जम्‍मू-कश्‍मीर में 4G इंटरनेट सेवा चालू करने का निर्णय (4G Internet Restoration in J&K): तत्वदर्शी संत से नाम दीक्षा लेकर पूर्ण परमात्मा से संपर्क स्थापित होने पर किसी अन्य कि जरूरत नहीं. जम्‍मू-कश्‍मीर के लोगों में हर्ष का माहौल है क्योंकि वहाँ प्रशासन ने बहुत बड़ा फैसला लेते हुए लगभग डेढ़ साल बाद पूरे राज्‍य में 4G इंटरनेट सेवा चालू करने का निर्णय लिया है। आपको बता दें कि प्रमुख सचिव (बिजली और सूचना) रोहित कंसल ने शुक्रवार की शाम को यह जानकारी दी। आज पाठक जानेंगे कैसे परमात्मा के साथ हम कनेक्शन जोड़ें जिससे सर्व कार्य सहज में पूर्ण होते हैं।

4G Internet Restoration in J&K: मुख्य बिंदु

  • जम्‍मू कश्‍मीर में 4जी इंटरनेट सेवा बहाल की गई है
  • लगभग डेढ़ साल बाद राज्‍यवासियों को मिली है यह अच्छी खबर
  • आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद 5 अगस्त, 2019 के बाद से यह सर्विस बंद कर दी गई थी
  • यदि हम कनेक्शन परमात्मा के साथ जोड़ लें तो फिर सर्व कार्य सहज में पूर्ण होते हैं

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में हाई स्पीड इंटरनेट सेवा पुनः बहाल

पूरे केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में हाई स्पीड इंटरनेट सेवा पुनः स्थापित कर दी गई है। सरकार की ओर से शुक्रवार की रात तक सभी स्थानों पर यह सेवा सुचारु रूप से कार्य करना प्रारंभ करने का दावा किया गया। राज्यपाल प्रशासन के प्रवक्ता रोहित कंसल ने ट्वीट द्वारा जानकारी दी कि शुक्रवार से पूरे राज्य में 4G इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई हैं ।

4G Internet Restoration in J&K: सरकार ने क्रमबद्ध तरीके से बहाल की सेवाएं

आपको बता दे कि सरकार ने पिछले वर्ष जनवरी में 2G इंटरनेट सेवा प्रारंभ की थी । अगस्त के महीने में कम संवेदनशील इलाकों जिसमे जम्मू के ऊधमपुर और कश्मीर घाटी के गंदरबल जिलों में ट्रायल बेसिस पर 4G इंटरनेट सेवा चालू की थी। सुप्रीम कोर्ट को केंद्र सरकार ने बताया था कि 15 अगस्त के बाद जम्मू-कश्मीर के डिविजन के एक-एक जिले में 4G सेवा प्रायोगिक तौर पर शुरू की गई है और स्थिति का आकलन करके इसे आगे बढ़ाया जाएगा।

जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिया था

6 मई को पुलवामा में मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज नाइकू के मारे जाने के बाद 2G इंटरनेट भी बंद कर दिया गया था । लगभग हफ्ते भर बाद वहां इंटरनेट बहाल किया गया था। भारतीय संसद ने पिछले साल 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 को रद्द कर जम्मू एवं कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिया था।

उसके बाद से ही कश्मीर में इंटरनेट सेवाएं सस्‍पेंड कर दी गई थीं । यहाँ आतंकियों का साया छाया ही रहता है, हर तरफ से कुछ न कुछ बुरा घटित होने का अंदेशा लोग लगाते रहते हैं । डर से लोग जी रहे हैं और प्रार्थना कर रहे हैं कि हमारे शहर-गाँव बिल्कुल सुरक्षित रहें, कोई आतंकी हमला न हो। यह अब देखते हुए सरकार -कोर्ट दोनों के अनुसार कुछ नियमों के साथ हाई स्पीड इंटरनेट सेवा प्रारंभ की जाएगी।

■ यह भी पढ़ें: CBSE Exam Date Sheet 2021: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड [सीबीएसई] परीक्षा समय सारणी 

4G Internet Restoration in J&K: आइए जानते है सिलसिलेवार पूरा घटनाक्रम

केंद्र सरकार ने 5 अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 के तहत पूर्ववर्ती राज्य जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त कर दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को बना दिया था। इसके बाद केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन ने समय समय पर 2G और फिर 4G इंटरनेट सेवाओं को स्थिति को ध्यान में रखते हुए बहाल कर दिया था ।

• जम्मू-कश्मीर राज्य को विशेष राज्य का दर्जा देने और इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बांटने से एक दिन पहले 4 अगस्त, 2019 को सभी इंटरनेट सेवाएं बंद की गईं ।
• प्रशासन ने 18 अगस्त 2019 को लैंडलाइन के उपयोग की अनुमति प्रदान दी।
• जम्मू-कश्मीर राज्य प्रशासन ने 14 अक्टूबर 2019 को पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं बहाल कीं।
• आवश्यक प्रयोजनों के लिए ब्रॉडबैंड सेवाएं 15 जनवरी 2020 को बहाल की गईं
• विशेष उपयोगों के लिए 2G इंटरनेट की अनुमति जनवरी 24, 2020 को दी गई थी लेकिन 4G इंटरनेट सेवाएं पूरे राज्य में प्रतिबंधित रहीं।
• 3 अप्रैल, 2020 को जम्मू-कश्मीर में सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ने के लिए झूठी खबर फैलाने के राष्ट्रविरोधी तत्वों के प्रयासों का हवाला देते हुए हाई-स्पीड इंटरनेट पर प्रतिबंध 15 अप्रैल तक बढ़ा दिया गया। इसके बाद कई बार प्रतिबंध बढ़ाया गया ।
• 9 अप्रैल, 2020 को SC ने केंद्र, जम्मू-कश्मीर से राष्ट्रव्यापी कोविड (COVID-19) लॉकडाउन के बीच 4G सेवाओं की बहाली की याचिका पर जवाब देने को कहा।
• 16 जुलाई, 2020 को प्रतिबंधों की जरूरत की जांच के लिए पैनल का गठन करने की बात को सरकार ने SC को बताया।
• नवंबर में जिला विकास परिषद चुनाव से पहले यूटी प्रशासन ने कश्मीर क्षेत्र में गांदरबल और जम्मू क्षेत्र के ऊधमपुर में 16 अगस्त, 2020 को पोस्टपेड मोबाइल फोन पर हाई-स्पीड इंटरनेट बहाल किया।
• 8 सितंबर, 2020 को सरकार ने गांदरबल, ऊधमपुर से आगे 4G इंटरनेट का विस्तार करने से इनकार किया।
• फ़रवरी 5, 2021 को प्रशासन ने कहा कि 4G इंटरनेट पूरे जम्मू-कश्मीर राज्य में बहाल किया जा रहा है।

पूर्ण परमात्मा से यदि हमारा कनेक्शन बन जाए तो बन जाएं सब बिगड़े काम

मनुष्य इस पृथ्वी पर पल-पल दुखी है। यहाँ हर प्राणी को भय है कि उसकी किसी भी कारण से मौत न हो जाए । वह यह भूल रहा है कि मौत निश्चित होनी ही है। यदि हम चाहते है कि हमारा जीवन सुखद और सुलभ निकले तो इसके लिए केवल एक ही उपाय है वह है सदभक्ति । केवल पूर्ण परमात्मा की सदभक्ति करने से ही हर प्रकार का दुःख-भय का नाश हो सकता है । परमात्मा अपने भक्त पर पल-पल ध्यान देता है और कोई आपदा नहीं आने देता। इस लिए कश्मीर हो या कोई भी अन्य जगह इस पृथ्वी पर, वह पूर्ण भगवान हर क्षण रक्षा करतें है । इसलिए मनुष्य को चाहिए कि वह अन्य सर्व को त्याग कर सदभक्ति प्रारंभ कर दे ।

ज्यों बच्छा गऊ की नजर में , त्यों सांई को संत।

भक्तो की पीछे फिरे, वो भगतबच्छल भगवंत ।।

परमात्मा ने अपने वचन में कहा है कि जैसे गाय की नजर दूर बैठे अपने बछड़े (बच्चे) पर होती है कि कहीं उसको कोई चोट न पहुंचा दे, कोई उसको न ले जाए । इसी प्रकार वह पूर्ण परमात्मा भी अपने भगत पर हर पल नजर टिकाए रहते हैं कि उसको कोई आपदा या दुःख -दर्द न हो जाए ।

जल्द से जल्द पूर्ण परमात्मा से अपना कनेक्शन जोड़ने की करें तैयारी

पूर्ण परमात्मा की शरण में आने के बाद सर्व दुःख दर्द खत्म हो जाते हैं । हमारे ऊपर कोई भी जानलेवा हमला भी क्यों न करे यदि हम सच्चे संत रामपाल जी महाराज से उपदेश लेकर सदभक्ति कर रहे हैं तो कोई भय नहीं रहता है ।

पूर्ण परमात्मा पल में हमारे सर्व पाप नाश कर देता है :

कबीर साहेब कहते है कि-

जबहि सतनाम ह्रदय धरो, भयो पाप को नाश ।
जैसे चिंगारी अग्नि की, पड़ी पुराने घाँस ।।

मालिक का कहना है कि जब आप पूर्ण गुरु से सतनाम प्राप्त करके इसका स्वासों द्वारा सुमरण करोगे तब आपके पाप-कर्म पल में नष्ट होंगे, जिस प्रकार सूखे घास के विशाल ढेर को एक छोटी सी आग की चिंगारी पल में नष्ट कर देती है, उसी प्रकार सतनाम का एक सुमरण भी पल में लाखों – बड़े से भी बड़ा पाप पल में नष्ट कर देता है । इसलिए पूर्ण संत रामपाल जी महाराज की शरण प्राप्त कर सतनाम द्वारा परमात्मा से कनेक्शन जोड़कर अपने सर्व कष्ट, दुःख व भय खत्म कराएं । तो सत्य को जाने और पहचान कर पूर्ण तत्वदर्शी सन्त रामपाल जी महाराज से मंत्र नामदीक्षा लेकर अपने जीवन का कल्याण कराएं ।

श्रीमद्भगवत गीता के अनुसार सद्भक्ति केवल तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज के पास है

वर्तमान में पूरे विश्व में एकमात्र केवल तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज ही हैं जो वास्तविक तत्वज्ञान करा कर पूर्ण परमात्मा की पूजा आराधना बताते है। समझदार को संकेत ही काफी होता है । वह पूर्ण परमात्मा ही है जो हमें धनवृद्धि कर सकता है, सुख शांति दे सकता है व रोगरहित कर आवश्यकतानुसार आयु वृद्धि कर मोक्ष दिला सकता है। सर्व सुख और मोक्ष केवल तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज की शरण में जाने से सम्भव है। अधिक जानकारी हेतु सतलोक आश्रम यूट्यूब चैनल पर सत्संग श्रवण करें, जीने की राह पुस्तक पढ़ें