Bihar Board 12th Result 2021: मनुष्य जीवन की विचित्र परीक्षा कैसे पास करें?

Date:

Bihar Board 12th Result 2021: बिहार के विद्यार्थियों को जिस समय का इंतजार था, वह आज आ ही गया है । जी हाँ बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षा के परिणामों का इंतजार अब खत्म हो गया है। बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) ने 26 मार्च शुक्रवार को इंटर की परीक्षा का परिणाम  जारी कर दिया है। मानव जीवन भी एक विचित्र परीक्षा है जिसे केवल आध्यात्मिक शिक्षक ही  पास करा सकते हैं। वर्तमान तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज ही एकमात्र सतगुरु है जो हमें मोक्षदायिनी भक्ति विधि द्वारा पूर्ण लाभ प्रदान कर सकते हैं।

BSEB Bihar Board 12th Result 2021: मुख्य बिंदु

  • बिहार बोर्ड ने (BSEB) 12वीं कक्षा परीक्षा 2021 का परिणाम 26 मार्च को घोषित कर दिया है
  • शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी द्वारा 3 बजे परीक्षा परिणाम जारी किए गए हैं
  •  biharboardonline.bihar.gov.in वेबसाइट पर परीक्षा परिणाम चेक कर सकते है
  • 7.03 लाख छात्र व 6.46 लाख छात्राओं सहित कुल 13.84 लाख बच्चों ने परीक्षा में भाग लिया
  • सर्वप्रथम बोर्ड परीक्षा पूर्ण करा कर जल्द ही परीक्षा परिणाम घोषित करने वाला बिहार पहला राज्य बना
  • सभी स्ट्रीम विज्ञान, आर्ट (कला), कॉमर्स  के लिए एक साथ रिजल्ट जारी किया है
  • कॉमर्स स्ट्रीम में सुनन्दा कुमारी, साइंस स्ट्रीम में सोनाली कुमारी एवं आर्ट्स स्ट्रीम में मधु भारती और कौशल कुमार ने प्रथम स्थान प्राप्त किया  
  • मानव जीवन एक विचित्र परीक्षा है जिसे केवल आध्यात्मिक शिक्षक ही पास करा सकते हैं

BSEB Bihar Board 12th Result 2021: शुक्रवार 26 मार्च को इंटर की परीक्षा का रिजल्ट जारी 

बिहार के बच्चों को जिस समय का इंतजार था, वह आज आ ही गया है। जी हाँ बिहार बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षा के परिणाम का इंतजार अब खत्म हो गया है। बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) ने 26 मार्च शुक्रवार को इंटर की परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है। इंटरमीडिएट परीक्षा का रिजल्ट शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी द्वारा दोपहर 3 बजे पटना स्थित बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) सभागार से जारी किया गया हैं। दूसरी ओर इस मौके पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव संजय कुमार और बिहार बोर्ड (Bihar Board) के अध्यक्ष आनन्द (Anand Kishore) किशोर भी मौजूद रहे।

BSEB Bihar Board 12th Result 2021: जानिए कैसे करें रिजल्ट चेक

बिहार बोर्ड 12वीं के नतीजे आज  घोषित हो गए हैं । सभी बच्चे जानें कि इन स्टेप के द्वारा कैसे करें रिजल्ट चेक:-

  1. आधिकारिक वेबसाइट www.biharboardonline.bihar.gov.in पर जाए।
  2. रिजल्ट लिंक पर क्लिक करें।
  3. रिजल्ट चेक करने हेतु  लिंक पर मांगे गए विवरण को अच्छी तरह भरना है -जैसे रोल नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर या अन्य किसी क्रेडेंशियल्स के जरिए लॉगिन करें ।
  4. जानकारी पूर्ण भरी जाने के बाद आप जैसे ही सबमिट करेंगे आपको तुरंत आपका परिणाम आपकी स्क्रीन पर आ जाएगा।

जाने बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट की परीक्षा के बारे में 

बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट की परीक्षा 1 फरवरी से 13 फरवरी के बीच आयोजित की गई थी। राज्य के 1,443 केंद्रों में इंटरमीडिएट परीक्षा को आयोजित किया गया था। आपको बता दें कि 13.84 लाख बच्चों ने परीक्षा में भाग लिया था जिसमें से कुल 7.03 लाख छात्र और 6.46 लाख छात्राएं शामिल हैं। इस वर्ष परीक्षा जल्द होने के साथ-साथ रिजल्ट भी जल्द ही जारी कर दिया है ।

BSEB Bihar Board 12th Result 2021: बिहार बोर्ड सप्लीमेंट्री की प्रक्रिया को शुरू करेगा

जिन बच्चों ने 2021 की 12वी बोर्ड में भाग लिया है उनके लिए यह जानना जरूरी है कि वे यह भी ध्यान रखें कि रिजल्ट जारी होने के बाद बिहार बोर्ड सप्लीमेंट्री की प्रक्रिया को शुरू करेगा। जिन बच्चों के अंक कम हैं वे इसमें भाग ले सकते हैं।    

कोविड-19 के निर्देशों के अनुसार आयोजित की गई परीक्षा 

परीक्षा कोविड-19 के निर्देशों के अनुसार आयोजित की गई थी। महामारी को देखते हुए पूरे निर्देशों का पालन भी किया गया था। बोर्ड की ओर से जारी गाइडलाइन के अनुसार, परीक्षा के दौरान फेस मास्क पहनना, सामाजिक दूरी रखना और उसके साथ ही सेनेटाइजर उपयोग करना अनिवार्य था।

Also Read: CBSE Revised Date Sheet 2021: 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 की संशोधित डेट शीट जारी 

BSEB Bihar Board 12th Result 2021: बिहार परीक्षा की कुछ अन्य मुख्य बातें 

बिहार बोर्ड परीक्षा (BSEB) द्वारा निर्धारित 12वी परीक्षा में पूरी स्ट्रीम जैसे -विज्ञान,  आर्ट (कला),कॉमर्स  सभी विषयों के लिए एक साथ रिजल्ट जारी किया है ।

  • इस वर्ष में बिहार बोर्ड कक्षा 12वी परीक्षा का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 80.44 रहा,जबकि पिछले  वर्ष 12वी परीक्षा का कुल उत्तीर्ण प्रतिशत 79.76 था ।
  • इस वर्ष 3,61,597 छात्र प्रथम श्रेणी से पास हुए हैं,जबकि दूसरी ओर 5,42,993 द्वितीय श्रेणी से पास हुए हैं
  • 1,41,352 छात्र तृतीय श्रेणी के साथ पास हुए हैं । 
  • 500 में से 471 अंकों के साथ कॉमर्स स्ट्रीम की छात्रा सुनन्दा कुमारी अव्वल रहीं । 
  • साइंस स्ट्रीम की सोनाली कुमारी ने 500 /471 अंकों के साथ सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया । 
  • मधु भारती और कौशल कुमार ने 500/463 अंकों के साथ आर्ट्स स्ट्रीम में परीक्षा में सर्वोत्तम अंक प्राप्त किए ।

आइए जानते है आध्यात्मिक शिक्षा और शिक्षक (पूर्ण गुरु) के बारे में

वर्तमान समय में शिक्षा ने व्यावसायिक रूप ले लिया है। आज लोग इसलिए पढ़ाई करते हैं ताकि उन्हें अच्छी नौकरी प्राप्त हो सके और वे अपने जीवन को अच्छे से जी सके, फिर भी अच्छा व्यवसाय प्राप्त हो जाने मात्र से ही हमारा जीवन सफल नहीं होता है। 

जीवन को सफल बनाने के लिए पूर्ण परमात्मा की पहचान करना बहुत जरूरी है अब बात यह आती है कि पूर्ण परमात्मा की पहचान कहां से की जाए? आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पूर्ण परमात्मा की पहचान हमारे चारों वेदों और सभी शास्त्रों में प्रमाणित ज्ञान से की जा सकती है और उनकी पहचान के लिए हमें शिक्षा की आवश्यकता पड़ती है। वास्तव में असली शिक्षा का ज्ञान यह है कि आप अपने परमात्मा को पहचान ले और सद ग्रंथों से प्रमाणित ज्ञान को समझ लें ।

यह पाठ्यक्रम है आध्यात्मिक ज्ञान का जिसे गीता जी में तत्वज्ञान कहा गया है। इस ज्ञान को यदि मानव नहीं समझता है तो उसका जीवन पशुओं और पक्षियों की तरह ही समाप्त हो जाता है। इसके समझे बिना हमें परमात्मा प्राप्ति का ज्ञान नहीं होगा। इसलिए हमें आध्यात्मिक शिक्षक की खोज कर यह शिक्षा प्राप्त कर मानव जीवन का कल्याण करवाना चाहिए जिसके संकेत श्रीमद्भागवत गीता जी के अध्याय – 15 के श्लोक न. 1 से 4 व 16 और 17 में है

मनुष्य जीवन विचित्र परीक्षा है जिसे आध्यात्मिक शिक्षा से ही पास किया जा सकता है

पूर्ण परमात्मा कबीर साहेब जी कहते है कि :-

मानुष जन्म पाए कर, जो नहीं रटे हरि नाम ।

जैसे कुआ जल बिना, बनवाया क्या काम ।।

परमात्मा समझाते हैं  कि यदि मानव जन्म प्राप्त होते हुए आप भगवान के नाम का सुमरण, सतभक्ति नहीं करते है तो आपका मानव जीवन व्यर्थ है। जैसे मेहनत करके बिन पानी का कुआं बना लिया जाए, वह किस काम का केवल समय बर्बाद हुआ।

हमें जीवन रूपी परीक्षा से यदि पास होकर सारी परेशानियों से पीछा छुड़वाना है तो केवल आध्यामिक गुरु (सतगुरु) की शरण में जाकर उनके बताए गए भक्ति मार्ग के अनुसार ही भक्ति कर मोक्ष प्राप्त कर सकते हैं । अभी भी समय है यदि निकल गया तो पछतावा ही रह जाता है और मानव जीवन हाथ से निकल जाता है। इसलिए  समय रहते सद्गुरु की पहचान करके उनके द्वारा बताई मोक्षदायिनी भक्ति साधना को अपनाकर मोक्ष प्राप्त करने में ही भलाई है। इसके लाभ यह होगा कि यह लोक भी सुखी साथ में परलोक भी सुखदाई होगा ।दुनिया की सबसे अधिक डाउनलोड की जाने वाली सबसे लोकप्रिय आध्यात्मिक बुक जीने की राह आप भी इसे जरूर पढ़ें

तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा लेकर कल्याण कराएं 

वर्तमान में पूरे विश्व में एकमात्र केवल तत्वदर्शी संत रामपाल  महाराज जी ही हैं जो वास्तविक तत्वज्ञान करा कर पूर्ण परमात्मा की पूजा आराधना बताते है। वह पूर्ण परमात्मा ही है जो हमें धन वृद्धि कर सकता है,सुख शांति दे सकता है व रोग रहित कर मोक्ष दिला सकता है। सर्व सुख और मोक्ष केवल तत्वदर्शी संत की शरण में जाने से सम्भव है। पूर्ण तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज से मंत्र नाम दीक्षा लेकर अपना जीवन कल्याण करवाएं । अधिक जानकारी के हेतु सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल पर सत्संग श्रवण करें, जीने की राह पुस्तक पढ़ें और शाम 8:30 से साधना चैनल पर मंगल प्रवचन  सुने । जगतगुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज जी से मुफ्त नाम की दीक्षा लें

SA NEWS
SA NEWShttps://news.jagatgururampalji.org
SA News Channel is one of the most popular News channels on social media that provides Factual News updates. Tagline: Truth that you want to know

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × five =

Share post:

Subscribe

spot_imgspot_img

Popular

More like this
Related