COVID-19 XE Variant: 10 प्रतिशत ज्यादा संक्रामक है कोरोना का नया वेरिएंट

spot_img
spot_img

COVID-19 XE Variant: XE वैरिएंट की अन्य वैरिएंट से 10 प्रतिशत ज्यादा संक्रमण क्षमता है। दुनियां भर में अब तक XE वैरिएंट से 638 संक्रमितों की पुष्टि हो चुकी है। कोविड 19 के नए एक्स ई वैरिएंट का पहला मामला मुम्बई में मिलने की जानकारी BMC ने दी है, हालांकि केंद्र सरकार ने इसकी पुष्टि नहीं की है। मुंबई में दक्षिण अफ्रीकी मूल की महिला का एक्सई वैरिएंट का मामला आने की सूचना आ रही है। इस वैरिएंट के बारे में पूरी जानकारी जानते हैं विस्तार से – 

 COVID-19 XE Variant: मुख्य बिंदु

  • इंग्लैंड में प्रथम बार ओमिक्रोन के एक्स ई वैरिएंट की 19 जनवरी को मिलने की पुष्टि हुई थी।  
  • ओमिक्रोन के BA.2 से 10 प्रतिशत तेज है एक्स ई वैरिएंट की संक्रामक क्षमता। 
  • दुनियां भर में 638 संक्रमितों की अब तक हो चुकी है पुष्टि।
  • WHO ( विश्व स्वास्थ्य संगठन) ने पिछले हफ्ते नये म्यूटेंट के आने चेतावनी जारी की थी।
  • मुंबई में कोविड 19 के एक्स ई वैरिएंट मिलने की खबर बीएमसी ने दी जिसे भारत सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने नकार दिया।

COVID-19 XE Variant: कोविड 19 का एक्स ई वैरिएंट क्या है?

कोविड 19 का एक्स ई वैरिएंट (COVID-19 XE Variant) ओमिक्रोन के दो स्ट्रेन BA.1 और BA.2 से मिलकर बना है यानी का ये दोनों का कॉम्बिनेशन है। शुरुआती रिसर्च के अनुसार XE ओमिक्रोन के BA.2 से 10 प्रतिशत अधिक संक्रामक है। 19 जनवरी को पहली बार इस वैरिएंट की पुष्टि ब्रिटेन में हुई थी और अब तक न्यूजीलैंड, थाईलैंड सहित पूरे विश्व में 638 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। 

कोविड 19 के एक्स ई वैरिएंट (COVID-19 XE Variant) के लक्षण

ओमिक्रोन के सब वैरिएंट एक्स ई में छींकना, नाक बहना, गले की खराश जैसे हल्के लक्षण देखने को मिले हैं, मगर यह 10 प्रतिशत ज्यादा तेजी से फैलता है और चौथी लहर का जिम्मेदार भी हो सकता है ।     

कोविड 19 का एक्स ई वैरिएंट कितना ख़तरनाक

ओमिक्रोन के एक्स ई वैरिएंट (COVID-19 XE Variant) में हल्के लक्षण देखने को मिले हैं। अभी तक गंभीर और खतरनाक लक्षण देखने को नहीं मिले हैं। मगर इस वैरिएंट में काफी आक्रामकता और तेजी से फैलने के गुण है आगे और भी गंभीर लक्षण देखने को मिल सकते हैं ।    

भारत में प्रथम अपुष्ट मामला

कोविड 19 का एक्स ई वैरिएंट (COVID-19 XE Variant) का प्रथम मामला मुंबई में मिला है। बृहदमुम्बई नगर पालिका के सूत्रों के अनुसार दक्षिण अफ्रीकी मूल की 50 वर्षीय महिला जो 10 फरवरी को भारत आई थी उसकी जांच में एक्सई वैरिएंट से संक्रमित होने की खबर सामने आई थी। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस खबर की पुष्टि नहीं की है।     

WHO ने जारी की थी नए म्यूटेंट की चेतावनी 

COVID-19 XE Variant: ओमिक्रोन के सब वैरिएंट BA.2 की तुलना में एक्स ई (XE) वैरिएंट 10 प्रतिशत ज्यादा संक्रामक है, पिछले हफ्ते ही नए म्यूटेंट की चेतावनी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा जारी की गई थी ।        

सतभक्ति से गंभीर से गंभीर बीमारियां होती है ठीक, अकालमृत्यु भी टलती है

कोविड 19 ने वैश्विक स्तर पर मानव समाज को बहुत ही बड़ा आघात किया है। लोगों का पूरा जीवन ही बदल दिया है। ऐसे समय में लाखों लोगों नें सतभक्ति का मार्ग अपनाकर असाध्य रोगों और तकलीफों से मुक्ति पाई है। कईयों की तो मृत्यु भी टल गई है। 

Also Read: Coronavirus Omicron Variant: क्या है कोरोना का ओमीक्रॉन वेरिएंट तथा क्या है इससे बचाव का रास्ता?

धर्म ग्रंथों में प्रमाण है कि पूर्ण परमात्मा अपने साधक की मृत्यु को टालकर 100 वर्ष की आयु प्रदान कर देता है जो तत्वदर्शी संत से उपदेश प्राप्त कर शास्त्रानुकूल भक्ति करता है। वर्तमान में वे तत्वदर्शी संत एक मात्र सतगुरुदेव रामपाल जी महाराज ही हैं जिनसे उपदेश प्राप्त कर आज देश विदेश के लाखों अनुयायियों ने असाध्य रोगों से छुटकारा पाया है और सुखमय जीवन जी रहे हैं ऐसे गुरू के बारे में कहा गया है ।       

  सात द्वीप नौ खंड में गुरू से बड़ा न कोय,

   कर्ता करे न कर सके गुरू करे सो होय।    

सच्चे संत से उपदेश प्राप्त कर मर्यादा में रहकर भक्ति करने वालों के सारे कष्ट दूर होते हैं और सर्वसुखों की प्राप्ति होती है।                       

विश्व का कल्याण संभव है संत रामपाल जी की शरण में

धरती पर परमात्मा का भेजा हुआ नुमाईंदा जो उसकी सर्व शक्ति का अधिकारी है वो संत रामपाल जी महाराज ही हैं जिनसे उपदेश प्राप्त कर आज करोड़ों लोगों ने अपने और अपनों का जीवन सुखी, निरोगी और सार्थक किया है आप जी भी उनसे निशुल्क उपदेश प्राप्त करने के लिए Sant Rampal Ji Maharaj App डाउनलोड करें।

Latest articles

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...
spot_img
spot_img

More like this

The G7 Summit 2024: A Comprehensive Overview

G7 Summit 2024: The G7 Summit, an annual gathering of leaders from seven of...

16 June Father’s Day 2024: How to Reunite With Our Real Father?

Last Updated on 12 June 2024 IST: Father's day is celebrated to acknowledge the...