत गरीबदास जी महाराज जी के बोध दिवस के इस पावन अवसर पर नव निर्मित सतलोक आश्रम शामली में इस विशेष समागम का आयोजन हुआ जिसमें लाखों श्रद्धालुओं का जनसैलाब उपस्थित हुआ। इस समागम में भंडारे के पश्चात श्रद्धालुओं ने सत्संग रूपी अमृत वर्षा का भी आनन्द लिया और तीन दिवसीय अखण्ड पाठ का श्रवण भी किया।

सतलोक आश्रम कुरुक्षेत्र (हरियाणा)

कुरुक्षेत्र नाम से तो पाठकगण अच्छी तरह से परिचित होंगे ही। इसी भूमि पर आज संत गरीबदास जी महाराज जी के बोध दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित तीन दिवसीय विशाल समागम का समापन हुआ है। इस आश्रम में भी बहुत-बहुत दूर से श्रद्धालुजन अखण्ड पाठ प्रकाश सुनने व भंडारे में सम्मिलित होने के लिए आये हुए थे।

सतलोक आश्रम सिंहपुरा, रोहतक (हरियाणा)

संत गरीबदास जी महाराज जी के  बोध दिवस के उपलक्ष्य में विशाल समागम का आयोजन संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में इस आश्रम में भी हुआ था। श्रद्धालुजनों का आने-जाने का सिलसिला लगा हुआ था। व्यवस्थाएं बहुत ही अच्छी थीं। श्रद्धालुओं के लिए भोजन-भंडारे से लेकर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं थीं। साथ ही श्रद्धालुजनों के लिए सत्संग रूपी अमृत का पान भी कराया गया।

सतलोक आश्रम भिवानी (हरियाणा)

संत रामपाल जी महाराज जी की अध्यक्षता में संचालित सतलोक आश्रम भिवानी (हरियाणा) में भी संत गरीब दास जी की महाराज जी के बोध दिवस के उपलक्ष्य में चल रहे विशाल समागम का आज समापन हुआ। इस समागम को देखने भारत के विभिन्न राज्यों समेत विदेशों से भी श्रद्धालुजन आये हुए थे। श्रद्धालुओं के लिए सर्व सुविधाओं का विशेष ध्यान रखा गया था। चौबीसों घण्टे भंडारा चल रहा था जिसमें बैठकर श्रद्धालु क्षुधा तृप्ति कर रहे थे।

सतलोक आश्रम मुंडका (दिल्ली)

देश की राजधानी दिल्ली के क्षेत्र मुंडका में संत गरीब दास जी महाराज जी के बोध दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित विशाल समागम का आज बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से समापन हुआ। इस समागम में आये हुए हर श्रद्धालु के मुख पर एक अलग सी मुस्कान व उत्साह था मानो कि तपती धूप में यात्रा करने वाले राहगीर के लिए शीतल छाया का आनन्द प्राप्त हो गया हो।

सतलोक आश्रम धुरी (पंजाब)

आदरणीय गरीब दास जी महाराज जी के बोध दिवस के सुअवसर पर संत रामपाल जी महाराज जी की अध्यक्षता में संचालित अन्य आश्रमों की भांति सतलोक आश्रम धुरी (पंजाब) में भी तीन दिवसीय विशाल समागम का आयोजन किया गया था, इस आश्रम में भी श्रद्धालुओं की सुरक्षा से लेकर दैनिक आवश्यकताओं, भोजन भंडारे व रुकने की अदभुत व्यवस्था की गई थी। साथ ही एक अलग से चिकित्सा विभाग भी रखा गया था।

इस समागम का सीधा प्रसारण सोशल मीडिया व TV चैनल के माध्यम से चला था

यह उत्सव सतज्ञान अर्जित करने का एक पावन अवसर था जिसमें पधारकर परमात्मा चाहने वाली पुण्यात्माएं सत्संग श्रवण कर सकती थीं। जो पुण्यात्माएं किसी कारणवस इस अवसर पर आश्रम पर नहीं पधार सकीं उन्होंने ऑनलाइन सीधा प्रसारण  Sant Rampal Ji Maharaj” YouTube Channel, और Facebook Page “Spiritual Leader Sant Rampal Ji Maharaj” के माध्यम से स्वयं भी देखा व अपने मित्रों, परिवारजनों और रिश्तेदारों को भी अधिक से अधिक साझा किया। आगामी होने वाले इसी प्रकार के समागमों को देखने के लिए Satlok Ashram YouTube channel को Subscribe करें तथा अधिक जानकारी के लिए PlayStore से Sant RampalJi Maharaj Appअवश्य डाऊनलोड करें।

Latest articles

Israel Iran War: Is This The Beginning of World War III?

Israel Iran War: Tensions have started to erupt since the killing of seven military...

Ambedkar Jayanti 2024 [Hindi]: सत्यभक्ति से ही दूर होगा सामाजिक भेद भाव

Last Updated on 14 April 2024, 4:31 PM IST: Ambedkar Jayanti in Hindi: प्रत्येक...

Know About the Contribution of Ambedkar & the Saint Who Has Unified the Society in True Sense

Last Updated on 13 April 2024 IST: Ambedkar Jayanti 2024: April 14, Dr Bhimrao...

From Billionaire to Death Row: Vietnamese Tycoon Faces Execution for $12.5 Billion Fraud

Truong My Lan, the chairwoman of Van Thinh Phat Holdings Group, a prominent Vietnamese...
spot_img

More like this

Israel Iran War: Is This The Beginning of World War III?

Israel Iran War: Tensions have started to erupt since the killing of seven military...

Ambedkar Jayanti 2024 [Hindi]: सत्यभक्ति से ही दूर होगा सामाजिक भेद भाव

Last Updated on 14 April 2024, 4:31 PM IST: Ambedkar Jayanti in Hindi: प्रत्येक...

Know About the Contribution of Ambedkar & the Saint Who Has Unified the Society in True Sense

Last Updated on 13 April 2024 IST: Ambedkar Jayanti 2024: April 14, Dr Bhimrao...