Free Communal Meal By Saint Rampal Ji Maharaj: संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में कराया जा रहा है निःशुल्क ऐतिहासिक भण्डारा

spot_img

संत रामपाल जी महाराज के सानिध्य में श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में शुरू हो चुका है ऐतिहासिक भंडारा जो कि 25 फरवरी से 26 मार्च अर्थात एक महीने तक लगातार चलेगा। 25 फरवरी से शुरू हुए इस विशाल भंडारे में प्रतिदिन एक से डेढ़ लाख लोग भंडारा ग्रहण कर रहे हैं। भंडारा शुद्ध देशी घी से तैयार किया जा रहा है जिसमें हलवा, पूड़ी, सलाद, रायता, बूंदी आदि सामग्री शामिल हैं। इस पूरी व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए संत रामपाल जी महाराज जी के शिष्य निःशुल्क सेवाएं दे रहे हैं। बता दें कि यह ऐतिहासिक भंडारा निःशुल्क कराया जा रहा है। जो कि चौबीसों घंटे चलायमान है। इस भंडारे के दूसरे दिन ही डेढ़ लाख लोगों ने भंडारा प्रसाद ग्रहण किया।

  • संत रामपाल जी महाराज के सानिध्य में चल रहा है श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में ऐतिहासिक भंडारा
  • अयोध्या में 25 फरवरी से 26 मार्च यानि एक महीने तक चलेगा निःशुल्क भंडारा
  • भंडारे में शुद्ध देशी घी से बने पौष्टिक व्यंजन उपलब्ध हैं
  • 26 फरवरी को ही डेढ़ लाख लोगों ने भंडारा ग्रहण किया
  • भंडारे में सभी राज्यों से आ रहे हैं लोग 
  • सतलोक आश्रमों में होते हैं लगभग हर दूसरे महीने में विशाल भंडारे एवं सत्संग

जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज के सानिध्य में ऐतिहासिक भंडारे का आयोजन 25 फरवरी से शुरू हो चुका है जो 26 मार्च तक चलेगा। यह भंडारा अपने आप में एक विश्व रिकॉर्ड भी कायम कर रहा है क्योंकि विश्व के इतिहास में ऐसा खुला भंडारा वो भी लगातार 30 दिनों तक कही नहीं आयोजित हुआ है। श्रीराम जन्मभूमि इस ऐतिहासिक भंडारे का गवाह बन रही है।

इस ऐतिहासिक भंडारे में संत रामपाल जी महाराज जी के हजारों शिष्य 24 घंटे निःशुल्क सेवाएं दे रहे हैं। भंडारे में शुद्ध देशी घी से बनी हलवा, पूड़ी, सब्जी, सलाद, बूंदी, रायता आदि पौष्टिक व्यंजन श्रद्धालुओं को उपलब्ध कराए जा रहे हैं। भंडारे के दूसरे दिन ही डेढ़ लाख लोगों ने भंडारा ग्रहण किया।

जी हां आपने सही सुना श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में संत रामपाल जी महाराज के सानिध्य में होने वाला खुला भंडारा लगातार 30 दिनों तक चलेगा जो कि 25 फरवरी से 26 मार्च तक रहेगा। भंडारे कार्यक्रम पूरे विश्व में संत रामपाल जी के सतलोक आश्रमों में ही सबसे ज्यादा आयोजित होते हैं। साथ ही संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में विशाल सत्संग, दहेज मुक्त विवाह और रक्तदान शिविरों का आयोजन भी किया जाता है।

कुछ स्वार्थी लोगों ने अफवाह फैला रखी थी कि संत रामपाल जी महाराज हिंदू देवी-देवताओं के विरोधी हैं। श्रीराम जन्मभूमि का कार्यक्रम यह दर्शाता है कि संत रामपाल जी महाराज ही असली सनातन धर्म के हितैषी संत हैं। संत रामपाल जी महाराज सभी धर्मों को एक साथ प्यार तथा भाईचारे से मिलकर रहने की शिक्षा देते हैं। संत रामपाल जी महाराज का नारा है कि

 जीव हमारी जाति है, मानव धर्म हमारा।

हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, धर्म नहीं कोई न्यारा।।

अर्थात् हम सब जीव हैं, हमारा मानव धर्म है। कोई भी धर्म अलग नहीं है। तत्वज्ञान न होने से हम एक-दूसरे में भेदभाव करते हैं।

कहते हैं कि पूरे विश्व में एक समय में एक ही पूर्ण संत होता है। वर्तमान में संत रामपाल जी महाराज ही एकमात्र पूर्ण संत है जो सभी शास्त्रों को खोलकर उनकी सच्चाई से मानव समाज को रूबरू करा रहे हैं। वर्तमान के सभी धर्मगुरुओं को अपने ही शास्त्रों के बारे में नहीं पता है कि उसमें लिखा क्या है। इसलिए अपना समय व्यर्थ किये बिना अबिलम्ब संत रामपाल जी महाराज के ज्ञान को समझें और निष्पक्ष विचार कर निर्णय लें क्योंकि मानव शरीर बहुत ही सौभाग्य से प्राप्त होता है। इसका लाभ अवश्य उठाएं। कबीर परमेश्वर जी कहते हैं कि

 मानुष जनम दुर्लभ है, मिले न बारम्बार।

जैसे तरुवर से पत्ता टूट गिरे, बहुर न लगता डारि।।

Q1. श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में किसके सानिध्य में 30 दिवसीय ऐतिहासिक भंडारा आयोजित किया जा रहा है?

Ans. श्री राम जन्म भूमि अयोध्या में संत रामपाल जी महाराज जी के सानिध्य में 30 दिवसीय ऐतिहासिक भंडारा आयोजित किया जा रहा है जो कि पूर्णतः निःशुल्क है।

Q2. यह ऐतिहासिक भंडारा कितने दिनों तक चलेगा?

Ans. यह ऐतिहासिक भंडारा 30 दिनों तक लगातार चलेगा।

Q3. श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में चल रहे ऐतिहासिक भंडारे में कौन निःशुल्क सेवाएं दे रहे हैं?

Ans. श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या में संत रामपाल जी महाराज जी के अनुयाई निःशुल्क सेवाएं दे रहे हैं।

Q4. अयोध्या में आयोजित भंडारे में एक दिन में कितने लोग भंडारा ग्रहण कर रहे हैं?

Ans. भंडारे में एक दिन में एक लाख से डेढ़ लाख लोग भंडारा ग्रहण कर रहे हैं।

Q5. वर्तमान में एकमात्र पूर्ण संत कौन हैं?

Ans. वर्तमान में एकमात्र पूर्ण संत जगतगुरू तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी हैं।

Latest articles

Devshayani Ekadashi 2024 : देवशयनी एकादशी पर जानिए पूर्ण परमात्मा की सही पूजा विधि

Last Updated on 12 July 2024 IST: आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष एकादशी यानी...

धीरेंद्र शास्त्री बागेश्वर धाम क्यों है सनातन धर्म के शत्रु? 

पिछले साल एक नए कथावाचक ने भारतीय धार्मिक भक्त समाज में ज़ोरदार एंट्री मारी...

TRP Driven Indian Media: A Disgrace to Democracy

Purveyors of sensationalism and falsehoods, the Indian media has once again proven it is...
spot_img

More like this

Devshayani Ekadashi 2024 : देवशयनी एकादशी पर जानिए पूर्ण परमात्मा की सही पूजा विधि

Last Updated on 12 July 2024 IST: आषाढ़ मास की शुक्ल पक्ष एकादशी यानी...

धीरेंद्र शास्त्री बागेश्वर धाम क्यों है सनातन धर्म के शत्रु? 

पिछले साल एक नए कथावाचक ने भारतीय धार्मिक भक्त समाज में ज़ोरदार एंट्री मारी...