Budget 2024: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया अंतरिम बजट 2024, जानिए किसके खाते में क्या आया तो किसके अरमान रह गए अधूरे

spot_img

आज केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया अंतरिम बजट (Budget 2024 in Hindi) । पिछले वर्ष सरकार का कुल खर्च 45 लाख करोड़ रुपए रहा। वहीं इस वर्ष 44.90 लाख करोड़ रुपए कुल खर्च रहा। बजट में मध्यम वर्ग का विशेष ध्यान रखा गया है। बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। साथ ही पुरानी योजनाओं को विस्तृत करने की बात कहीं। बजट 2024 से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी के लिए पढ़ना जारी रखें।

Table of Contents

  • केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पेश किया आज अंतरिम बजट
  • नए संसद भवन के पटल पर पहला बजट है, बजट 2024
  • पीएम मोदी ने कहा “देश के भविष्य निर्माण का बजट: गरीब, महिलाएं, युवा, अन्नदाताओं के लिए बजट है
  • चुनाव से पहले अंतरिम बजट में गरीब, महिला, युवा और किसानों पर सरकार का फोकस
  • इनकम टैक्स में कोई राहत नही है
  • तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से जानें रामनाम रूपी धन के संचय की समस्त जानकारी

विकसित भारत का सपना साकार करने के लिए रेलवे का आधुनिकीकरण अहम भूमिका निभाएगा। केंद्रीय बजट में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने रेलवे के लिए तीन नए गलियारों की घोषणा की जिसमें – ऊर्जा, खनिज और सीमेंट गलियारा, पोर्ट कनेक्टिविटी गलियारा और एक उच्च यातायात घनत्व गलियारा शामिल है। इसके अतिरिक्त, वित्त मंत्री निर्मल सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मेट्रो रेल और नमो भारत जैसी प्रमुख रेल बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के विस्तार की घोषणा की। वित्त मंत्री ने यह भी घोषणा की कि यात्रियों की सुरक्षा और सुविधा में सुधार के लिए 40,000 पुरानी रेल बोगियों को वंदे भारत कोच में परिवर्तित किया जाएगा। बता दें वर्तमान में रेल की आवाजाही में यात्रियों को अधिक भीड़ भाड़ का सामना करना पड़ रहा है। इसी को ध्यान में रखते हुए यह ऐलान किया गया है

बजट (Budget 2024 in Hindi) आने से पूर्व ऐसी उम्मीद लगाई जा रही थी इस बार के बजट से मध्यम वर्ग के लिए राहत भरी खबर आएगी, क्योंकि यह चुनावी वर्ष भी है इसलिए भी मध्यम वर्ग की तरफ सरकार का विशेष ध्यान रहेगा, जानिए क्या है विशेष इस बजट में मध्यम वर्ग के लिए

Budget 2024: टैक्सपेयर्स को इनकम टैक्स में नही मिली कोई राहत

करदाताओं को हर बार बजट से उम्मीद होती है कि इनकम टैक्स (Income Tax) से जुड़ी कुछ खास घोषणाएं होंगी और इनकम टैक्स में कुछ राहत मिलेगी। इस बार के बजट से भी टैक्सपेयर्स को कुछ ऐसी ही उम्मीदें थीं, लेकिन इस बार का बजट भी टैक्सपेयर्स के लिए खाली थैला साबित हुआ, क्योंकि वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने इस बार के बजट में इनकम टैक्स (Tax) के स्लैब्स में तो कोई बदलाव नहीं किया है, पुराने टैक्स स्लैब 7 लाख की सालाना आय वाले को ही टैक्स फ्री जारी रखा गया। इस बार टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया गया हैं। औसत GST कलेक्शन दोगुना हुआ।

सर्वाइकल कैंसर के लिए मुफ्त टीकाकरण

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े कई एलान किए। इसी क्रम में उन्होंने हेल्थ सेक्टर के लिए भी कई सौगातों की घोषणा की। वित्त मंत्री ने अपने भाषण में कहा कि हेल्थ सेक्शन में विकास को लेकर बजट में काफी कुछ शामिल किया गया है। महिलाओ में बढ़ते सर्वाइकल कैंसर की रोकथाम के लिए 9-14 साल की लड़कियों के मुफ्त टीकाकरण अभियान शुरू किए जाएंगे। इस अभियान की शुरुआत मिशन ‘इंद्रधनुष’ के अंतर्गत की जाएगी। 

■ Also Read: “Breaking Down Budget 2024: Major Highlights on Income Tax, Infrastructure, Railways, EVs, and Beyond!”

Budget 2024 में पीएम आवास में बढ़ोत्तरी

बजट भाषण के दौरान केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने कहा कि पीएम आवास के तहत 70% घर महिलाओं के लिए बनाए गए। साथ ही वित्तमंत्री ने कहा कि सरकार मध्यम वर्ग के लिए विशेष आवास योजना (new housing scheme for middle class) लेकर आएगी। इस योजना का लाभ किराये के घरों, झुग्गी बस्तियों एवं चॉल में रहने वाले लोगों को मिलेगा जो अपना खुद का घर बनाने का सपना देखते हैं पर कमजोर आर्थिक स्तिथि के कारण पूरा नही कर पाते हैं, ऐसे लोगों का सपना सरकार पूरा करेगी। वित्त मंत्री ने कहा कि कोविड महामारी के बावजूद पीएम आवास योजना (ग्रामीण) के तहत तीन करोड़ घर मुहैया कराए गए हैं। वहीं आने वाले सालों में दो करोड़ नए घर भी परिवारों को दिए जाएंगे।

  • सभी इलाकों में नैनो DAP का इस्तेमाल बढ़ाया जाएगा
  • डेयरी किसानों की मदद के लिए सरकार योजना लाएगी
  • कृषि के लिए मॉडर्न स्टोरेज, सप्लाई चेन पर फोकस
  • सरसों, मूंगफली की खेती को बढ़ावा देगी सरकार
  • मत्स्य योजना को बढ़ावा देने के लिए काम

आपको बता दें कि अंतरिम बजट 2024 के एक दिन पहले सरकार ने मोबाइल फोन के पार्ट्स पर लगने वाली इम्पोर्ट ड्यूटी को घटा दिया है मोबाइल फोन के निर्माण में उपयोग किये जाने वाले पार्ट्स पर लगने वाली इम्पोर्ट ड्यूटी को 15% से घटाकर 10% कर दिया है जिससे स्मार्टफोन, फीचर फोन तथा प्रीमियम आईफोन की कीमतों में गिरावट देखने को मिल सकती है। महंगा या सस्ता कस्टम ड्यूटी या एक्साइज ड्यूटी में कोई बदलाव करने पर ही होता है। इस अंतरिम बजट में वित्त मंत्री ने एक्साइज या कस्टम ड्यूटी पर ज्यादा कुछ नहीं बोला जिसके कारण कुछ भी प्रत्यक्ष रूप से महंगा या सस्ता नहीं होगा।

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि विकसित भारत के निर्माण के लिए सरकार का पूरा समर्थन मिलेगा राज्यों को। राज्य सरकारों को विकास कार्यों में तेजी के लिए सरकार द्वारा ब्याज मुक्त लोन देने का भी ऐलान किया गया। अपने बजट भाषण में वित्तमंत्री ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि 50 साल के लिए राज्यों को 75000 करोड़ का ब्याज मुक्त लोन (Interest Free Loan) और दिया जाएगा।

बजट (Budget 2024 in Hindi) भाषण के दौरान केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सरकार द्वारा जनहित में चलाई जा रही योजनाओं का जिक्र किया। आइए जानते हैं वे कौन सी योजनाएं हैं जो आज चर्चा में हैं।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने सरकार के कार्यों व चल रही योजनाओं की ओर ध्यान आकर्षित किया जो इस प्रकार हैं:-

  • देश भर में 149 एयरपोर्ट काम कर रहे हैं।
  • 1 करोड़ महिलाओं को बनाया लखपति दीदी। 
  • 10 सालों में विमानन क्षेत्रफल का कायाकल्प किया।
  • तीन तलाक पर कड़े कानून लाए।
  • कौशल विकास को बढ़ावा दिया।
  • पीएम आवास के तहत 3 करोड़ घर।
  • इंफ्रास्ट्रक्चर पर 11.11 लाख करोड़ खर्च।
  • 40 हजार रेल डिब्बे वन्दे भारत में जोड़े जाएंगे।
  • सरकार लघु उद्योग को बढ़ावा दे रही है।
  • हवाई अड्डों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है।
  • पर्यावरण के विकास पर जोर दिया गया।

विकसित भारत निर्माण के लक्ष्य को लेकर भी वित्तमंत्री ने अपने भाषण में कई अग्रिम योजनाओं का जिक्र किया, पढ़ें आगे और जानें कि वह योजनाएं कौन सी हैं

अग्रिम कार्यों और योजनाओं के बारे में निम्न बातें वित्त मंत्री ने कही 

  1. लखपति दीदी योजना से 3 करोड़ महिलाओं को जोड़ने का लक्ष्य
  2. 5 साल में 2 करोड़ नए घर बनाएंगे
  3. प्रमुख रेल कॉरिडोर बनाए जाएंगे
  4. 4 करोड़ किसानों को फसल बीमा
  5. नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे
  6. 9 से 14 साल की लड़कियों को मुफ्त टीकाकरण
  7. आशा आंगनबाड़ी वर्कर आयुष्मान में आयेंगे
  8. इलेक्ट्रॉनिक गाड़ियों को बढ़ावा दिया जायेगा
  9. पर्यटन के लिए लक्षद्वीप जैसे जगहों का विकास 
  10. निर्यात को दो गुना और 55 लाख रोजगार बढ़ाने का लक्ष्य
  11. सूर्योदय योजना के तहत 1 करोड़ घर में सौर ऊर्जा और 300 यूनिट बिजली फ्री का लक्ष्य
  12. राज्यों को कर्ज मुक्त लोन
  13. सर्वाइकल कैंसर के लिए टीकाकरण को बढ़ावा दिया जायेगा
  14. रेलवे और समुद्री मार्ग को जोड़ने पर जोर।
  15. जनसंख्या नियंत्रण पर उच्चकोटि कमेटी का गठन
  16. विकसित भारत के हिसाब से कमेटी काम करेगी
  17. माल भाड़ा गलियारा बनाया जायेगा
  18. डिफेंस में डीप टेक्नोलॉजी को मिलेगा बढ़ावा
  19. छोटे शहरों को जोड़ने के लिए 517 नए रूट पर UDAN स्कीम लाएगी सरकार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतरिम बजट पर कहा कि, “आज का यह बजट अंतरिम बजट तो है ही लेकिन यह समावेशी और इनोवेटिव भी है। यह बजट विकसित भारत के चार स्तंभ- युवा, गरीब, महिला, किसान सभी को सशक्त करेगा। यह बजट देश के भविष्य के निर्माण का बजट है।” 

सभी सोचते हैं कि बड़े होकर पढ़-लिखकर अपने निर्वाह की खोज करके विवाह कराकर परिवार पोषण करेंगे। बच्चों को उच्च शिक्षा तक पढ़ाऐंगे। फिर उनको रोजगार मिल जाए। उनका विवाह करेंगे। परमात्मा संतान को संतान दे। फिर हमारा कर्तव्य पूरा हुआ। कई गाँव या गवांड (पड़ौसी गाँव) के वृद्ध इकट्ठे होते हैं तो आपस में कुशल-मंगल जानते हैं और एक दूसरे से कहते हैं कि परमात्मा की कृपा से दो लड़के तथा दो लड़की हैं। कठिन परिश्रम करके पाला-पोसा तथा पढ़ाया, विवाह कर दिया। सब के सब बेटा-बेटियों वाले हैं। मेरा कार्य पूर्ण हुआ। 75 वर्ष का हो गया हूँ। 

अब बेशक मौत हो जाए, मेरा जीवन सफल हुआ। वंश बेल चल पड़ी, संसार में नाम रहेगा। लेकिन विचारणीय बात यह है कि क्या मनुष्य जीवन सिर्फ यहीं तक सीमित है? नहीं, बल्कि मनुष्य जीवन का मुख्य उद्देश्य है पूर्ण मोक्ष प्राप्ति। परमात्मा कबीर जी कह रहे हैं कि हे भोले मानव! मुझे आश्चर्य है कि बिना गुरू से दीक्षा लिए किस आशा को लेकर जीवित है। न तो शरीर तेरा है, यह भी त्यागकर जाएगा। फिर यह सम्पत्ति आपकी कैसे है?

परमात्मा बताते हैं:- 

बिन उपदेश अचम्भ है, क्यों जीवत है प्राण।

भक्ति बिना कहाँ ठौर है, ये नर नाहीं पाषाण।।

कबीर, काया तेरी है नहीं, माया कहाँ से होय।

भक्ति कर दिल पाक से, जीवन है दिन दोय।।

अधिक जानकारी के लिए विजिट करे jagatgururampalji.org

प्रश्न. बजट कब पेश किया जाता है? 

उत्तर- देश का आम बजट 1 फरवरी को पेश किया जाता है।

प्रश्न. बजट किसके द्वारा पेश किया जाता है?

उत्तर. वित्त मंत्री के द्वारा हर साल बजट पेश किया जाता है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने छठवीं बार बजट पेश किया।

प्रश्न. बजट के विषय मे संविधान में क्या उल्लेख है?

उत्तर. बजट का वर्णन संविधान के अनुच्छेद 112 में वार्षिक वित्तीय विवरण के रूप में निर्दिष्ट किया गया है।

प्रश्न. पहली बार आम बजट कब पेश किया गया था?

उत्तर. भारत का पहला बजट 18 फरवरी 1860 को जेम्स विल्सन द्वारा प्रस्तुत किया गया था परन्तु स्वतंत्र भारत का पहला बजट वित्तमंत्री षणमुखम शेट्टी द्वारा 26 नवम्बर 1947 को पेश किया गया था।

प्रश्न. भारतीय बजट का जनक किसे कहा जाता है?

उत्तर. भारतीय बजट का जनक पीसी महालनोबिस को कहा जाता है।

प्रश्न. आम बजट 1 फरवरी के दिन प्रस्तुत कब से किया जा रहा है?

उत्तर. वर्ष 2017 से।

Latest articles

World Celebrates 27th February as World NGO Day: Saint Rampal JI Reforming Society From His True Spiritual Knowledge

Last Updated on 25 February 2024 | World NGO Day 2024: World NGO Day...

संत रामपाल जी महाराज के सतलोक आश्रम धनाना धाम में लगाया गया नेत्रदान और नेत्र जांच शिविर

चाहे सामाजिक सुधार हो या समाज हित, जन कल्याण तथा मानव सेवा के कार्यों...

Guru Ravidas Jayanti 2024: How Ravidas Ji Performed Miracles With True Worship of Supreme God?

Last Updated on 24 February 2024 IST: In this blog, we will learn about...
spot_img

More like this

World Celebrates 27th February as World NGO Day: Saint Rampal JI Reforming Society From His True Spiritual Knowledge

Last Updated on 25 February 2024 | World NGO Day 2024: World NGO Day...

संत रामपाल जी महाराज के सतलोक आश्रम धनाना धाम में लगाया गया नेत्रदान और नेत्र जांच शिविर

चाहे सामाजिक सुधार हो या समाज हित, जन कल्याण तथा मानव सेवा के कार्यों...