black day

बरवाला कांड के दिन का काला सच

आज हर आंख फिर भीगी है घाव अभी भी लाल हैं चेहरे काले और यादें सफेद हैं डंडे, लाठियों, आंसू गैस, राकेट बंमो उस दिन छह मासूमों की जान है हर ओर मौत और मातम का मंज़र था वो दिन आज भी आंखों के सामने जीवंत खड़ा है कोई चीख रहा था, तो कोई रो […]

Continue Reading