Coronavirus Death Update hindi news

Coronavirus Death Update: सतभक्ति का अभाव – महामारी बनी काल

CoronaVirus Updates Hindi News
Share to the World

Coronavirus Death Update in India: वैश्विक महामारी Covid-19 ने जिस प्रकार के हालात निर्मित किये हैं वह निश्चित रूप से दिल तोड़ने से भी ज्यादा दुखदाई हैं। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने देश को झकझोर कर रख दिया है। संक्रमण की व्यापकता के आगे हमारी सारी तैयारियां नाकाफी साबित हो रही हैं। दिन ब दिन बढ़ रहे मरीजों की तादाद व मौतों का सिलसिला रुकने का नाम ही नहीं ले रहा है। प्रिय पाठकों को अवगत कराएंगे कि सतभक्ति द्वारा काल (मृत्यु) का ग्रास बनने से कैसे बच सकते हैं?

Contents hide

Coronavirus Death Updates India: सम्बंधी मुख्य बातें 

  • आम हो या खास, इस महामारी के सब हो रहे हैं शिकार
  • श्मशान में जलती चिताएं और कब्रगाह बयां कर रही हैं Covid-19 की भयावह स्थिति
  • टीवी एंकर रोहित सरदाना और “शूटर दादी” के नाम से मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर नहीं रहे  
  • अटॉर्नी जनरल ‘महान्यायवादी’ सोली सोराबजी, बिहार मुख्य सचिव आईएएस अरुण कुमार सिंह भी बने काल के ग्रास
  • आज (1 मई) से 18-45 वर्ष के लोगों को वैक्सीन लगना होगी शुरू
  • तत्वदृष्टा संत रामपाल जी महाराज के द्वारा दी गयी सतभक्ति रूपी दवा से ही बचाव संभव
  • पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी हैं सबके रक्षक

Coronavirus Death Update: Aaj Tak TV Channel News Anchor Rohit Sardana

लंबे समय तक कई न्यूज चैनलों में कार्यरत रहे वरिष्ठ पत्रकार एवं टीवी एंकर 42 वर्षीय रोहित सरदाना इन दिनों इंडिया टुडे ग्रुप के आज तक न्यूज चैनल में एंकर थे। कोरोना के कारण पिछले एक सप्ताह से संक्रमित थे। उन्हें शुक्रवार की सुबह हार्ट अटैक हुआ, जिसके बाद उन्होंने नोएडा के मेट्रो अस्पताल में दम तोड़ दिया। 

Coronavirus Death Update: Covid-19 से ग्रसित “शूटर दादी” चंद्रो तोमर ने भी दुनिया को कहा अलविदा 

“शूटर दादी” के नाम से मशहूर निशानेबाज चंद्रो तोमर कई दिनों से वैश्विक महामारी Covid-19 से ग्रसित थीं। निशानेबाजी में हार न मानने वालीं शूटर दादी को अंततः Covid-19 से जिंदगी की जंग में हार माननी पड़ी। चंद्रो तोमर ने 60 साल की उम्र में निशानेबाजी सीखी और कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीती। उन्हें विश्व की सबसे उम्रदराज निशानेबाज माना जाता है।

पूर्व Attorney General सोली सोराबजी का कोरोना संक्रमण से निधन

1930 में जन्में और 1953 में बॉम्बे हाईकोर्ट से अपनी प्रैक्टिस शुरू करने वाले सोली सोराबजी पहले 1989 से 1990 तक और दूसरी बार 1998 से 2004 तक ‘महान्यायवादी’ रहे। 2002 में पद्म विभूषण सम्मान से नवाजा किया। करीब सात दशक तक कानूनी पेशे से जुड़े सोराबजी की बड़े मानवाधिकार वकीलों में गिनती होती थी। 1997 में UNO के दूत बनकर नाइजीरिया गए, UN-सब कमीशन के चेयरमैन भी रहे। कोरोना संक्रमित होने के बाद दिल्ली के एक प्राइवेट अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था जहां शुक्रवार सुबह 91 साल की उम्र में उनका निधन हो गया।

बिहार सरकार के मुख्यसचिव अरुण कुमार सिंह भी बने कोरोना काल ग्रास 

1985 बैच के बिहार कैडर के आईएएस अधिकारी एवं कुशल प्रशासक अरुण कुमार सिंह 28 फरवरी को बिहार राज्य के मुख्य सचिव बनाए गए थे कुछ दिनों पूर्व Covid-19 से संक्रमित हुए थे। उनका इलाज पटना के पारस अस्पताल में पिछले 4 दिनों से चल रहा था, परन्तु Covid-19  से ज्यादा दिनों तक जंग नहीं लड़ सके और अंततः जिंदगी और मौत के बीच चल रहे लंबे संघर्ष में मौत ने अरुण कुमार सिंह को शिकस्त दे दी।

Coronavirus Death Update: Covid-19 संक्रमण से झारखंड के दिग्गज नेता लक्ष्मण गिलुआ का निधन

भारतीय जनता पार्टी के पूर्व सांसद और झारखंड के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ Covid-19 से संक्रमित पाए गए जिस कारण उन्हें जमशेदपुर के टाटा मोटर्स अस्पताल में भर्ती किया गया।

Also Read: Registrations for Covid-19 Vaccine Begins: True Devotion Is the Biggest Vaccine 

23 अप्रैल को उनकी हालत ज्यादा बिगड़ने पर उन्हें रेमेडिसिवर की खुराक भी दी, परन्तु ये दवा उनके जीवन को बचाने के लिए नाकाफी साबित हुई अंततः उनकी मृत्यु  हो गयी।

Coronavirus Death Updates India: आइये एक नजर डालते हैं दिल दहलाने देने वाले आंकड़ों पर

भारत में Covid-19 महामारी की दूसरी लहर लोगों पर कहर बनकर टूट रही है। दुनियाभर के करीब 40 फीसदी मामले हर दिन भारत में ही दर्ज किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, बीते 24 घंटों में 19,45,299 नए नमूनों का परीक्षण किया गया जिनमें से 4,01,993 रिकॉर्ड नए कोरोना केस दर्ज किए गए और 3523 संक्रमितों ने जान गवाईं है। हालांकि 2,99,988 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं। आंकड़ों के अनुसार भारत में अभी तक (30 अप्रैल तक) कुल 28,83,37,385 नमूनों का परीक्षण किया जा चुका है तथा अब तक इस महामारी से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या का आंकड़ा एक करोड़ 91 लाख 64 हजार 969 हो गया है व सक्रिय मरीजों की संख्या का आंकड़ा 32 लाख 68 हजार 710 हो चुका है इस दौरान हुई कुल मौतों की संख्या 2 लाख 11 हजार 853 है।

Haryana Lockdown : हरियाणा के इन 9 जिलों में वीकेंड लॉकडाउन 

वैश्विक महामारी Covid-19 के बढ़ते प्रकोप की चेन को तोड़ने के लिए हरियाणा सरकार ने 9 जिलों पंचकूला, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक, करनाल, हिसार, सिरसा, व फतेहाबाद में शुक्रवार रात्रि 10 बजे से 3 मई सोमवार सुबह 5 बजे तक वीकेंड लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है।

सतगुरु रूपी वैद्य संत रामपाल जी से पाएं सर्व रोगों की दवा सतभक्ति

जग सारा रोगिया रे, जिन सतगुरु वैध न जाणया | जग सारा रोगिया रे ||

परम् संत रामपाल जी महाराज जी अपने अनमोल सत्संगों में बताते हैं कि इस पृथ्वी लोक के प्रत्येक प्राणी को कोई न कोई न दुख है चाहे वह किसी रोग से या महामारी से ग्रसित हो, इन सर्व दुःखों को सिर्फ पूर्ण संत अर्थात सतगुरु रूपी वैद्य ही सतभक्ति रूपी दवा देकर खत्म कर सकता है।

पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी काल बंधन से मुक्त कराने वाले हैं

कबीर, जैसे फन पति (सर्प) मंत्र सुन, राखै फन सकोड़।

ऐसे बीरा मेरे नाम से, काल चलै मुंह मोड़।।

मासा घटे न तिल बढ़े, विधना लिखे जो लेख।

साच्चा सतगुरु मेट कर, ऊपर मारे मेख।।

पूर्ण परमेश्वर कविर्देव जी ने कहा है कि सतनाम से काल ब्रह्म भक्त को हानि नहीं कर पाता है।

आज ही परम संत रामपाल जी महाराज की शरण ग्रहण करें

पंडित गए नरक में, भक्ति से खाली हाथ।

भाग्य से मिले जीव को, परम संत का साथ।।

पूर्वजन्म में किये गए संचित शुभ कर्मों के फल से ही तत्वदर्शी संत के दर्शन होते हैं। वर्तमान में पूरे विश्व में एकमात्र केवल तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज ही हैं जो वास्तविक तत्वज्ञान करा कर पूर्ण परमात्मा की पूजा आराधना बताते है। तो सत्य को जानें और पहचान कर पूर्ण तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से मंत्र नाम दीक्षा लेकर अपना जीवन कल्याण करवाएं। अधिक जानकारी हेतु सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल पर सत्संग श्रवण करें ।

जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से निःशुल्क नाम दीक्षा लेने के लिए कृपया नीचे दिए गए फॉर्म को भरकर आज ही पंजीकरण करें। दुनिया की सबसे अधिक डाउनलोड की जाने वाली सबसे लोकप्रिय आध्यात्मिक पुस्तक जीने की राह आप भी इसे जरूर पढ़ें


Share to the World

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − 8 =