mppsc-prelims-exam-2020-21-admit-card in hindi

MPPSC Prelims Exam 2020-21 Admit Card: मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग ने जारी किए एडमिट कार्ड, जानें शिक्षा के मूल उदेश्य को

Education Hindi News
Share to the World

MPPSC Prelims EXAM 2020-21 Admit Card: मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) ने राज्य सेवा 2020 की प्रारंभिक परीक्षा के प्रवेश पत्र (Admit card) जारी कर दिए हैं यह परीक्षा आगामी 25 जुलाई को विभिन्न केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। पूर्व में यह परीक्षा 11 अप्रैल को होनी थी, परन्तु कोरोना की दूसरी लहर के कारण इसे स्थगित करने का निर्णय लिया गया था। अब नई तारीखों का ऐलान कर प्रवेश पत्र जारी कर दिए हैं।

MPPSC Prelims EXAM 2020 Admit Card : मुख्य बिन्दु

  • मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग ने आगामी 25 जुलाई को होने वाली राज्य सेवा 2020 की प्रारंभिक परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं
  • इस बार कोरोना संक्रमित छात्र भी दे सकेंगे परीक्षा
  • दो पालियों (शिफ्टों) में होगी परीक्षा
  • करीब 3 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों के शामिल होने की संभावना।
  • तीन वर्ष की आयु से तत्वदर्शी संत रामपाल जी से नाम दीक्षा लेकर मनुष्य जीवन की वास्तविक शिक्षा ग्रहण करें

MPPSC Prelims EXAM 2020 Admit Card: ऐसे करें एडमिट कार्ड डाउनलोड

  • सबसे पहले उम्मीदवारों को एमपीपीएससी की ऑफिशियल वेबसाइट mppsc.nic.in पर जाना होगा।
  • होमपेज पर आपको ‘Admit Card- State Service Preliminary Exam 2021’ लिंक दिखेगा, जिस पर क्लिक करें
  • यहां आपके सामने डिटेल भरने का विकल्प आएगा। आप अपनी डिटेल फिल करने के बाद Submit कर क्लिक कर दें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एडमिट कार्ड आ जाएगा, जिसे आप डाउनलोड कर लें। साथ ही इसका एक प्रिंट आउट निकालकर अपने पास रख लें।
  • एडमिट कार्ड डाउनलोड की यह प्रक्रिया आप अपने पीसी या स्मार्ट फोन दोनों से कर सकते हैं।

MPPSC Prelims EXAM 2020-21 Admit Card Link 

इच्छुक उम्मीदवार इस लिंक से आगामी 25 जुलाई को होने वाली मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की राज्य सेवा 2020 की परीक्षा के प्रवेश पत्र (Admit Card) डाउनलोड कर सकते हैं

MPPSC Prelims EXAM 2020-21 Admit Card Link

क्या है (MPPSC Prelims EXAM 2020 Admit Card) की समय सारिणी

अवगत करा दें कि यह परीक्षा 25 जुलाई को दो पालियों (Shift) में आयोजित की जाएगी जिसमें से पहली पाली (Shift) 10 बजे से 12 तक होगी वहीं दूसरी पाली (Shift) 2 से 4 बजे तक होगी। वहीं प्रथम परीक्षा 10 से दोपहर 12 बजे तक सामान्य अध्ययन और द्वितीय परीक्षा 2:15 से शाम 4:15 बजे सामान्य अभिरुचि परीक्षण रहेगी। परीक्षा केंद्रों में कोरोना दिशा-निर्देश (Guideline) का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। बिना मास्क के छात्रों को परीक्षा केंद्रों में प्रवेश की अनुमति नहीं है।

Also Read: CBSE Class 12 Exam 2021: जीवन की परीक्षा की तैयारी – है ज्यादा जरूरी

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की ओर से इस परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया 11 जनवरी, 2021 से शुरू की गई थी। इसमें आवेदन की आखिरी तारीख 10 मार्च, 2021 थी। इस परीक्षा के माध्यम से कुल 235 रिक्त पदों को भरा जाना है।

MPPSC Prelims EXAM 2020-21: जानिए क्या हैं परीक्षार्थियों के लिए दिशा-निर्देश (Guideline)

उम्मीदवार अपना प्रवेश पत्र (Admit Card) डाउनलोड करने के बाद आप उस पर दिए दिशा-निर्देशों (Guidelines) को अच्छी तरह पढ़ लें। कोरोना महामारी के कारण परीक्षा के दौरान सख्त नियमों का पालन करना होगा। अगर आपने वैक्सीन लगवा ली है, तो आप उसका सर्टिफिकेट भी अपने साथ ले जाएं, ताकि जरूरत पड़ने पर आप उसे दिखा सकें। उसमें दिए गए नियमों का आपको सख्ती से पालन करना होगा

कोरोना संक्रमित छात्र भी हो सकेंगे शामिल

मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग (MPPSC) ने परीक्षा से ठीक पहले कोरोना से संक्रमित होने वाले छात्रों को परीक्षा में शामिल होने की अनुमति दे दी है। इसके लिए छात्रों को पहले अपनी रिपोर्ट जिला कलेक्टर को देनी होगी। जानकारी के मुताबिक कोरोना संक्रमित छात्रों के लिए अलग से परीक्षा केंद्र की व्यवस्था की जाएगी।

MPPSC Prelims EXAM Admit Card के लिए परीक्षार्थियों को इन बातों का भी रखना होगा ध्यान

उम्मीदवार छात्र परीक्षा केंद्र पर पहुंचने से पहले अपना एडमिट कार्ड, आधार कार्ड, फोटो और जरूरी दस्तावेज बैग में जरूर रख लें। अगर उम्मीदवार छात्र इन जरूरी दस्तावेजों को साथ नहीं ले जाएंगे, तो उम्मीदवार छात्रों को परीक्षा केंद्र पर परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। परीक्षा केंद्र पर मास्क लगाकर पहुंचें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। परीक्षा से संबंधित नियमों के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं या वेबसाइट पर दिए गए हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर अपने सवाल पूछ सकते हैं।

शैक्षणिक ज्ञान के समान ही आवश्यक है तत्वज्ञान

वर्तमान शिक्षा का क्या उद्देश्य है? वर्तमान शिक्षा का उद्देश्य है, उच्चतम अंक लाने का प्रयत्न और एक बढ़िया पैकेज वाली नौकरी पाना और कुल मिलाकर यही जीवन का उद्देश्य बन गया है। नौकरी पाना, परिवार का विस्तार करना और अंत में मृत्यु को प्राप्त हो जाना। ठीक यही कार्य पशु भी करते हैं। मानव जीवन पशुओं से इतर है, उनसे श्रेष्ठ है।

तो विचार करें कि इस अनमोल मानव जीवन का उद्देश्य भी पशु-पक्षियों से भिन्न ही है। अतः माता पिता को स्वयं और उनके बच्चों को तीन वर्ष की आयु से तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से तत्वज्ञान की नाम दीक्षा लेकर मनुष्य जीवन के वास्तविक उद्देश्य को समझना चाहिए। पवित्र गीता जी में भी गीताज्ञान दाता ने अर्जुन से कहा है कि हे! अर्जुन मनुष्य जन्म का प्रधान उद्देश्य केवल पूर्ण मोक्ष प्राप्त करना है।


Share to the World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

11 + twenty =