follow SA NEWS on Google News

Rajya Sabha Elections 2020 Hindi News: आइए जानते हैं Rajya Sabha Election Result 2020 Hindi News Updates; राज्यसभा की 19 सीटों के लिए आयोजित किये गए चुनावों के परिणाम कैसे रहे। सबसे अधिक आठ सीटें भाजपा के पाले में आई हैं। भाजपा और कांग्रेस के बीच कई राज्यों में कड़ी टक्कर रही है लेकिन कांग्रेस 4 सीटें लेने में कामयाब रही। 7 राज्यसभा सीटों पर शुक्रवार को हुई वोटिंग में क्षेत्रीय दलों ने बाजी मारी।

Rajya Sabha Elections 2020: मुख्य बिंदु

  • राज्यसभा चुनाव के परिणाम सामने
  • भाजपा कांग्रेस में रही रोचक टक्कर
  • भाजपा ने अधिकतम सीटें (8 सीटें) अपने पाले में कीं
  • कांग्रेस को मिली 4 सीटें
  • शुक्रवार को हुई थी 19 राज्यसभा सीटों के लिए वोटिंग
  • गुजरात में भाजपा नहीं मनाएगी जीत का जश्न
  • सिंधिया ने किया प्रधानमंत्री मोदी को आभार व्यक्त

Rajya Sabha Elections 2020: जानिए कहां से कौन जीता

Rajya Sabha Elections 2020 Hindi News: सभी 19 सीटों के वोटिंग के परिणाम सामने आ गए है । 19 सीटों में बीजेपी के पक्ष में 8 सीटें आई है। जबकि कांग्रेस को 4 सीटों पर जीत मिली है। बीजेपी को गुजरात में तीन और मध्य प्रदेश में दो सीटें और राजस्थान, झारखंड और मणिपुर राज्यों में एक-एक सीट मिली है। वहीं राजस्थान में कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत हासिल की जबकि गुजरात और मध्य प्रदेश में उसे एक-एक सीट से ही संतोष करना पड़ा है। 4 सीटों पर वाई एस आर कांग्रेस, 1 सीट पर झारखंड मुक्ति मोर्चा, 1 सीट पर मेघालय डेमोक्रेटिक अलायंस (एमडीए), और 1 पर मिजो नेशनल फ़्रंट (एमएनएफ) विजयी रहे हैं।

राजस्थान में कांग्रेस रही आगे

मध्य प्रदेश में बीजेपी तो राजस्थान में सत्ताधारी कांग्रेस नतीजों के मामले में आगे रही है. यहां पर कांग्रेस ने दो सीटों पर जीत हासिल की है। कांग्रेस में खुशी का माहौल है। कांग्रेस के महासचिव केसी वेणुगोपाल राजस्थान से चुनाव जीते हैं, उन्हें 64 वोट मिले, जबकि कांग्रेस के दूसरे उम्मीदवार नीरज दांगी को 59 वोट मिले। जबकि बीजेपी का 1 वोट खारिज कर दिया गया। मतलब यहाँ वोटिंग में कांग्रेस को हुआ फायदा और भाजपा रही पीछे।

गुजरात में 3 सीटों पर भाजपा की जीत

गुजरात की 4 राज्यसभा सीटों पर हुए चुनाव में तीन सीटें भाजपा के हित में और साथ ही एक सीट पर कांग्रेस को मिली जीत। भाजपा उम्मीदवार अभय भारद्वाज, रमिलाबेन बारा और नरहरी अमीन चुनाव जीत गए हैं। कांग्रेस उम्मीदवार शक्ति सिंह गोहिल भी राज्यसभा सांसद चुन लिए गए हैं।

Rajya Sabha Elections 2020: भाजपा नहीं मनाएगी जीत का जश्न

लद्दाख के गलवान घाटी में सैनिकों की शहादत की वजह से भाजपा ने राज्यसभा की तीन सीटें जीतने के बाद भी गुजरात में विजयोत्सव नहीं मनाने का फैसला लिया है। यह समय खुशी मनाने का नहीं है क्योंकि इस समय में शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए गुजरात बीजेपी ने दो दिन तक के अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं। कोई भी कार्यक्रम नहीं मनाया जाएगा।

Rajya Sabha Elections 2020 News: मध्यप्रदेश के नतीजे

Rajya Sabha Elections 2020 Hindi News: नतीजों पर नजर डालें तो यहां भाजपा के हित में दो सीट गई है जबकि कांग्रेस को एक सीट पर जीत मिली है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह राज्यसभा चुनाव जीत गए हैं। जबकि बीजेपी की ओर से ज्योतिरादित्य सिंधिया और सुमेर सिंह सोलंकी चुनाव जीते हैं। यहां पर कांग्रेस के दूसरे उम्मीदवार फूलसिंह बरैया को सिर्फ 36 वोट ही मिले। ज्योतिरादित्य को मिली जीत पर भाजपा कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर दौड़ गई है। कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह को चुनाव में सबसे ज्यादा 57 मत मिले जिसकी खुशी और आभार उन्होंने ट्वीट के माध्यम से व्यक्त किया है।

जीतने के बाद सिंधिया का प्रधानमंत्री मोदी को आभार

राज्यसभा चुनाव में जीत मिलने के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने वीडियो सन्देश के माध्यम से बीजेपी नेतृत्व का बहुत आभार व्यक्त किया । सिंधिया ने कहा

“भारतीय जनता पार्टी के सम्मानीय विधायकों एवं पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का हृदय से आभार। आपने मुझे मेरे गृह प्रदेश से राज्यसभा के लिए चुनकर जो जिम्मेदारी सौपीं है, मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व, गृह मंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के मार्गदर्शन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ मिलकर मध्य प्रदेश की प्रगति और विकास के लिए अपने पूरे सामर्थ्य से निभाऊंगा।”

सिंधिया

यह भी पढें: Daily Hindi News Update : PMC बैंक के ग्राहकों को RBI की बड़ी राहत

साथ ही उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया और COVID-19 पॉजिटिव होने के कारण सबके समक्ष आने में असमर्थता व्यक्त की लेकिन जल्द ही उपस्थित होने का आश्वासन दिया।

Rajya Sabha Elections 2020: राज्यसभा में एनडीए सबसे आगे

राज्यसभा में एनडीए की 90 सीटें थीं जो अब बढ़कर 101 हो गई हैं। राज्यसभा जो कि 245 सीटों का सदन है इसमें बहुमत का आंकड़ा 123 का है जिसमे पहली बार एनडीए के सदस्यों की संख्या 100 के पार पहुंची है। अकेले भाजपा के पास 86 सांसद हैं वहीं कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए के पास इस समय 65 सीटें हैं।

Rajya Sabha Elections 2020: एक नज़र सभी राज्यों और प्रत्याशियों पर

राज्यसभा की 19 सीटों के लिए:गुजरात से 4, आंधप्रदेश से 4, मध्यप्रदेश से 3, राजस्थान से 3, झारखंड से 2, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम से 1 -1 सीटों पर चुनाव आयोजित हुए।

  1. आंध्र प्रदेश – आंध्र प्रदेश में लगातार 4 सीटों पर वाई एस आर कांग्रेस का कब्जा रहा। 151 विधानसभा संख्या बल के साथ वाई एस आर कांग्रेस की जीत निश्चित थी। जीते प्रत्याशी- कांग्रेस- पिल्ली सुभाषचंद्र बोस, मोपीदेवी वेंकट रमन्ना, अयोध्या रामीरेड्डी, परिमाल नाथवानी।
  2. मध्यप्रदेश – राज्य में 3 सीटों पर 2 भाजपा और 1 कांग्रेस के हिस्से में दर्ज हुई। कांग्रेस के उम्मीदवार ने क्रमशः 57 और 36 मतों के साथ जीत हासिल की वहीं सिंधिया ने 56, सुमेर सिंह 55 मतों के साथ जीते। जीते प्रत्याशी- कांग्रेस- दिग्विजय सिंह; भाजपा- ज्योतिरादित्य सिंधिया, सुमेर सिंह सोलंकी
  3. राजस्थान- राज्यसभा के लिए 3 सीटों पर मतदान हुआ जिसमें से 2 सीटों पर कांग्रेस का कब्जा रहा व 1 पर भाजपा ने जीत हासिल की है। राज्य में अब 10 में से 3 कांग्रेस और 7 भाजपा के राज्यसभा सांसद हो गए हैं। जीते प्रत्याशी- कांग्रेस- केसी वेणुगोपाल राय, नीरज डांगी; भाजपा- राजेंद्र गहलोत
  4. झारखंड- राज्यसभा की 2 सीटों के लिए इस राज्य से हुआ चुनाव। कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा। 1 सीट भाजपा और 1 सीट झारखंड मुक्ति मोर्चा के नाम। जीते प्रत्याशी- झामुमो- शिबू सोरेन; भाजपा- दीपक प्रकाश
  5. गुजरात- राज्यसभा की 4 सीटों पर लड़ा गया चुनाव जिनमें से 3 पर भाजपा और 1 पर कांग्रेस का दबदबा। जीते प्रत्याशी- कांग्रेस- शक्ति सिंह गोहिल; भाजपा- रमीलाबेन बारा, नरहरि अमीन, अभय भारद्वाज
  6. मेघालय- मेघालय डेमोक्रेटिक अलायंस द्वारा राज्य सभा की एक सीट के लिए डब्ल्यू आर खरखुली का नाम प्रस्तावित किया। कांग्रेस और के बीच एमडीए को जीत। जीते प्रत्याशी- एमडीए- डब्ल्यू आर खरखुली
  7. मणिपुर- निर्णय कुल मिलाकर भाजपा के पक्ष में रहा है। भाजपा के प्रत्याशी लीसेम्बा ने 28 मतों से जीत हासिल की। जीते प्रत्याशी- भाजपा- लीसेम्बा
  8. मिजोरम- राज्यसभा की एक सीट पर हुआ चुनाव। तीन पार्टियों सत्तारूढ़ मिजो नेशनल फ़्रंट, जोरम पीपुल्स मूवमेंट और कांग्रेस के बीच हुआ मुकाबला। मिजो नेशनल फ्रंट के उम्मीदवार ने 39 में से 27 मतों के साथ जीत हासिल की। जीते प्रत्याशी- एमएनएफ- कनललवेना

क्या यही राजपाट मान बड़ाई के लिए मानव जन्म लिया?

राज पाट और चुनाव आदि जो मान बड़ाई और दर्प पैदा करते हैं, इनसे व्यक्ति मानव जीवन का उद्देश्य भूल कर केवल नेता बना फिरता है। ये सभी कार्य एक सेवा के उद्देश्य से किए जायें तब ही सही। किंतु वास्तविक स्थिति इसके उलट है सेवा के नाम से शुरू ये रुतबे, आलीशान महलों और धन में बदल जाते है।

कबीर साहेब इसके आगे की बात कहते हैं कि राज पाट और स्त्री का प्रेम एक हद तक त्यागना आसान है लेकिन जो आसान नहीं है वह है मान सम्मान की भूख। औरों की नज़रों में ऊपर उठने के लिए व्यक्ति कितने घृणास्पद कार्य करता है, उसे भी होश नहीं रहता।

कबीर, राज तजना सहज है सहज त्रिया का नेह।
मान बड़ाई ईर्ष्या, दुर्लभ तजना ये ।।

ईश्वर विनम्र और झुकने वाले व्यक्तियों के पास होता है। मान सम्मान की भूख से अहंकार का जन्म होता है और फिर ईश्वर उसी क्षण उससे दूर हो जाता है।

मान बड़ाई से हरि दूर, आजिज के हरि सदा हुजूर।

फिर मानव जीवन में क्या करना उचित है?

मानव जीवन का वास्तविक उद्देश्य केवल भक्ति करके मोक्ष प्राप्त करना है अन्यथा इस जन्म के पुण्यों की कमाई खत्म होते ही जानवरों की योनियां तय हैं और तब न तो भक्ति मिलेगी और न ही पार उतरने का मौका। जगतगुरु तत्वदर्शी सन्त रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा लेकर ही कल्याण हो सकता है अन्य सभी भक्ति विधि व्यर्थ हैं।