अब्राहिम अधम सुल्तान को राजा से दास बनाकर सही भक्तिमार्ग पर लगाया कबीर जी ने। अगर हम इतिहास उठाकर देखे तो जितने भी राजा महाराजाओं के जीवन चरित्र हमने पढ़े-सुने सभी ने ऐशो-आराम (मौज) युक्त जीवन बिताया है जबकि राजाओ का धन- धान्य से इतने…