प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi Yojana): कबीर परमात्मा हैं सबके हितकारी

spot_img
spot_img

(PM Kisan Samman Nidhi): प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि केंद्र सरकार की एक अति महत्वाकांक्षी योजना है। इस योजना का लक्ष्य किसानों की आय में बढ़ोत्तरी करना है। पीएम किसान योजना के तहत सरकार हर वित्त वर्ष में किसानों के बैंक खातों में कुल छह हज़ार रुपये की रकम ट्रांसफर करती है। सरकार अगस्त महीने में छठी किस्त जारी कर चुकी है और अब किसानों को इसकी सातवीं किस्त मिल रही है। छठी किस्त के तहत 18000 करोड़ रुपये जारी किए गए थे। इस योजना के तहत एक साथ नौ करोड़ किसानों के खातों में पैसे हस्तांतरित किए जाएंगे । अटल जयंती (Atal Jyanti) के अवसर पर देश के अलग-अलग हिस्सों में बीजेपी की 2500 किसान चौपाल आयोजित की गईं।।

पीएम किसान योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) के मुख्य बिंदुओं पर एक नज़र

  • पीएम किसान योजना के तहत सरकार हर वित्त वर्ष में किसानों के बैंक खातों में कुल छह हजार रुपये की रकम ट्रांसफर करती है। 
  • पीएम-किसान योजना का लाभ लेने के लिए किसानों को इस स्कीम में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है और किसान के पास आधार कार्ड नंबर, बैंक खाता जरूर होना चाहिए।
  • यह रकम किसानों के बैंक खातों में 2000-2000 रुपये की तीन बराबर किस्तों में भेजी जाती है।
  • सरकार ने चालू वित्त वर्ष की पहली किस्त अप्रैल में और अगस्त में दूसरी किस्त भेजी थी। इसके बाद दिसंबर के पहले सप्ताह से किसान तीसरी किस्त का इंतजार कर रहे थे।
  • पीएम किसान योजना से जुड़े विवरण बहुत आसानी से इस योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। ऐसे में आप मिनटों में इससे जुड़ी स्थिति का पता लगा सकते हैं।
  • सरकार ने इस साल पीएम-किसान योजना का फायदा लेने वाले किसानों की लिस्ट भी वेबसाइट pmkisan.gov.in पर अपलोड की है। 
  • किसान अपने कागजात सीधे वेबसाइट pmkisan.gov.in पर अपलोड कर सकते हैं। वेबसाइट के Farmer Corner ऑप्शन में आधार कार्ड को जोड़ने का ऑप्शन मिलता है।
  • मोदी सरकार ने पीएम किसान मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। पीएम किसान मोबाइल ऐप में वे सभी सुविधाएं हैं जो पीएम-किसान आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।
  • ज़मीनी सरकार से ऊपर होती है परमात्मा की सरकार जिस पर आश्रित होकर मानव उत्थान निश्चित है।

सुनकर नाम कबीर का थर थर कांपे काल।
नाम भरोसे जो रहे उसका होवे न बांका बाल।।

ऑनलाइन कैसे करें (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) में आवेदन?

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लिए किसान घर बैठे रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। बैंक खाते को आधार नंबर से जोड़ना जरूरी है क्योंकि सरकार पीएम-किसान की किस्त डीबीटी के जरिए सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर करती है। pmkisan.gov.in वेबसाइट को खोलने पर आपको बेवसाइट के दाईं ओर ‘फार्मर कार्नर’ का विकल्प दिखाई देगा। ‘फार्मर कार्नर’ के नीचे न्यू फॉर्मर रजिस्ट्रेशन का विकल्प है। इस टैब में किसानों को पंजीकृत करने के लिए निम्नलिखित कागज़ात और नंबर होना ज़रूरी है जैसे:

  • खेत की खतौनी,
  • आधार कार्ड,
  • कैप्चा कोड (इमेज टेक्स्ट) को देखकर भरना होगा।
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • खसरा नंबर
  • एरिया का साइज दर्ज कर आप इन्हें सेव कर रजिस्टर कर सकते हैं।

अब सभी किसान योजना का लाभ उठा सकते हैं

केन्द्र सरकार ने जब इस योजना की शुरुआत की थी, तब इसकी पात्रता की शर्तों में लिखा था कि जिसके पास 2 हेक्टेयर (5 एकड़) तक कृषि योग्य खेती है उसी को लाभ मिलेगा। लेकिन अब मोदी सरकार ने जोत की सीमा खत्म कर दी है। हालांकि, अब भी कई शर्तें लागू हैं जैसे-आयकर चुकाने वालों को इस योजना से बाहर रखा गया है।

■ यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PMKSY) क्या है? 

कब हुई थी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) योजना की शुरुआत?

1 दिसम्बर 2018 से लागू यह योजना किसानों के लिए वरदान साबित हो रही है। योजना की शुरुआत वर्ष 2018 के रबी सीजन में की गई थी। छोटे किसानों के लिए यह योजना अत्यन्त उपयोगी सिद्ध हुई है। बुवाई से ठीक पहले नगदी संकट से जूझने वाले किसानों को इस नगदी से बीज, खाद और अन्य इनपुट की उपलब्धता में सहूलियत मिल रही है।
जो छोटे और सीमान्त किसान जिनके पास 2 हेक्टेयर (4.9 एकड़) से कम भूमि है उनको आर्थिक सहायता प्रदान करती है।

कबीर परमात्मा सब ठीक कर सकते हैं

यह लोक जहां हम रह रहे हैं हमारा स्थाई/परमानेंट स्थान नहीं है यहां की कोई वस्तु हमारी नहीं है। यहां न खेती करने वाला किसान/ अन्नदाता सुखी है न उस अन्न को खाने वाला। हर ओर हाय तौबा मची है। कोई सरकार की नीतियों से दुखी तो कोई बीमारी से। जो सुखी दिखाई देते हैं उनका वह सुख भी उनके पास ज़्यादा देर नहीं ठहरता।

परमात्मा कबीर जी कहते हैं असली राम पर भरोसा करो जो तुम्हारा हित कर सकते हैं बाकि सब संसार काल‌ के वश है। जो सुख और सुखी करने वाली नीतियों की तुम सरकार से आस लगाए बैठे हो वह तुम्हारा कुछ भला नहीं कर सकतीं।

साहेब से सब होत है, बन्दे से कुछ नाहीं।
राई से पर्वत करें, पर्वत से फिर राई।।

कबीर परमात्मा सब सुखों के दाता हैं एक बार परमात्मा को पुकार कर तो देखो । मदद के लिए दौड़ा न चला आए तो फिर कहना। विश्वास परमात्मा पर करो , परमात्मा को जानने के लिए साधना TV पर रात 7:30pm से सत्संग सुनो। संत रामपाल जी जगतपालनहार सब के लिए धरती पर विद्यमान हैं।

Latest articles

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...
spot_img
spot_img

More like this

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...