CTET Result 2022: CTET परीक्षा परिणाम 2022 की घोषणा का इंतज़ार

Date:

CTET Result 2022: शिक्षक बनने के लिए केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन CBSE द्वारा कराया जाता है। वर्ष 2022 में हुए केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET 2022) के परीक्षा परिणाम घोषित होने वाले हैं। 15 फरवरी 2022 के दिन अभ्यर्थी पूरे समय परिणाम की प्रतीक्षा करते रहे। आज 16 फरवरी 2022 को परिणाम की घोषणा होने की संभावना है।

CTET Result 2022: मुख्य बिंदु

  • केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (ctet result 2022) परिणाम की घोषणा की संभावना आज।
  • गत दिवस परीक्षा परिणाम घोषित होने की संभावना थी।
  • आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर परीक्षा परिणाम देखे जा सकते हैं।
  • जीवन की परीक्षा के परिणाम में उत्तीर्ण होना आवश्यक।

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा 2022

CTET Result 2022: वर्ष 2022 में केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन दिनांक 16 दिसम्बर 2021 से 21 जनवरी 2022 तक किया गया था। परीक्षा पूरे भारत में विभिन्न केंद्रों पर ऑनलाइन मोड (कम्प्यूटर आधारित मोड-सीबीटी) पर आयोजित की गई थी। परीक्षा की आंसर की 1 फरवरी 2022 को जारी की गई थी। आंसर की पर आपत्ति दर्ज कराने का समय 4 फरवरी 2022 तक का दिया गया था।  बोर्ड की ओर से परीक्षा परिणाम को लेकर कोई भी आधिकारिक जानकारी की घोषणा नहीं की गई है। शिक्षा मंत्रालय ने केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) की समय सीमा 7 वर्षों से बढ़ाकर आजीवन कर दी है। सभी अभ्यर्थियों के लिए परीक्षा की मार्कशीट एवं सफल हुए अभ्यर्थियों के लिए प्रमाण पत्र डिजिटल रूप में अभ्यर्थियों के लिए डिजिलॉकर अकाउंट में जारी किए जाएंगे। 

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा: सामान्य परिचय

CTET Result 2022: प्रति वर्ष केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) का आयोजन दो बार केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा कराया जाता है। यह परीक्षा केंद्र स्तरीय सरकारी शिक्षण कार्य के लिए अनिवार्य है। जिस प्रकार राज्यों के लिए राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा (TET) का आयोजन किया जाता है उसी प्रकार केंद्रीय स्तर पर (CTET) का आयोजन किया जाता है। कई निजी संस्थानों में भी इस परीक्षा का उत्तीर्ण होना आवश्यक माना जाता है।

CTET Result 2022: लाखों अभ्यर्थी हुए परीक्षा में शामिल

CTET Result 2022: केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) में इस वर्ष 2022 में पेपर-1 में करीब 12 लाख एवं पेपर-2 में करीब 11 लाख अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। परीक्षा पूरे भारत में लगभग 20 भाषाओं में आयोजित कराई गई। यह इस परीक्षा का 15वाँ संस्करण था। परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए न्यूनतम अंक हासिल करना आवश्यक है। न्यूनतम अंक सामान्य वर्ग के लिए कम से जम 60 प्रतिशत एवं अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के लिए न्यूनतम अंक 55 प्रतिशत हैं।

केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) की परीक्षा में आवेदन की योग्यता

पेपर-1 अर्थात कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के लिए  आवेदन की योग्यता 50 फीसदी अंकों के साथ बारहवीं पास करने के साथ 50 फीसदी अंकों के साथ ग्रेजुएशन, बीएड या दो वर्षीय डिप्लोमा इन एलिमेंट्री एजुकेशन, या दो वर्षीय डिप्लोमा इन स्पेशल एजुकेशन या 4 वर्षीय बी.एल.एड. होना चाहिए।

Also Read: CTET New Notification 2021: सीटीईटी 2021 के पाठ्यक्रम में होगा बदलाव

पेपर-2 अर्थात कक्षा 6 से लेकर कक्षा 8 तक के लिए आवेदन की योग्यता 50 फीसदी अंकों से बारहवीं पास करने के साथ 4 वर्षीय बी.एल.एड. या 4 वर्षीय बी.ए./ बी.एससी. एड. या बी.ए. एड./बी.एससी. एड. या 50 फीसदी अंकों के साथ ग्रेजुएशन एवं बी. एड. (स्पेशल एजुकेशन) होना आवश्यक है।

ऐसे निकालें अपना परिणाम (CTET Result 2022) 

CTET Result 2022:अभ्यर्थी परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद अपना स्कोरकार्ड CBSE CTET की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर देख सकते हैं। निम्न चरणों के अनुकरण से वे अपना रिज़ल्ट देख सकते हैं।

  • चरण 1- सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • चरण 2- परिणाम जारी होने के पश्चात दी गई लिंक पर जाएं।
  • चरण 3- वांछित जानकारी (अनुक्रमांक एवं जन्मतिथि) भरें।
  • चरण 4- अभ्यर्थी का स्कोरकार्ड सामने आ जायेगा जिसे भविष्य के उपयोग हेतु प्रिंट निकालकर रखें।

जीवन की परीक्षा के परिणाम

जीवन एक परीक्षा है, यह वाक्य अक्सर सुनने में मिल ही जाता है। लेकिन इस परीक्षा को पास कैसे किया जाए यह बहुत कम ही बताया जाता है। मनुष्य जीवन की परीक्षा की असली कसौटी उसके उद्देश्य की प्राप्ति में है। मानव जीवन का उद्देश्य केवल विद्यालयी शिक्षा ग्रहण करना, नौकरी करना, विवाह और सन्तानोत्पत्ति करना नहीं बल्कि मोक्ष है। सत्यभक्ति के माध्यम से मोक्ष पाया जा सकता है। मोक्ष मार्ग के ढेरों रास्ते नहीं हैं इसका एकमात्र रास्ता है सत्यभक्ति। सत्यभक्ति अर्थात शास्त्रों में बताई गई साधना के अनुसार पूर्ण परमेश्वर की भक्ति। यह कोई तत्वदर्शी सन्त ही बता सकता है कि शास्त्रों में लिखे गूढ़ रहस्यों का क्या अर्थ है। बिना गुरु के किये गए बड़े से बड़े पुण्य भी व्यर्थ हैं। आदरणीय सन्त रविदास जी ने कहा है-

बिन गुरु भजन दान बिरथ हैं, ज्यूं लूटा चोर |

न मुक्ति न लाभ संसारी, कह समझाऊँ तोर ||

जीवन की परीक्षा पास करने के लिए गुरु बनाएँ 

मनुष्य जीवन की परीक्षा पास करने हेतु गुरु की आवश्यकता है। गुरु परमात्मा पाने की सीढ़ी है जिसके बिना परमात्मा नहीं पाया जा सकता। गीता अध्याय 4 श्लोक 34 के अनुसार केवल तत्वदर्शी सन्तों की शरण में जाना चाहिए। वे ही पूर्ण गुरु होते हैं जो पूर्ण मन्त्र देकर जीव को चौरासी लाख जन्मों से छुटकारा दिलाते हैं। गुरु इस लोक में सुख प्राप्त करने की विधि तो बताते ही हैं बल्कि मृत्यु के उपरांत मोक्ष प्राप्ति भी केवल गुरु के माध्यम से ही सम्भव है। तत्वदर्शी संत पूरे विश्व में एक ही होता है। 

वर्तमान में पूरे विश्व में एकमात्र पूर्ण तत्वदर्शी सन्त रामपाल जी महाराज हैं जिन्होंने पूरे शास्त्रों के न केवल गूढ़ रहस्य सुलझाए हैं बल्कि सही तत्वज्ञान जन जन तक पहुँचाया है। अधिक जानकारी के लिए देखें सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल अथवा डाउनलोड करें Saint Rampal Ji Maharaj App और स्वयं पढ़ें विभिन्न शास्त्रों के प्रमाण।

About the author

Administrator at SA News Channel | Website | + posts

SA News Channel is one of the most popular News channels on social media that provides Factual News updates. Tagline: Truth that you want to know

SA NEWS
SA NEWShttps://news.jagatgururampalji.org
SA News Channel is one of the most popular News channels on social media that provides Factual News updates. Tagline: Truth that you want to know

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − thirteen =

Subscribe

spot_img
spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related

5G Launch in India [Hindi] | देश में हुआ 5G सर्विसेज का आगाज, इंटरनेट की पांचवी जनरेशन है 5G Bhagat Singh Birth Anniversary (Jayanti) [Hindi]: शहीद-ए-आजम भगतसिंह की 115वीं जयंती पर जानें कि क्यों हैं वह आज भी युवाओं के ह्रदय सम्राट? World Pharmacist Day 2022 [Hindi]: विश्व फार्मासिस्ट दिवस पर जानें अनन्य रोगों से निजात पाने का सरल उपाय