Video | दिव्य धर्म यज्ञ दिवस: हरियाणा के एक छोटे से गाँव धनाना में क्यों उमड़ा श्रद्धा का सैलाब?

spot_img
spot_img

आज आपको इस वीडियो के माध्यम से बताएंगे क्यों हरियाणा के सोनीपत जिले के धनाना धाम में तीन दिनों तक लोगों का तांता लगा रहा। 510 वर्ष पूर्व कबीर परमेश्वर जी ने केशव बंजारे के रूप में काशी में 3 दिनों तक 18 लाख साधु–संतों को लगातार भोजन भंडारा करवाया था। जगतगुरू रामपाल जी महाराज जी ने धनाना धाम में 26 से 28 नवंबर 2023 को दिव्य धर्म यज्ञ दिवस मनाया।

सतलोक आश्रम धनाना धाम में आए श्रद्धालुओं की संख्या का आकलन वहाँ की वाहन पार्किंग से लगाया जा सकता है। हजारों की संख्या में चार पहियां वाहन कारें और बसें आए थे। पार्किंग व्यवस्था टोकन आधारित बिल्कुल निशुल्क थी। लाखनमाजरा और रोहतक बस स्टैन्ड और रेल्वे स्टेशन से श्रद्धालुओं को लाने के लिए निशुल्क बस व्यवस्था भी की गई थी। लाखों लोगों ने तीन दिवसीय भंडारे का लाभ उठाया। प्रशासन के साथ मिलकर आश्रम के सेवादारों ने सिक्योरिटी व्यवस्था को देखा। अंदर जाने के रास्ते को फूलों से सजाया गया था। बीच में संत रामपाल जी महाराज का एक चित्र लगाया गया था जहां आगंतुकों ने सेल्फ़ी ली। संत रामपाल जी महाराज के सतज्ञान से प्रेरित होकर बहुत पढे लिखे लोग भी बड़ी संख्या में उमड़े। संत गरीबदास जी की अमर वाणी का अखंड पाठ किया गया।

विशाल रसोई घर में भंडारे में शुद्ध देसी घी से बने हलवा प्रसाद और भोजन प्रसाद की व्यवस्था की गई थी। सारी व्यवस्थाएं संत जी के भक्त सेवादार हजारों की संख्या में निस्वार्थ संभाल रहे थे। माताओं बहनों और भाईओं के लिए अलग अलग व्यवस्थाएं की गई थी।

यह भंडारा एक ऐसा अवसर था जहां लाखों लोग एक साथ मिलें और धर्म और अध्यात्म के मार्ग पर चलकर परमार्थ करने का संकल्प लिया ।

Latest articles

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...
spot_img
spot_img

More like this

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...