सामाजिक कार्यों के लिए मशहूर संत रामपाल जी महाराज के शिष्य ने किया देहदान

spot_img

Body Donation News, Jabalpur, MP: जगतगुरू तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयायियों ने एक बार फिर बहुत ही सराहनीय कार्य किया है। विश्व के सबसे बड़े समाज सुधारक जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयायियों ने नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज, जबलपुर में देहदान किया। 

जबलपुर में सुभाष चंद्र मेडिकल कॉलेज में हुआ देहदान

संतरामपालजी के शिष्य अरुण दास के दादा मोती लाल की 15 अप्रैल को मृत्यु हो गई थी जो की संत रामपाल जी महाराज जी के शिष्य थे और उनके नाती अरुण दास ने बताया कि संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयाई होने के नाते हमें ये प्रेरणा हमारे गुरु जी संत रामपाल जी महाराज जी से मिली है। संत रामपाल जी महाराज जी हमें सत्संगों में बताते हैं कि जब तक हम जीवित हैं तो तब तक दूसरों की सेवा करें और दूसरों का परोपकार करें और मरने के बाद भी इस शरीर से लोगो की सेवा करने की कोशिश करे। यह सब हमारे गुरु जी संत रामपाल जी महाराज जी के ज्ञान से संभव हो पा रहा है। 

देहदान के लाभ

देहदान करने से मृत्यु भोज और जो भी अन्य पाखंड और मृत्यु के बाद के कर्मकांड होते हैं उनसे हम दूर हो जाते हैं क्योंकि यह सब शास्त्र विरूद्ध होने के कारण गलत हैं। हमारे गुरू जी संत रामपाल जी महाराज जी हमें समझाते हैं कि जीवित माता पिता की खूब सेवा करो। लेकिन मरने के बाद कर्म कांडो से दूरी रखो। इसके साथ साथ देहदान के कारण शरीर पर कई तरह का अनुसंधान भी हो पाता है जिससे कई तरह की नई खोज संभव हो पाती है।

चिकित्सको ने भी की संत रामपाल जी महाराज की प्रशंसा

Body Donation News hindi

एनाटॉमी विभाग के डॉ एन एल अग्रवाल जी ने बताया कि संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयाई बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे हैं और उनके अनुयायियों ने पहले भी देहदान से जुड़े कार्य किए हैं। संत रामपाल जी महाराज जी के शिष्य उनके आध्यात्मिक ज्ञान से प्रभावित हो कर देहदान कर रहे हैं क्योंकि अन्य लोग अभी इतने जागरूक नहीं हुए हैं। अभी तक सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज जबलपुर में जितनी भी देहदान द्वारा बॉडी आई हैं वह संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयायियों की ही आई हैं। मृत्यु उपरांत देहदान करने का फैसला करना यह बहुत ही अच्छा कार्य है जिसे संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयाई कर रहे हैं।

आप भी जुड़े संत रामपाल जी महाराज से!

डॉ ललित श्री वास्तव जी ने बताया कि समाज को संत रामपाल जी महाराज जी से प्रेरणा लेनी चाहिए, क्योंकि यह बहुत ही सराहनीय कार्य है और संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयाई ऐसे ही आगे देहदान करते रहें। आप भी संत रामपाल जी महाराज जी के आध्यात्मिक ज्ञान को समझने के लिए सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल पर सत्संग सुनें और एक नेक नागरिक बनने की प्रेरणा प्राप्त करें। संत रामपाल जी महाराज जी से नाम दीक्षा लेकर भक्ति करने से ही पूर्ण मोक्ष संभव है। 

Latest articles

6.4 Magnitude Earthquake Jolts Japan 

Japan was rocked by a powerful 6.4 magnitude earthquake on April 17, 2024, according...

Mahavir Jayanti 2024: Know Why Mahavir Jain Suffered Painful Rebirths in the Absence of Tatvagyan

Last Updated on 17 April 2024 IST: Mahavir Jayanti 2024: Mahavir Jayanti is one...

UPSC CSE Result 2023 Declared: यूपीएससी ने जारी किया फाइनल रिजल्ट, जानें किसने बनाई टॉप 10 सूची में जगह?

संघ लोकसेवा आयोग ने सिविल सर्विसेज एग्जाम 2023 के अंतिम परिणाम (UPSC CSE Result...
spot_img

More like this

6.4 Magnitude Earthquake Jolts Japan 

Japan was rocked by a powerful 6.4 magnitude earthquake on April 17, 2024, according...

Mahavir Jayanti 2024: Know Why Mahavir Jain Suffered Painful Rebirths in the Absence of Tatvagyan

Last Updated on 17 April 2024 IST: Mahavir Jayanti 2024: Mahavir Jayanti is one...