देशद्रोह वाले केस की सुनवाई अब 15 मई को।

18 मार्च दिन सोमवार को हिसार के सेंट्रल जेल नम्बर 1 में FIR नम्बर 428(देशद्रोह) कि पेशी हुई जिसकी अगली तारीख अदालत ने 15 मई निर्धारित की, हम आपको बता दें कि सन 2014 में सतलोक आश्रम से लगभग 900 से ज्यादा लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया और संत रामपाल जी समेत धारा 428 का मुकदमा दर्ज किया था।

समर्थकों से भरा रहा हिसार शहर।

संत रामपाल जी और 942 समर्थको की पेशी के चलते कल पूरा हिसार शहर संत रामपाल जी के अनुयायियों से भरा रहा टाउन पार्क ,मटका चौक पार्क,ग्रीन पार्क, डाबड़ा पुल के नीचे समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा।

यातायात व्यवस्था रही सुगम।

समर्थकों के चलते हिसार शहर में काफी भीड़ हो गई जिससे प्रशासन को सचेत रहना पड़ा जिससे यातायात प्रभावित न हो, वैसे भी इनके कारण कोई यातायात की समस्या नही रही तारीख पूरी होते ही समर्थक अपने घर वापस लौटने लगे।

समर्थकों से हुई बातचीत।

हमारी टीम ने समर्थकों से बातचीत की जिसमें समर्थकों ने बताया कि सतलोक आश्रम बरवाला प्रकरण के दौरान 942 अनुयायियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया और उनपर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर दिया जो कि किसी भी सूरत पर नही बनता पुलिस में झूठा केस बनाया था जिसका साक्ष्य आज तक वो जुटा नहीं पाई जिसके कारण अदालत उन्हें चार साल से तारीख पर तारीख देती चली जा रही है।

Hisar news