Commonwealth Games 2022 | भारत ने जीते 61 मेडल जिनमें 22 गोल्ड मेडल, दिखा खेलों का उत्कृष्ट प्रदर्शन

spot_img

कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games 2022) के दौरान भारत के हिस्से 22 स्वर्ण, 16 रजत और 23 कांस्य पदक आए हैं। कुल 61 पदकों के साथ भारत चौथे स्थान पर रहा है। पहले स्थान पर ऑस्ट्रेलिया 178 पदकों के साथ, दूसरे स्थान पर इंग्लैंड 175 पदकों के साथ एवं तीसरे स्थान पर कनाडा 92 पदकों के साथ रहा है। आइए जानें भारत को किन खेलों से कितने पदक मिले। 

Commonwealth Games 2022 [Hindi] के मुख्य बिंदु

  • जानिए क्या है कॉमनवेल्थ गेम्स का इतिहास।
  • भारत को मिले विभिन्न खेलों में 22 स्वर्ण पदक।
  • सभी खेलों में दिख रहा भारत का शानदार प्रदर्शन।
  • बर्मिंघम में जारी खेल में लगभग 72 सदस्य देशों ने लिया भाग। भारत की ओर से 213 सदस्य।
  • भारत ने लहराया जीत का परचम।

Commonwealth Games 2022: इतिहास और परंपरा

कॉमनवेल्थ गेम्स को ही राष्ट्रमंडल खेल कहा जाता है। सन् 1930 से प्रत्येक चार वर्ष में इसका आयोजन किया जाता है हालांकि द्वितीय विश्वयुद्ध के समय इसका आयोजन युद्ध के कारणवश नहीं किया गया था। पहले कॉमनवेल्थ गेम्स का आयोजन कनाडा के हैमिल्टन शहर में हुआ था जिसमें कुल 11 देशों ने भाग लिया था। द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद पुनः 1950 में इन खेलों का आयोजन किया गया। इन खेलों को राष्ट्रमंडल खेल या कॉमनवेल्थ गेम्स न कहकर ब्रितानी साम्राज्य खेल (ब्रिटिश एम्पायर गेम्स) कहा जाता था। 1978 में इन्हें कॉमनवेल्थ गेम्स (राष्ट्रमंडल खेल) कहा गया और तब से आज तक इसी नाम से इन्हें आयोजित किया जा रहा है। इन खेलों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल खेले जाते हैं।

Commonwealth Games 2022 [Hindi] : भारत को 40 पदक, तेरह स्वर्ण

Commonwealth Games 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स के चौथे दिन भारत को छठा पदक मिला था। पहला स्वर्ण पदक मीराबाई चानू ने जीता था। अचिंता शेउली ने भारत के लिए वेटलिफ्टिंग में तीसरा स्वर्ण और छठा पदक जीता इससे पहले रविवार को ही जेरेमी लालरिनिंगा ने इतिहास रचते हुए वेटलिफ्टिंग स्वर्ण पदक जीता था। पांचवे दिन महिला लॉन बॉल टीम को एक स्वर्ण पदक एवं पुरुष टेबल टेनिस को एक स्वर्ण पदक मिला है। ततपश्चात क्रमशः सुधीर, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, दीपक पूनिया, रवि दहिया, विनेश फोगाट, नवीन और भविना ने छटवें से नौवें दिन के बीच स्वर्ण पदक जीते। इसके बाद दसवें ग्यारहवें दिन स्वर्ण पदकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई एवं स्वर्ण पदकों की संख्या 13 से 22 हो गई। आइए जानें किस खेल में मिले किसे कौन से पदक।

■ Also Read | Tokyo 2020 Paralympics Games: टोक्यो पैरालंपिक का आगाज, जाने कब शुरू होगा टोक्यो पैरालम्पिक?

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में अब तक की भारत की उपलब्धियां

Commonwealth Games 2022: स्वर्ण पदक- कुल 22

  1. मीराबाई चानू ने महिलाओं की 49 किग्रा भार वर्ग में जीता स्वर्ण पदक।
  2. वेटलिफ्टिंग में अचिंता शेउली ने पुरुषों के 73 वर्गकिलो में वेटलिफ्टिंग में जीता स्वर्ण पदक।
  3. जेरेमी लालरिननुंगा ने भारोत्तोलन (वेटलिफ्टिंग) में दिलाया स्वर्ण पदक।
  4. महिला लॉन बॉल टीम ने जीता स्वर्ण पदक।
  5. पुरुष टेबल टेनिस टीम ने एक स्वर्ण पदक।
  6. रवि दहिया ने फ्रीस्टाइल 57 किलोग्राम भार वर्ग में पहलवानी में स्वर्ण पदक जीता।
  7. सुधीर ने वेटलिफ्टिंग में स्वर्ण हासिल किया।
  8. विनेश फोगाट ने फ्रीस्टाइल 53 किलोग्राम भारवर्ग में पहलवानी में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
  9. नवीन ने फ्रीस्टाइल 74 किलोग्राम भार वर्ग में कुश्ती में स्वर्ण हासिल किया।
  10. पैरा टेबल टेनिस में भाविना को स्वर्ण पदक मिला।
  11. दीपक पूनिया ने कुश्ती में 86 किलोग्राम भार वर्ग से स्वर्ण हासिल किया।
  12.  बजरंग पुनिया ने  65 किलोग्राम भार वर्ग से कुश्ती में स्वर्ण हासिल किया।
  13. साक्षी मलिक ने 62 किलोग्राम भार वर्ग से कुश्ती में स्वर्ण पदक हासिल किया
  14. अमित पंघाल ने बॉक्सिंग में 51 किलोग्राम भारवर्ग से स्वर्ण पदक बॉक्सिंग में जीता 
  15. नीतू घनगस ने 48 किलोग्राम भारवर्ग से बॉक्सिंग में स्वर्ण पदक अपने नाम किया
  16. एलडोज़ पॉल ने एथलेटिक्स में स्वर्ण हासिल किया।
  17. निकहत ज़रीन ने 50 किलोग्राम भारवर्ग से बॉक्सिंग में स्वर्ण हासिल किया।
  18. शरत कमल एयर श्रीजा अकुल की जोड़ी ने टेबल टेनिस मिक्स्ड डबल्स में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
  19. पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
  20. लक्ष्य सेन ने पुरुषों में बैडमिंटन में स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
  21. सात्विक रैंकिरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने बैडमिंटन मेंस डबल्स में स्वर्ण पदक जीता।
  22. शरत कमल ने टेबल टेनिस में स्वर्ण अपने नाम किया

Commonwealth Games 2022: रजत पदक- कुल 16

  • वेटलिफ्टिंग में 55 किग्रा भारवर्ग में संकेत ने रजत पदक जीता।
  • वेटलिफ्टिंग में बिंदियारानी देवी ने 55 किग्रा भार वर्ग में रजत पदक अपने नाम किया।
  • 48 किलोग्राम वर्ग के फाइनल में सुशीला देवी ने जूडो में हासिल किया रजत पदक।
  • वेटलिफ्टिंग (भारोत्तोलन) में 96 किलोग्राम भार वर्ग से विकास ठाकुर ने रजत पदक हासिल किया।
  • मिक्स्ड बैडमिंटन टीम को एक सिल्वर मेडल हुआ हासिल
  • तूलिका मान ने 78 किलोग्राम जूडो में रजत पदक जीता।
  • अंशु मलिक ने कुश्ती में 57किलोग्राम भार वर्ग से रजत पदक जीता।
  • भारत की पुरुष टीम लॉन बॉल्स ने रजत पदक जीता।
  • अविनाश मुकुल साबले ने 3000 मीटर स्टीपलचेज में सिल्वर मेडल हासिल किया है।
  • प्रियंका गोस्वामी ने पैदल वॉक में सिल्वर मेडल हासिल किया है।
  • मुरली श्रीशंकर ने पुरुष लांग जम्प में रजत पदक अपने नाम किया।
  • अब्दुल्लाह अबु बकर ने एथलेटिक्स में सिल्वर मेडल जीता
  • शरत कमल और जी. साथियान की जोड़ी ने मेंस डबल्स टेबल टेनिस में रजत पदक अपने नाम किया
  • सागर ने 92 किलोग्राम भारवर्ग से बॉक्सिंग में रजत पदक जीता
  • पुरुषों की हॉकी टीम ने रजत पदक जीता।
  • महिलाओं की क्रिकेट टीम ने रजत पदक अपने नाम किया

Commonwealth Games 2022: कांस्य पदक- कुल 23 पदक

  1. गुरुराजा ने 61 किग्रा भार वर्ग में 269 किग्रा भार उठाकर कांस्य पदक जीता।
  2. विजय कुमार यादव ने पुरुषों के 60 किलोग्राम भर वर्ग में जूडो कांस्य पदक अपने नाम किया।
  3. वेटलिफ्टिंग में हरजिंदर कौर ने कांस्य पदक के साथ दिन का आखिरी मेडल जिताया।
  4. 109 किलोग्राम भर वर्ग में लवप्रीत सिंह ने कांस्य पदक हासिल किया।
  5. पूजा गहलोत ने कुश्ती में 50 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता।
  6. पूजा सिहाग ने कुश्ती में 76 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता।
  7. पुरुषों में बॉक्सिंग में 57 किलोग्राम वर्ग में मोहम्मद हसमुद्दीन ने कांस्य पदक जीता।
  8. दीपक नेहरा ने फ्रीस्टाइल 97 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक अपने नाम किया।
  9. बॉक्सिंग में 57-60 किलोग्राम भर वर्ग में जैस्मीन ने कांस्य पदक जीता।
  10. दिव्या काकरन ने कुश्ती में 68 किलोग्राम भारवर्ग से कांस्य पदक जीता।
  11. मोहित ग्रेवाल ने कुश्ती में 125 किलोग्राम भारवर्ग से कांस्य पदक जीता।
  12. सौरव घोसाल ने स्क्वैश में कांस्य पदक जीता।
  13. गुरदीप सिंह ने वेटलिफ्टिंग में 109 किलोग्राम भार वर्ग से कांस्य पदक जीता।
  14. तेजस्विन शंकर ने पुरुष हाई जम्प में कांस्य पदक जीता।
  15. रोहित टकास ने बॉक्सिंग में 67 किलोग्राम भारवर्ग से कांस्य जीता।
  16. सोनलबेन पटेल ने पैरा टेबल टेनिस में कांस्य जीता।
  17. भाविना पटेल ने पैरा टेबल टेनिस में कांस्य पदक जीता
  18. संदीप कुमार ने 1000 मीटर रेस वाक में कांस्य पदक अपने नाम किया
  19. अन्नू रानी ने जेवलिन थ्रो में कांस्य आओए नाम किया
  20. दीपिका और सौरव घोषाल की जोड़ी ने स्क्वेश में कांस्य पदक हासिल किया
  21. किदाम्बी श्रीकांत ने बैडमिंटन में कांस्य पदक जीता
  22. त्रिसा जॉली और गायत्री की जोड़ी ने बैडमिंटन में कांस्य हासिल किया
  23. साथियान जी. ने टेबल टेनिस में कांस्य पदक हासिल किया

Commonwealth Games 2022: भारत का योगदान

भारत में पुराने समय से ही खेल खेले जाते रहे हैं। वर्तमान में राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने अपनी जीत का परचम लहराया है और इसे विश्व भर में गौरव का विषय बनाया है। निश्चित रूप से खिलाड़ियों ने एवं उनके प्रशिक्षकों ने बहुत मेहनत की है जिसका नतीजा सामने है। भारत ने अब तक वेटलिफ्टिंग (भारोत्तोलन), कुश्ती एवं बॉक्सिंग में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है व क्रमशः 3, 6, 3 स्वर्ण पदक हासिल किए।

अन्य खेलों का शानदार प्रदर्शन जारी

Commonwealth Games 2022: भारत का प्रदर्शन अन्य खेलों में भी शानदार रहा है। इस बार कॉमनवेल्थ खेलों में शूटिंग शामिल नहीं है। 2018 में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में भारत ने 66 मेडल जीते थे और इस वर्ष 61 मेडल जीते है। 

भारत का उकृष्ट प्रदर्शन

भारत देश प्राचीनतम से ही महापुरुषों का देश कहा है। यहां पर अनेक प्रकार के अनेक प्रकार के खेल होते हैं और खिलाड़ी रहे हैं जो भारत को भिन्न भिन्न खेलों में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर के गौरव दिला रहे हैं। लगभग 213 सदस्यों ने भारत की ओर से राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लिया था। केवल इतना ही नहीं बल्कि भारत भविष्य में विश्व गुरु बनेगा और अपने अध्यात्म का झंडा भी लहराएगा। विश्व को शक्ति का संदेश देने के लिए भारत आगे आएगा इस विभिन्न भविष्यवक्ताओं की भविष्यवाणी में कहा गया है। इसी विषय पर शिकागो सम्मेलन में स्वामी विवेकानंद ने बल दिया था। 

लख चौरासी का खेल

वास्तव में देखा जाए तो मानव जीवन भी एक खेल की ही तरह है। इस खेल में मनुष्य जीवन एक बार मिलता है और बाकी सनी चौरासी लाख योनियों में जीवात्मा चक्कर काट रही होती है। मानव जीवन में व्यक्ति केवल भोजन, आवास और सन्तानोत्पत्ति को मुख्य कर्म समझता है जबकि मानव जन्म का मुख्य उद्देश्य ही मोक्ष हेतु प्रयास करना है। जैसे खेल में सीमाएं एवं मर्यादाएं पहले से तय होती हैं उसी प्रकार मानव जीवन की भी मर्यादाएं एवं सीमाएं तय हैं उन्हीं के आधार पर भक्ति करके व्यक्ति इस लोक में और परलोक में सुख प्राप्त कर सकता है। इस दुनिया के खेल तो चाहे विजेता बना दें किन्तु क्षणिक हैं मनुष्य जन्म का खेल यानी ये जीवन मृत्यु का खेल सदा का है। जिसे किसी ने जीत लिया तो वह विजेता और जो हारा वह चौरासी लाख भिन्न भिन्न योनियों में चक्कर लगाता रहेगा। अधिक जानकारी के लिए देखें सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल

FAQ about Commonwealth Games 2022 in Hindi

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 कितने दिन चला?

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 ग्यारह दिन चला।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत का क्या प्रदर्शन रहा?

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत ने 61 पदक जीते जिनमें से 22 स्वर्ण पदक हैं।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 कहाँ हुए?

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 बर्मिंघम, इंग्लैंड में संपन्न हुए।

कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत कब हुई?

कॉमनवेल्थ गेम्स की शुरुआत 1930 में हुई।

कॉमनवेल्थ गेम्स कितने वर्षों में होता है?

कॉमनवेल्थ गेम्स प्रत्येक 4 वर्षों में होता है।

Latest articles

Lok Sabha Elections 2024: Phase 6 of 7 Ended with the Countdown of the Result Starting Soon

India is voting in seven phases, Phase 6 took place on Saturday (May 25,...

World No Tobacco Day 2023 [Hindi] | विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर जानें कैसे छोड़े तंबाकू की लत?

Last Updated on 26 May 2024 IST| विश्वभर में 31 मई को विश्व तंबाकू...

अवसाद से कैसे बाहर निकलें : अवसाद और चिंता से बचने का इलाज

मानसिक स्वास्थ्य पर आजकल ज्यादा ज़ोर दिया जा रहा है। क्योंकि हम सभी जानते...

Know the True Story About the Origin of Tobacco on World No Tobacco Day 2024

Last Updated on 26 May 2024 IST | Today we are going to share...
spot_img

More like this

Lok Sabha Elections 2024: Phase 6 of 7 Ended with the Countdown of the Result Starting Soon

India is voting in seven phases, Phase 6 took place on Saturday (May 25,...

World No Tobacco Day 2023 [Hindi] | विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर जानें कैसे छोड़े तंबाकू की लत?

Last Updated on 26 May 2024 IST| विश्वभर में 31 मई को विश्व तंबाकू...

अवसाद से कैसे बाहर निकलें : अवसाद और चिंता से बचने का इलाज

मानसिक स्वास्थ्य पर आजकल ज्यादा ज़ोर दिया जा रहा है। क्योंकि हम सभी जानते...