Bengal Train Accident in Hindi | पश्चिम बंगाल में ट्रेन नंबर 13174 (सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस) के साथ हुआ दिल दहला देने वाला हादसा 

spot_img

Bengal Train Accident in Hindi: पश्चिम बंगाल (West Bengal) में सियालदह जाने वाली कंचनजंगा एक्सप्रेस भयानक हादसे का शिकार हो गई है। लोगों में अचानक हड़कंप मच गया, जब मालगाड़ी ने कंचनजंगा एक्सप्रेस को पीछे से बहुत तेज़ टक्कर मारी। यह टक्कर इतनी तेज़ थी कि मालगाड़ी की लगभग तीन बोगियां पटरी से उतर गई।

Bengal Train Accident in Hindi: कहां और कैसे हुआ हादसा?

यह हादसा सोमवार को लगभग सुबह 8:30 बजे हुआ। पश्चिम बंगाल में सियालदेह जाने वाली ट्रेन नंबर 13174 (सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस) जलपाईगुड़ी के पास हादसे का शिकार हो गई। इस हादसे का कारण मालगाड़ी का कंचनजंगा एक्सप्रेस से पीछे से टकराना बताया जा रहा है। सूत्रों की माने तो यह टक्कर इतनी भयानक थी कि मालगाड़ी की तीन बोगियां पटरी से उतर गई और कुछ बोगियां हवा में लहरा गई। इस हादसे के कारण लोगों में भगदड़ मच गई।

आए दिन कोई न कोई रेल हादसा होता ही रहता है। इसका खामियाजा मासूम लोगों को भुगतना पड़ता है। सियालदेह कंचनजंगा एक्सप्रेस हादसे में लगभग 9 लोगों ने अपनी जान गंवा दी, जिसमें 2 रेलवे कर्मचारी भी शामिल हैं। सूत्रों की माने तो पैसेंजर ट्रेन के गार्ड और मालगाड़ी के ड्राईवर की इस हादसे में मौत हो गई। इसके अलावा लगभग 60 लोगों के घायल होने की संभावना बताई जा रही है। 

Bengal Train Accident in Hindi: इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने PMNRF में से मृतकों के परिजनों को 2 लाख मदद देने का ऐलान किया है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने अनुग्रह राशि में से मृतकों के परिजनों के लिए 10 लाख और गंभीर रूप से जख्मियों के लिए 2.5 लाख और मामूली घायलों को पचास हज़ार रुपए देने का ऐलान किया है। 

इस हादसे के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी और टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने इस हादसे का दुख जताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी पर निशाना साधा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जी ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और इस हादसे पर शोक जताया।

सूत्रों की माने तो यह घटना जलपाईगुड़ी से लगभग 11 किलोमीटर दूर सोमवार को सुबह 8:30 घटित हुई। इस घटना का मुख्य कारण मालगाड़ी के चालक द्वारा टीए 912 का उल्लंघन करना बताया जा रहा है।

■ यह भी पढ़ें: Andhra Pradesh Train Accident [Hindi]: आंध्र ट्रेन दुर्घटना में 13 की मौत, 50 घायल, मानवीय भूल के कारण टक्कर की आशंका

बताया जा रहा है कि ट्रेन नंबर 13174 यानि कि सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस रंगापानी स्टेशन से लगभग सुबह 8:27 पर चली थी। रेलवे अधिकारी ने बताया कि सुबह लगभग 8:42 पर एक मालगाड़ी जीएफसीजे भी रंगापानी से ही रवाना हुई थी। कंचनजंगा एक्सप्रेस, जो कि ऑटोमेटिक सिस्टम खराब होने के कारण रानीपतरा स्टेशन के बीच रुकी हुई थी, को मालगाड़ी ने पीछे से टक्कर मार दी जिसके कारण रेलगाड़ी की तीन बोगियां पटरी से उतर गई।

Bengal Train Accident in Hindi: रेलवे अधिकारी ने कहा है कि मालगाड़ी के चालक ने टीए 912 को अनदेखा किया। इसके अनुसार चालक को प्रत्येक सिग्नल पर ट्रेन 1 मिनट के लिए रोकनी थी, लेकिन वो तेज़ गति से मालगाड़ी को आगे बढ़ाता गया। लेकिन लोको पायलट के संगठन ने रेलवे के इस बयान का विरोध किया है। 

  • KIR आपातकालीन सहायता डेस्क नंबर- 6287801805
  • वाणिज्यिक नियंत्रण- 9002041952, 9771441956
  • एनजेपी स्टेशन आपातकालीन नंबर- 6287801758
  • (एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन) एआरटी/न्यू जलपाईगुड़ी (एनजेपी)- 9434085300/9434085301/ 6287801742
  • एआरएमई/एनजेपी- 6287801756/9934807885/9608815719
  • अलुआबारी रोड जंक्शन (एयूबी) आपातकालीन नंबर- 8170034235
  • किशनगंज (केएनई) आपातकालीन नंबर- 7542028020 और 06456-226795
  • दालखोला (डीएलके) आपातकालीन नंबर- 8170034228
  • बारसोई (बीओई) आपातकालीन नंबर- 7541806358
  • एसएएमएसआई आपातकालीन नंबर- 03513-265690/ 03513- 265692
  • (एक्सीडेंट रिलीफ ट्रेन)ART/KIR नंबर- 9473198029/9473198026
  • रंगिया डिवीजन हेल्प डेस्क नंबर- रंगिया जंक्शन स्टेशन: 9101095573
  • न्यू बोंगाईगांव स्टेशन: 9435021417/9287998179 और बारपेटा रोड स्टेशन: 9287998173
  • गुवाहाटी हेल्प डेस्क नंबर-गुवाहाटी स्टेशन: 03612731621/03612731622/03612731623
  • एआरएमई/केआईआर 9473198307/ 9473198308/ 9473198309/ 9473198310/6287801752/6287801753/6287801754/628780175

इस दिल दहला देने वाली घटना के बाद लगभग 10 ट्रेनों का रूट बदल दिया है। रेलवे अधिकारियों ने बताया कि न्यू जलपाईगुड़ी, सिलीगुड़ी जंक्शन, बागडोगरा और अलुआबारी रोड मार्ग से कुछ ट्रेनों का रूट बदलना पड़ा जिनमें 22301 हावड़ा- न्यू जलपाईगुड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस, ट्रेन नंबर 12505 कामाख्या-आनंद विहार नॉर्थईस्ट एक्सप्रेस, ट्रेन नंबर 12510 गुवाहाटी-बेंगलुरु एक्सप्रेस आदि शामिल हैं। इतना ही नही इस हादसे के बाद इन रूटों पर आने वाली ज्यादातर ट्रेनें रद्द कर दी गई।

वर्तमान युग में विश्व में हाहाकार मची हुई है। मनुष्य को आए दिन युद्ध, भीषण आग, भयानक रोग, रेल दुर्घटना जैसी घटनाओं का सामना करना पड़ रहा है। इसका मुख्य कारण मानव का आध्यात्मिकता से दूरी है। इन मुसीबतों से सच्चे संत की शरण ग्रहण करके उनके बताए अनुसार भक्ति करके ही बचा जा सकता है। वर्तमान में केवल संत रामपाल जी महाराज ही एक ऐसे संत हैं, जो सच्चा आध्यात्मिक ज्ञान प्रदान कर रहे हैं। अधिक जानकारी के लिए आप संत रामपाल जी महाराज ऐप डाउनलोड करें।

प्रश्न 1 ट्रेन नंबर 13174 (सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस) ट्रेन हादसा कब और कहां हुआ?

उत्तर: ट्रेन नंबर 13174 (सियालदह कंचनजंगा एक्सप्रेस) ट्रेन हादसा सोमवार सुबह लगभग 8:30 बजे जलपाईगुड़ी से लगभग 11 किलोमीटर दूर घटित हुआ।

प्रश्न 2 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने PMNRF में से मृतकों के परिजनों को कितनी मदद देने का ऐलान किया है?

उत्तर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने PMNRF में से मृतकों के परिजनों को 2 लाख देने का ऐलान किया है।

प्रश्न 3 रेल मंत्री अश्विन वैष्णव ने अनुग्रह राशि में से मृतकों के परिजनों के लिए कितनी राशि देने का ऐलान किया है?

उत्तर: रेल मंत्री अश्विन वैष्णव ने अनुग्रह राशि में से मृतकों के परिजनों के लिए 10 लाख और गंभीर रूप से जख्मियों के लिए के लिए 2.5 लाख और मामूली घायलों के लिए 50 हज़ार का ऐलान किया है।

प्रश्न 4 विश्व में शांति कैसे आ सकती है?

उत्तर: विश्व में शांति तत्वदर्शी संत से दीक्षा लेकर भक्ति करने से ही आ सकती है।

निम्न सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म पर हमारे साथ जुड़िए

WhatsApp ChannelFollow
Telegram Follow
YoutubeSubscribe
Google NewsFollow

Latest articles

Guru Purnima 2024 [Hindi]: गुरु पूर्णिमा पर जानिए क्या आपका गुरू सच्चा है? पूर्ण गुरु को कैसे करें प्रसन्न?

Guru Purnima in Hindi: प्रति वर्ष आषाढ़ की पूर्णिमा के दिन को गुरु पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। गुरु पूर्णिमा 13 जुलाई, शुक्रवार को आषाढ़ माह की पूर्णिमा के दिन भारत में मनाई जाएगी। गुरु पूर्णिमा के अवसर पर हम गुरु के जीवन में महत्व को जानेंगे साथ ही जानेंगे सच्चे गुरु के बारे में जिनकी शरण में जाने से हमारा पूर्ण मोक्ष संभव है।  

Gonda Train Accident: चंडीगढ़ डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस के 14 डिब्बे उतरे पटरी से, तीन की मौत, 34 घायल

Gonda Train Accident: चंडीगढ़ से डिब्रूगढ़ जा रही 15904 एक्सप्रेस की दुर्घटना गत गुरुवार...

Guru Purnima 2024: Know about the Guru Who is no Less Than the God

Last Updated on18 July 2024 IST| Guru Purnima (Poornima) is the day to celebrate...

Rajasthan BSTC Pre DElED Results 2024 Declared: जारी हुए राजस्थान बीएसटीसी प्री डीएलएड परीक्षा के परिणाम, उम्मीदवार ऐसे करें चेक

राजस्थान बीएसटीसी परीक्षा परिणाम का इंतजार कर रहे छात्रों के लिए एक अच्छी खबर...
spot_img

More like this

Guru Purnima 2024 [Hindi]: गुरु पूर्णिमा पर जानिए क्या आपका गुरू सच्चा है? पूर्ण गुरु को कैसे करें प्रसन्न?

Guru Purnima in Hindi: प्रति वर्ष आषाढ़ की पूर्णिमा के दिन को गुरु पूर्णिमा के रूप में मनाया जाता है। गुरु पूर्णिमा 13 जुलाई, शुक्रवार को आषाढ़ माह की पूर्णिमा के दिन भारत में मनाई जाएगी। गुरु पूर्णिमा के अवसर पर हम गुरु के जीवन में महत्व को जानेंगे साथ ही जानेंगे सच्चे गुरु के बारे में जिनकी शरण में जाने से हमारा पूर्ण मोक्ष संभव है।  

Gonda Train Accident: चंडीगढ़ डिब्रूगढ़ एक्सप्रेस के 14 डिब्बे उतरे पटरी से, तीन की मौत, 34 घायल

Gonda Train Accident: चंडीगढ़ से डिब्रूगढ़ जा रही 15904 एक्सप्रेस की दुर्घटना गत गुरुवार...

Guru Purnima 2024: Know about the Guru Who is no Less Than the God

Last Updated on18 July 2024 IST| Guru Purnima (Poornima) is the day to celebrate...