Lockdown 4.0 News in Hindi: कैसा होगा लॉकडाउन 4 का स्वरूप?

spot_img

जानिए की लॉकडाउन 4.0 (Lockdown 4.0) में क्या नया होने वाला है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राज्य सरकारों के सुझावों पर विचार करने के बाद दिशा-निर्देशों को अंतिम रूप देने के लिए शुक्रवार को एक बैठक की है । लॉकडाउन 4.0 के दिशा निर्देशों की घोषणा शीघ्र होने वाली है। पढ़िए Lockdown 4.0 News in Hindi के बारे में विस्तार से.

खबर के मुख्य बिंदु

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुसार लॉकडाउन 4.0 ‘पूरी तरह से अलग रूप’ में होगा
  • अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए सभी जरूरी सेवाओं को बढ़ाने के प्रयास
  • देशव्यापी लॉकडाउन 25 मार्च से 14 अप्रैल, 15 अप्रैल से 3 मई और 4 मई से 17 मई तक
  • केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लॉकडाउन 4.0 दिशा-निर्देशों को अंतिम रूप दे रहे है
  • लॉकडाउन 4.0 दिशा-निर्देशों की घोषणा इस सप्ताहांत में किए जाने की संभावना
  • रेलवे और घरेलू एयरलाइंस को क्रमिक रूप से फिर से खोलने की घोषणा संभव
  • स्कूल, कॉलेज, मॉल और सिनेमा हॉल खोलने की अनुमति नहीं
  • ग्रीन, ऑरेंज और रेड ज़ोन निर्धारण करने का राज्यों को अधिकार संभव
  • श्रमिक और विशेष ट्रेनों के बढ़ाए जाने की संभावना

प्रधानमंत्री मोदी: ‘पूरी तरह से अलग रूप’ लॉकडाउन 4.0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 11 मई एक राष्ट्रीय प्रसारण में कहा था कि लॉकडाउन 4.0 नए नियमों के साथ ‘पूरी तरह से अलग रूप’ में होगा । कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों की बढ़ती संख्या को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 मार्च को 21 दिनों के लिए की थी । इसके बाद इसे 15 अप्रैल से 3 मई तक और फिर 4 मई से 17 मई तक बढ़ा दिया गया था।

गृह मंत्री अमित शाह ने दिशा-निर्देशों को दिया अंतिम रूप

Lockdown 4.0 News in Hindi: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गृह मंत्रालय के अधिकारियों के साथ राज्य सरकारों के सुझावों पर विचार करने के बाद दिशा-निर्देशों को अंतिम रूप देने के लिए शुक्रवार को एक बैठक की । लॉकडाउन 4 के दौरान क्या कर सकते है और क्या नहीं इनसे संबंधित घोषणा इस सप्ताह अंत में किए जाने की संभावना है । ज्ञात रहे, राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश प्रशासनों को शुक्रवार तक अपनी सिफारिशें पेश करने को कहा गया था।

लॉकडाउन 4.0 का स्वरूप कैसा होगा?

लॉकडाउन 4.0 जो 18 मई से शुरू होना है उसके अंतर्गत ग्रीन जोन के पूर्णरूप से खोलने के साथ अतिरिक्त छूट और पहले से अधिक लचीलापन दिखने की संभावना है। नारंगी क्षेत्रों में बहुत सीमित प्रतिबंध और केवल लाल जोन में कोविड-19 रोकथाम वाले क्षेत्रों में (Containment Zones) रोकथाम के लिए सख्त प्रतिबंध लागू करने की संभावना है। Lockdown 4.0 News in Hindi से जानिए कैसा होगा लॉकडाउन 4.0 का स्वरूप.

ये हो सकती है लॉकडाउन 4.0 की Guidelines

  1. रेलवे और घरेलू एयरलाइंस को क्रमिक रूप से फिर से खोलने की घोषणा सोमवार को होने की संभावना है। हालांकि, कई राज्य जैसे बिहार, तमिलनाडु, कर्नाटक मई माह के अंत तक रेलगाड़ियां और हवाई सेवाओं की पूरी तरह से बहाली के पक्ष में नहीं हैं ।
  2. देश में कहीं भी स्कूल, कॉलेज, मॉल और सिनेमा हॉल खोलने की अनुमति नहीं दी जाएगी। लेकिन कोविड-19 (Covid-19) रोकथाम वाले क्षेत्रों (Containment Zones) को छोड़कर रेड जोन में सैलून, नाई की दुकानें और चश्में की दुकानों को अनुमति दी जा सकती है।
  3. ग्रीन जोन और नारंगी जोन में बहुत सीमित प्रतिबंध और रेड जोन के केवल रोकथाम वाले क्षेत्रों (Containment Zones) में सख्त प्रतिबंधों के साथ अन्य स्थान फिर से पूरी तरह खोले जा सकते हैं।
  4. पंजाब, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, असम और तेलंगाना राज्य चाहते हैं कि लॉकडाउन जारी रहे और उन्हें ग्रीन, ऑरेंज और रेड ज़ोन निर्धारण करने का फैसला करने की शक्तियां मिलें।
  5. भारतीय रेलवे दिल्ली से 15 गंतव्यों के लिए स्पेशल ट्रेनें शुरू कर चुकी है। लॉकडाउन के कारण फंसे प्रवासी कामगारों के परिवहन के लिए देश के विभिन्न भागों से कई सौ श्रमिक विशेष ट्रेनें विभिन्न स्थानों पर संचालित हो रही हैं । इनके बढ़ाए जाने की संभावना है ।
  6. रेड जोन में गैर-रोकथाम क्षेत्रों में सीमित क्षमता वाली लोकल ट्रेनों, बसों और मेट्रो सेवाओं का संचालन देखने को मिल सकता है।
  7. ऑटो और टैक्सियों यात्रियों की संख्या पर प्रतिबंध के साथ रेड जोन में सेवाएं फिर से शुरू कर सकते हैं ।
  8. राज्य सरकारों को गैर -नियंत्रण वाले क्षेत्रों में सेवाओं के फिर से खोलने के लिए शक्ति आवंटित की जा सकती है ।
  9. नारंगी और लाल क्षेत्रों में बाजार खोलने के बारे में निर्णय लेने की अनुमति भी दी जा सकती है जहां गैर-आवश्यक वस्तुओं की दुकानों के लिए सम-विषम नीति लागू की जा सकती है।
  10. फ्लिपकार्ट, अमेजन और Myntra जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म, जिन्हें लॉकडाउन 3 के दौरान ग्रीन और ऑरेंज जोन में गैर-जरूरी सामान देने की अनुमति दी गई थी, उन्हें रोकथाम क्षेत्रों को छोड़कर रेड जोन में भी गैर-जरूरी वस्तुएं देने की अनुमति दी जा सकती है ।
  11. महाराष्ट्र राज्य चाहता है कि मुंबई, उसके उपनगरों और पुणे में सख्त लॉकडाउन कदम लागू किए जाएं और किसी भी तरह के अंतरराज्यीय और अंतर-जिला परिवहन को पूर्ण रूप से रोक कर रखा जाए । ज्ञात रहे, राज्य में सबसे ज्यादा कोविड-19 (Covid-19 ) संक्रमण के मामले और मौतें हैं।
  12. संक्रमण मामलों की दूसरी सबसे अधिक संख्या के साथ गुजरात प्रमुख शहरी केंद्रों में आर्थिक गतिविधियों की बहाली चाहता है ।
  13. ऐसी जानकारी मिली है कि जो राज्य आर्थिक गतिविधियों को खोलने के पक्ष में हैं, उनमें दिल्ली, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश और केरल शामिल हैं।

Lockdown 4 News Update: भारत की कॉविड-19 संख्या 85,940, मरने वालों की संख्या 2,752

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार भारत के कोरोनावायरस मामलों की संख्या 85,940 मामलों तक पहुंच गई । ताजा आंकड़ों के मुताबिक कोरोनावायरस के 53,035 संक्रमित मरीज हैं जबकि 30153 मरीज ठीक होकर जा चुके हैं ।

पूर्ण परमात्मा ही कष्ट काट सकते हैं

यह लोक दुखों का कारण है। यहाँ प्राणी कुछ भी नहीं कर सकता लेकिन कर्मफल उसे ही भुगतना पड़ता है । इस लोक से केवल पूर्ण परमात्मा कबीर साहेब और तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज मुक्ति दिला सकते हैं । अतः सभी प्राणियों को उनकी शरण में आना चाहिए ।

Latest articles

रक्तदान से मानवता को संदेश: संत रामपाल जी के हजारों भक्तों ने पेश किया उदाहरण 

कबीर निर्वाण दिवस और संत रामपाल जी बोध दिवस के शुभ अवसर पर संत...

Blood Donation Drive by Devotees of Saint Rampal Ji Maharaj at Satlok Ashrams

The followers of Saint Rampal Ji Maharaj have showcased exceptional dedication and compassion by...

37वां संत रामपाल जी बोध दिवस और 506वां कबीर साहेब निर्वाण दिवस कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

37वें संत रामपाल जी महाराज के बोध दिवस और 506वें कबीर परमेश्वर के निर्वाण...

World Peace and Understanding Day 2024: Know How Ultimate Peace Can Be Obtained

World Peace and Understanding Day 2024: The day is celebrated to restore the lost...
spot_img

More like this

रक्तदान से मानवता को संदेश: संत रामपाल जी के हजारों भक्तों ने पेश किया उदाहरण 

कबीर निर्वाण दिवस और संत रामपाल जी बोध दिवस के शुभ अवसर पर संत...

Blood Donation Drive by Devotees of Saint Rampal Ji Maharaj at Satlok Ashrams

The followers of Saint Rampal Ji Maharaj have showcased exceptional dedication and compassion by...

37वां संत रामपाल जी बोध दिवस और 506वां कबीर साहेब निर्वाण दिवस कार्यक्रम हुआ सम्पन्न

37वें संत रामपाल जी महाराज के बोध दिवस और 506वें कबीर परमेश्वर के निर्वाण...