देश के कई राज्यों में हिंसा के बाद ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiansRespectAllReligions, दिया गया शांति का संदेश

spot_img

बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद पैगम्बर मोहम्मद साहब पर नुपुर शर्मा (Nupuru Sharma) द्वारा की गई टिप्पणी के बाद देश के 12 राज्यों में विरोध प्रदर्शन किया गया। देश के कई शहरों में नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग उठी तो झारखंड, बंगाल में पत्थरबाजी और फायरिंग की घटना सामने आई। वहीं ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiansRespectAllReligions । जिसके माध्यम से बताया गया कि भारतीय सभी धर्मों और धर्मगुरुओं का सम्मान करते हैं।

  • पैगम्बर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा  की टिप्पणी के बाद देशभर में प्रदर्शन
  • उत्तरप्रदेश के कई शहरों में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन
  • दिल्ली : जामा मस्जिद के बाहर नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) के खिलाफ नारेबाजी
  • पश्चिम बंगाल में भी उग्र प्रदर्शन के साथ पत्थरबाजी और फायरिंग
  • झारखंड की राजधानी रांची में पुलिस पर पथराव
  • गृह मंत्रालय ने राज्यों के DGP को किया अलर्ट
  • ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiansRespectAllReligions
  • भारतीय सभी धर्म का करते हैं सम्मान, ट्वीट कर बताया गया। 
  • संत रामपाल जी महाराज ने समझाया कैसे है हम सब एक।

Table of Contents

Nupur Sharma Controversy [Hindi] : मुख्य बिंदु

  • टीवी डिबेट में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) द्वारा पैगंबर मोहम्मद साहब पर की गई टिप्पणी के बाद देश के कई राज्यों में उग्र प्रदर्शन।
  • जुमे की नमाज के बाद देश की राजधानी दिल्ली में भी हुआ विरोध प्रदर्शन।
  • हावड़ा में पत्थरबाजी, फायरिंग समेत भीड़ द्वारा थाना जलाने की घटना सामने आई।
  • गुजरात, मध्यप्रदेश समेत कुछ राज्यों में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) की गिरफ्तारी की मांग उठी।
  • विरोध प्रदर्शन के चलते राँची समेत कुछ जगहों में इंटरनेट सेवा बंद, धारा 144 लागू।
  • ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiansRespectAllReligions
  • लोगों को ट्विटर के माध्यम से भारतीय संस्कृति और परम संत के ज्ञान से अवगत कराया गया।
  • भारतीय सब धर्मों व धर्म गुरुओं का सम्मान करते हैं। अच्छे-बुरे लोग सब देशों में हैं जो अपने देश और धर्म के भी विरोधी होते हैं – संत रामपाल जी महाराज
  • कबीरपंथी संत रामपाल जी महाराज की विचारधारा से मिट रही है धर्मों के बीच की खाई।

क्या है पूरा मामला?

27 मई को टीवी डिबेट के दौरान भारतीय जनता पार्टी की राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) द्वारा पैगम्बर मोहम्मद (Prophet Muhammad) पर टिप्पणी की गई थी। जिसके बाद कई इस्लामिक देशों ने भारत सरकार से जबाब तलब किया। जिसके बाद भारतीय जनता पार्टी द्वारा 5 जून को नुपूर शर्मा को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। और इसी विवाद के चलते बीते शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद नुपूर शर्मा की मुहम्मद साहब पर की गई टिप्पणी के खिलाफ देश के कई शहरों में नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) की गिरफ्तारी की मांग उठी, तो कई जगह पत्थरबाजी, फायरिंग की घटना सामने आई।

मुस्लिम देशों ने विरोध दर्ज कराया

कतर, कुवैत, सऊदी अरब, ईरान समेत एक दर्जन से अधिक इस्लामिक देशों द्वारा पैगम्बर मोहम्मद पर नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) की टिप्पणी के विरोध में भारत सरकार को तलब किया गया था। जिसके बाद भारत के विदेश मंत्रालय की तरफ से बयान जारी कर टिप्पणी को “अराजक तत्वों के विचार” कहते हुए विवाद को शांत करने की कोशिश की गई और बीजेपी ने टिप्पणियों से दूरी बनाते हुए राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) को निलंबित कर दिया और दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) को निष्कासित कर दिया। 

पैगम्बर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा की टिप्पणी के बाद देशभर में प्रदर्शन

कुछ दिन पहले टीवी डिबेट के दौरान पैगम्बर मोहम्मद पर नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) की टिप्पणी के बाद देश के 12 राज्यों समेत 20 शहरों में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन हुआ। प्रदर्शन के दौरान कई जगह नारेबाजी हुई, नुपूर की गिरफ्तारी की मांग उठी तो कई जगह आगजनी, फायरिंग, पत्थरबाजी की भी घटना सामने आई।

उत्तरप्रदेश के कई शहरों में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन

उत्तरप्रदेश के प्रयागराज, सहारनपुर, बाराबंकी, उन्नाव, फिरोजाबाद समेत कई शहरो में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन हुए। प्रयागराज से पत्थरबाजी की घटना सामने आई जहां पर प्रदर्शनकारियों ने PAC के ट्रक को आग लगा दी। कई इलाकों में हालात पर काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज भी करना पड़ा। घटना के बाद पुलिस ने अब तक 136 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले पिछले हफ्ते ही इस विवाद पर कानपुर में झड़प की घटना सामने आई थी।

दिल्ली : जामा मस्जिद के बाहर नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) के खिलाफ नारेबाजी

देश की राजधानी दिल्ली में स्थित जामा मस्जिद में जुमे की नमाज के लिए करीब 1500 लोग इकट्ठे हुए। नमाज के बाद करीब 300 लोग जमा हुए और उन्होंने नुपूर शर्मा के विरोध में जमकर नारेबाजी की। पूरे घटनाक्रम पर जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा है कि मस्जिद की तरफ से विरोध प्रदर्शन का कोई ऐलान नहीं किया गया था।

पश्चिम बंगाल में भी उग्र प्रदर्शन के साथ पत्थरबाजी और फायरिंग

कोलकाता और हावड़ा में प्रदर्शनकारियों ने पैगम्बर मोहम्मद पर टिप्पणी करने वाली नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और प्रदर्शन उग्र हो गया। जिसके बाद हावड़ा से आगजनी, पत्थरबाजी की भी घटना सामने आई। जिसके बाद हावड़ा में इंटरनेट सेवा बंद की गई और इलाके में धारा 144 लगा दी गई।

Also Read | भारतीय करते है सर्व धर्म व धर्मगुरूओ का सम्मान: संत रामपाल जी महाराज

झारखंड की राजधानी रांची में पुलिस पर पथराव

बीते शुक्रवार को पैगम्बर मुहम्मद पर की गई टिप्पणी के बाद झारखंड की राजधानी राँची में भी जुमे की नमाज के बाद हिंसक प्रदर्शन हुआ। आगजनी और पथराव के चलते भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। प्रदर्शन के दौरान उपद्रवियों ने पुलिस पर भी पथराव किया जिसके बाद SSP समेत 3 पुलिस कर्मी घायल हो गये। उपद्रवियों द्वारा एक हिन्दू मंदिर पर भी पथराव की खबर सामने आई। जिसके बाद एहतियात बरतते हुए राँची में धारा 144 लागू कर दी गई और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई।

देश के कई राज्यों में भी हुए प्रदर्शन

वहीं देश के अन्य राज्य तेलंगाना, पंजाब, मध्यप्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, गुजरात, केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर के कई शहरों में जुमे की नमाज के बाद हाथ में पोस्टर लेकर लोगों ने नुपूर शर्मा (Nupur Sharma) की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।

गृह मंत्रालय ने राज्यों के DGP को किया अलर्ट

देशभर में हुए प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसक घटनाओं के बाद गृह मंत्रालय की ओर से राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पुलिस प्रमुखों (DGP) को सतर्क रहने के लिए कहा गया है। गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि इस तरह के हिंसक प्रदर्शनों में उपद्रवियों द्वारा पुलिस अधिकारियों को निशाना बनाया जा सकता है। ऐसे में उन्हें सतर्क रहने की जरूरत है।

ट्विटर पर ट्रेंड हुआ #IndiansRespectAllReligions

जहां एक ओर पैगम्बर मोहम्मद पर नुपूर शर्मा की टिप्पणी के कारण देशभर में प्रदर्शन हो रहे थे। वही दूसरी ओर ट्विटर पर देखते देखते #IndiansRespectAllReligions हैशटैग ट्रेंड कर गया। जिसके द्वारा लोगों ने पूरी दुनिया को बताया गया कि हम भारतीय लोग सभी धर्मों तथा उनके धर्मगुरुओं का सम्मान करते हैं। वहीं जगतगुरु तत्वदर्शी (बाखबर) संत रामपाल जी महाराज ने कहा “भारतीय सब धर्मों व धर्म गुरुओं का सम्मान करते हैं। अच्छे-बुरे लोग सब देशों में हैं जो अपने देश और धर्म के भी विरोधी होते हैं।” 

कई घंटों तक #IndiansRespectAllReligions टैग ट्विटर पर नंबर वन पर ट्रेंड करता रहा। जिसपर लगभग एक मिलियन अर्थात 10 लाख से भी अधिक ट्वीट किए गए। 

भारतीय सभी धर्म का करते हैं सम्मान, ट्विट कर बताया गया

ट्वीट कर लोगों ने बताया कि हम भारतीय सर्व धर्मों का सम्मान करते हैं। भारत दुनिया का सबसे बड़ा धर्मनिरपेक्ष देश है जहाँ लोगों को किसी भी धर्म को मानने, उसे बढ़ाने, उसके प्रबंधन करने की स्वतंत्रता संविधान द्वारा प्रदान की गई है। भारत ही वह देश है जहां “वसुधैव कुटुम्बकम्” अर्थात पूरे विश्व को एक परिवार माना जाता है। लोगों ने कहा कि हमारा देश कबीर साहेब की विचारधारा को मानने वाला है जिन्होंने हमें सिखाया है सर्व धर्मों का सम्मान करना।

कबीर, हिंदू-मुस्लिम, सिक्ख-ईसाई, आपस में सब भाई-भाई।

आर्य- जैनी और बिश्नोई, एक प्रभू के बच्चे सोई।।

संत रामपाल जी महाराज की विचारधारा

भारत में एक ऐसे संत भी मौजूद हैं जो सर्व धर्मों और धर्मगुरुओं का सम्मान करने की बात कहते हैं। वह संत रामपाल जी महाराज जी हैं। जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज का उद्देश्य पूरे विश्व को सच्चा आध्यात्मिक ज्ञान देकर एक करना है। सत्संगों में संत रामपाल जी बताते हैं कि हम सभी एक परमेश्वर की संतान होने के कारण एक ही परिवार के सदस्य हैं अर्थात पूरा विश्व एक परिवार है, हमारा धर्म मानवता है लेकिन हम अज्ञानता वश परमात्मा/अल्लाह को पाने के लिए धर्मों में बंटते चले गए। जबकि उस परमेश्वर के ही पर्यायवाची नाम अलग अलग भाषाओं में राम / प्रभु / गॉड / अल्लाह / रब / खुदा / परमेश्वर आदि हैं। उस पूर्ण परमात्मा (अल्लाहु अकबर) का वास्तविक नाम कविर्देव (कबीर परमेश्वर) है।

जीव हमारी जाति है, मानव धर्म हमारा।

हिंदु मुस्लिम सिख ईसाई, धर्म नहीं कोई न्यारा।।

– संत रामपाल जी महाराज

पूरे विश्व को एक करने वाली संत रामपाल जी महाराज की विचारधारा को विस्तार से जानने के लिए डाउनलोड करें “Sant Rampal Ji Maharaj” एंड्रॉयड एप

Latest articles

Israel’s Airstrikes in Rafah Spark Global Outcry Amid Rising Civilian Casualties and Calls for Ceasefire

In the early hours of 27th May 2024, Israel launched a fresh wave of...

Cyclone Remal Update: बंगाल की खाड़ी में मंडरा रहा है चक्रवात ‘रेमल’ का खतरा, तटीय इलाकों पर संकट, 10 की मौत

Last Updated on 28 May 2024 IST: रेमल (Cyclone Remal) एक उष्णकटिबंधीय चक्रवाती तूफान है,...

Odisha Board Class 10th and 12th Result 2024: Check Your Scores Now

ODISHA BOARD CLASS 10TH AND 12TH RESULT 2024: The Odisha Board has recently announced...

Lok Sabha Elections 2024: Phase 6 of 7 Ended with the Countdown of the Result Starting Soon

India is voting in seven phases, Phase 6 took place on Saturday (May 25,...
spot_img

More like this

Israel’s Airstrikes in Rafah Spark Global Outcry Amid Rising Civilian Casualties and Calls for Ceasefire

In the early hours of 27th May 2024, Israel launched a fresh wave of...

Cyclone Remal Update: बंगाल की खाड़ी में मंडरा रहा है चक्रवात ‘रेमल’ का खतरा, तटीय इलाकों पर संकट, 10 की मौत

Last Updated on 28 May 2024 IST: रेमल (Cyclone Remal) एक उष्णकटिबंधीय चक्रवाती तूफान है,...

Odisha Board Class 10th and 12th Result 2024: Check Your Scores Now

ODISHA BOARD CLASS 10TH AND 12TH RESULT 2024: The Odisha Board has recently announced...